चोदकर लंड बल्ले बल्ले हो गया

Antarvasna, hindi sex kahani:

Chodkar lund balle balle ho gaya मेरी जिंदगी में सब कुछ अच्छा चल रहा था मैं एक कंपनी में जॉब करता था और मेरी जिंदगी बहुत ही अच्छे से चल रही थी लेकिन जब मैंने अपने ऑफिस से रिजाइन दिया तो उसके बाद जैसे मेरी जिंदगी में भूचाल सा आ गया था। मैंने अपनी जॉब से रिजाइन देने के बाद अपना एक बिजनेस शुरू किया जो कि शुरू होने के कुछ समय बाद ही इतने नुकसान में चला गया कि मैं उस नुकसान की भरपाई कर ही नहीं पाया। मेरी लाइफ में कुछ भी ठीक नहीं चल रहा था लेकिन मेरे पापा ने मेरा सपोर्ट किया और उसके बाद उन्होंने मुझे कहा कि बेटा कोई बात नहीं तुम दोबारा से अपनी लाइफ में कुछ नया शुरू करो। मैंने भी सोच लिया था कि अब कुछ समय के लिए मुझे जॉब करनी चाहिए और फिर मैंने एक नौकरी ज्वाइन कर ली। वहां पर मुझे अच्छी तनख्वाह भी मिल रही थी और मैं खुश भी था लेकिन जब मेरी जिंदगी में कावेरी आई तो उसके बाद मेरी जिंदगी में सब कुछ बदलता चला गया।

कावेरी के मेरी लाइफ में आने से मेरी जिंदगी जैसे पूरी तरीके संभल कर रह गई थी क्योंकि कावेरी मुझे बहुत ही ज्यादा सपोर्ट करती और हमेशा मेरे साथ खड़ी नजर आती जब भी मुझे कावेरी की जरूरत होती तो वह हमेशा ही मेरे साथ रहती। एक दिन मैंने कावेरी से कहा कि कावेरी अगर तुम मेरी जिंदगी में नहीं होती तो शायद मेरी जिंदगी इस तरीके से बदल नहीं पाती तुम्हारे आने से मेरी जिंदगी पूरी तरीके से बदल चुकी है और मेरी लाइफ में बहुत ज्यादा बदलाव आ चुके हैं। कावेरी भी इस बात से बहुत ज्यादा खुश थी और मुझे भी काफी ज्यादा अच्छा लगता जब कावेरी मेरे साथ होती कावेरी अपने करियर को लेकर बहुत ही ज्यादा सीरियस थी इसलिए जब कावेरी को अपनी कंपनी की तरफ से इंग्लैंड जाने का मौका मिला तो कावेरी ने मुझसे इस बारे में बात की और वह मुझे कहने लगी कि राहुल क्या मुझे इंग्लैंड चले जाना चाहिए। मैंने कावेरी से कहा कि देखो कावेरी जैसा तुम्हें ठीक लगता है तुम वैसा करो और तुम्हें लगता है कि तुम्हें इंग्लैंड चले जाना चाहिए तो तुम इंग्लैंड चली जाओ।

कावेरी को भी शायद यही ठीक लगा और उसके बाद कावेरी ने फैसला कर लिया कि वह इंग्लैंड चली जाएगी। कावेरी जल्द ही इंग्लैंड चली गई और जब वह इंग्लैंड गई तो मैं कावेरी के बिना अकेला सा हो गया था लेकिन कावेरी और मेरी बातें तो होती ही रहती थी। मुझे लगता कि शायद मैं कावेरी के बिना अधूरा सा हूँ मैं कावेरी को काफी ज्यादा याद किया करता था। कावेरी को काफी समय हो गया था कावेरी अभी तक घर नहीं लौटी थी। मैंने एक दिन कावेरी को कहा कि कावेरी तुम घर आ जाओ तो कावेरी मुझे कहने लगी कि हां राहुल मैं भी यही सोच रही हूं काफी समय हो गया है मैं घर भी नहीं आई हूं। कावेरी भी कुछ दिनों के लिए घर आ गई थी जब कावेरी घर वापस आई तो वह काफी ज्यादा खुश थी कि वह मुझसे मिल पाई वह अपने परिवार के साथ भी बहुत खुश थी। कुछ दिनों तक कावेरी घर पर रही और फिर उसने मुझे कहा कि मैं चाहती हूं कि अब मैं दिल्ली में ही रहूं मैंने कावेरी को कहा लेकिन कावेरी तुम्हारे कैरियर का क्या होगा। वह मुझे कहने लगी कि मेरा करियर तुमसे ज्यादा जरूरी नहीं है और तुम मेरी जिंदगी में बहुत ही अहमियत रखते हो, मैं तुम्हें खोना नहीं चाहती हूं। मैं भी यही चाहता था कि कावेरी अब दिल्ली में रहकर ही कोई काम करें या फिर दिल्ली में ही वह जॉब करे।

कावेरी ने भी अब अपना पूरा मन बना लिया था कि वह दिल्ली में रहकर ही जॉब करेगी और उसने दिल्ली में ही एक कंपनी में इंटरव्यू दिया तो वहां पर कावेरी का सिलेक्शन हो गया। वहां पर कावेरी का सिलेक्शन हो जाने के बाद वह काफी ज्यादा खुश थी कि उसका सिलेक्शन दिल्ली की एक कंपनी में हो चुका है और कावेरी अब दिल्ली में ही रहने लगी थी। मेरे लिए यह बहुत ही ज्यादा खुशी की बात है कि कावेरी दिल्ली में रह रही है कावेरी और मैं एक दूसरे के साथ ज्यादा से ज्यादा समय बिताने की कोशिश किया करते क्योंकि कावेरी से दूर रहकर मैं बिल्कुल भी खुश नहीं था। अब कावेरी भी दिल्ली में ही आ चुकी थी और कावेरी ज्यादातर समय मेरे साथ ही बिताने की कोशिश किया करती थी। जब भी वह मेरे साथ समय बिताने की कोशिश करती तो मुझे काफी ज्यादा अच्छा लगता कावेरी को भी बहुत ज्यादा अच्छा लगता था जब भी हम दोनों साथ में होते। एक दिन मैंने कावेरी से को फोन किया उस वक्त मैं घर पर था मैंने कावेरी से कहा कि आज हम लोग डिनर पर चलते हैं तो कावेरी कहने लगी ठीक है मैं भी यही सोच रही थी काफी दिन हो गए हम लोग साथ में भी नहीं गए हैं।

उस दिन मैं और कावेरी डिनर पर गए उस दिन जब मैंने कावेरी को देखा तो वह बहुत ही ज्यादा सुंदर लग रही थी मैं कावेरी को देखकर बहुत ज्यादा खुश था और कावेर भी मुझे देख कर बहुत ज्यादा खुश थी। वह मुझे कहने लगी कि मुझे बहुत ही ज्यादा अच्छा लग रहा है मैंने कावेरी को कहा मुझे भी तो बहुत ज्यादा अच्छा लग रहा है तुम्हारे साथ इतने समय बाद ही सही लेकिन मैं समय तो बिता पा रहा हूं। हम दोनों ने एक दूसरे के साथ में काफी अच्छा टाइम स्पेंट किया हम दोनों ही बहुत ज्यादा खुश थे। मैं तो इतना ज्यादा खुश था कि मैं सोच भी नहीं सकता था कि कावेरी और मैं इतने लंबे समय बाद साथ में एक अच्छा टाइम स्पेंड करेंगे। मैंने उस दिन कावेरी से कहा कावेरी आज मेरा तुम्हारे साथ समय बिताने का मन है। कावेरी भी मेरी बातों को समझ चुकी थी कावेरी को भी इस से कोई एतराज नहीं था। उस दिन हम दोनों ने साथ में रहने का फैसला किया मैं और कावेरी एक होटल में चले गए और वहां पर हम दोनों ने रूम लिया। जब हम दोनों होटल के रूम में बैठे हुए थे तो मेरे अंदर बहुत ही ज्यादा गर्मी पैदा हो रही थी। मैं सोच रहा था कावेरी के साथ आज सेक्स करूंगा इस बात से मैं बहुत ज्यादा खुश था क्योंकि मैंने कभी सोचा भी नहीं था कि कावेरी के गोरे बदन को मैं अपना बनाऊंगा। मैंने कावेरी को अपनी गोद में बैठने के लिए कहा। कावेरी मेरी गोद में बैठ गई वह जब मेरी गोद में बैठी तो मुझे अच्छा लग रहा था। मेरा लंड खड़ा होने लगा था।

मैंने अपने कपड़े उतार दिए थे और कावेरी को मैंने उसके कपड़े उतारने के लिए कहा तो वह भी मेरे सामने नंगी थी। कावेरी के नंगे बदन को देखकर मुझे अच्छा लग रहा था और कावेरी को भी बहुत ज्यादा अच्छा लग रहा था। वह मेरे लंड की तरफ देख रही थी। जब कावेरी मेरे लंड को हिला रही थी तो मुझे बहुत ही ज्यादा मजा आ रहा था। मैंने कावेरी से कहा मुझे बहुत ही ज्यादा अच्छा लग रहा है तुम मेरे मोटे लंड को अपने मुंह के अंदर ले लो। कावेरी ने मेरे लंड को अपने मुंह के अंदर के समा लिया और वह मेरे लंड को तब तक चूसती रही जब तक उसने मेरे अंदर की गर्मी को पूरी तरीके से बढा नही दिया। कावेरी बहुत ज्यादा खुश थी और मैं भी बहुत ज्यादा खुश था कावेरी और मै एक दूसरे के बदन को अच्छे से महसूस कर रहे थे। अब मैंने कावेरी से कहां मैं तुम्हारी चूत को चाटना चाहता हूं। कावेरी ने मुझे कहा तुम मेरी चूत को चाट लो। मैंने भी कावेरी के दोनों पैरों को चौड़ा कर लिया और कावेरी के दोनों पैरों को खोला तो कावेरी को मजा आने लगा। मैं कावेरी की चूत को चाटता तो मुझे मजा आ रहा था उसे भी बहुत ज्यादा मजा आ रहा था। वह मुझे अपने पैरों के बीच में जकड़ने की कोशिश कर रही थी। जब वह मुझे अपने पैरों के बीच में जकड़ने की कोशिश करती तो मेरे अंदर की गर्मी बढ़ती ही जा रही थी और कावेरी के अंदर की गर्मी भी बहुत ज्यादा बढ़ती जा रही थी। हम दोनों एक दूसरे की गर्मी को बिल्कुल भी झेल नहीं पा रहे थे। मैंने कावेरी की चूत पर एक अपने मोटे लंड को लगाकर अंदर की तरफ को डालना शुरू किया तो मुझे मजा आने लगा और कावेरी को भी मजा आने लगा था। वह मुझे कहने लगी मुझे बहुत ही ज्यादा अच्छा लग रहा है।

कावेरी की चूत की गर्मी बढ़ाने का लगी थी वह एक पल के लिए भी नहीं रह पाई और मुझे कहने लगी मुझसे बिल्कुल भी रहा नहीं जा रहा है। मैंने कावेरी को कहां रहा तो मुझसे भी नहीं जा रहा है। मैंने अब उसकी चूत पर अपने मोटे लंड को लगाकर अंदर की तरफ डालना शुरू किया जैसे ही मेरा मोटा लंड कावेरी के अंदर घुसा तो उसकी चूत से खून निकलने लगा। कावेरी की गुलाबी चूत से खून बाहर की तरफ निकल आया था उसकी सील टूट चुकी थी। कावेरी की चूत से निकलते हुए खून को देखकर मैंने अपने लंड को कावेरी की चूत की दीवार के अंदर तक घुसाना शुरू कर दिया था। जब मैं ऐसा करता तो मुझे बहुत मजा आता। मैंने कावेरी को कहा मुझे बहुत अच्छा लग रहा है तो कावेरी मुझे कहने लगी तुम मुझे बस ऐसे ही चोदते रहो और मेरी इच्छा को पूरा करते जाओ। मैं समझ चुका था कावेरी को बहुत ज्यादा मजा आने लगा है इसलिए मैं कावेरी को लगातार तीव्र गति से धक्के मार रहा था। मेरा लंड पूरी तरीके से छिल चुका था उसके अंदर की गर्मी को मैंने पूरी तरीके से बढा दिया था। कावेरी की चूत के अंदर मैंने अपने माल को गिरा दिया। मेरा माल कावेरी की चूत के अंदर गिर गया मै उसके ऊपर ही लेटा हुआ था। हम दोनों एक दूसरे के होठों को चूम रहे थे और हम दोनों ही एक दूसरे के साथ काफी ज्यादा खुश है। मुझे भी अच्छा लग रहा था मैं बस कावेरी के होठों को चूमता जांऊ। उसके बाद मैने कावेरी को दोबारा चोदा।


Comments are closed.