अन्तर्वासना के चक्कर में गयी नौकरी

Antarvasna ke chakkar me gayi naukari:
हैल्लो मेरे बकरचोद दोस्तों मैं हूँ आपका दोस्त विशेक मैं बहुत ही अच्छा लौंडा हूँ और चुदाई क्रिया में लीन रहता हूँ | दोस्तों मुझे पता है आप सब को भी यही सब पसंद है और मुझे आपको यही बताना है कैसे मैंने अपनी चुदाई लीला आरम्भ की | वैसे पेशे से तो मैं बैंक में मैनेजर हूँ लेकिन दलाली मेरे खून में है और जहाँ मुझे मौका मिले मैं फायदा उठाने से नहीं चूकता चाहे फायदे में चूत ही क्यों न मिले | तो सुनिए दोस्तों आज मैं आपको एक सच्ची कहानी सुनाने जा रहा हूँ | मैंने बहुत चुदाई की है पर इस बार मैंने एक ऐसी लड़की को चोदा जो पहले से ही चुदक्कड़ थी और उसने मेरे साथ बहुत मज़े किये | तो मैं आपको थोडा अपने बारे में बता दूँ | मैं एक जगह नौकरी करता हूँ और वहाँ पे जो एरिया है वहाँ कई सारे माल रहते हैं | मैंने कई बार देखा है लड़के और लडकियां आपस में किस करते रहते हैं | मैंने तो यहाँ तक देखा है कि लड़के लड़कियों के दूध दबाते रहते हैं और लड़कियां चुपके से लौंडों का लंड पकड़ के हिलाती रहती है | मैं जहाँ काम करता हूँ वहाँ सब चूत के प्यासे हैं और सारे लोग हम उम्र हैं | मेरा मतलब सब लोग 25 साल के लगभग होंगे |
तो अब मैं शुरू करता हूँ आपको बताना कि क्या हुआ और कब हुआ | दोस्तों हमारा ऑफिस बहुत मस्त है और वहाँ एक लड़का काम करता है जिसका नाम है अर्पित और वो बहुत मोटा है | पर उसे चूत चोदने का बड़ा शौक है | जो भी लड़की ऑफिस के सामने से जाती वो उसे देखने लग जाता और सब से कहता बाबा देखो माल जा रहा है | सब लोग उसकी बात मानके देखने लगते | पहले तो ठीक था वो सुन्दर लड़कियों की ही बात करता था | कुछ दिनों से वो इतना उत्तेजित रहता था की काम करने वाली माल को भी बोलने लगता बाबा लोग माल जा रही है | हम लोगों को पता चल गया था कि इसको चूत का भूत लग गया है | अब हमलोगों ने काम करने के बाद अर्पित को समझाया कि भाई मुट्ठ मार के काम चला ले | पर वो कहने लगा नहीं मैं तो चूत ही मारूंगा इसकी बहन की चूत | अर्पित की चूत की प्यास बुझ नहीं रही थी और वो कंडोम लेके आगया और बोलने लगा अभिलाष भाई कोई जुगाड़ को बुलवा ले भाई आज उसकी चूत फाड़ डालूँगा | अब बेचारा अभिलाष करता भी तो क्या उसने मना कर दिया भाई आज नहीं है कल जुगाड़ मिल जाएगी तुझे |
हमारे ऑफिस के जो भैया थे वो कहीं गए हुए थे और ऊपर हमारे ऑफिस में एक स्टोर रूम है जो खाली ही रहता है | अर्पित आया और वहाँ से काली सी कचड़ा उठाने वाली औरत निकली | वो बाहर गया और उससे बात करने लगा | उसने उसको पचास रुपये में मना लिया चुदाई के लिए | उतनी देर में एडविन भाई भी आ गए और कहने लगे अर्पित भाई मुझे भी एक कंडोम दे दो मैं भी चोदुंगा | अर्पित ने कहा हट इसकी बहन की चूत मैं ही इसकी चूत को भोसड़ा बनाऊंगा | अब वो औरत बोलने लगी अबे ए मदर चोद सुन चोदना है चोद नहीं तो मैं चली | अब अर्पित ने कहा तेरी बहन की चूत सुन चल आज तेरी मैय्या चोद दूंगा | उसने कहा चल तेरी माँ का चूत मैं ऊपर जा रहा हूँ | मैं भी ऊपर गया और देखने लगा ये गांडू क्या करने वाला है | उसने कचरे वाली के पूरे कपडे निकाल दिए और उसको चूमने लगा | उसने पहले उसके लिप्स पे किस किया और मज़े से उसके दूध दबाने लगा | मैंने जैसे ही ये देखा तो मुझे उलटी आ आगई | मैंने तुरंत अभिलाष को बुलाया और उसके पीछे पीछे एडविन भाई भी आ गए | वो उसके पीछे गए और उसकी पीठ पे अपना लंड रगड़ने लगे | उसके बाद एडविन ने भी उसको चूमना शुर कर दिया और वो तीनो मज़े लेने लगे | उसके बाद मैंने देखा अर्पित उसकी चूत में ऊँगली डाल रहा है और एडविन भाई उसके दूध पी रहे हैं | वो आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः कर रही थी और मज़े ले रही थी | फिर दोनों का लंड खड़ा हो गया और उन्होंने कहा चल रे हमारा लंड चूस | उसने दोनों का लंड बारी बारी चूसना चालु कर दिया और सोनो आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः करने लगे |
थोड़ी देर बाद अर्पित झड़ गया और एडविन भाई अभी तक लगे हुए थे | अर्पित उसकी चूत चाटने लगा और सब वहाँ पे आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः कर रहे थे | वो भी झड़ गयी और उन दोनों ने उसका पूरा माल पी लिया | थोड़ी देर बाद एडविन भाई का भी माल निकल गया | अब अर्पित का लंड खड़ा हो गया और एडविन भैया उसके दूध पीने लगे | अर्पित ने उसको चोदना चालु किया और गाली बकने लगा | बोलने लगा बहनचोद तेरी चूत है की भोसड़ा है | उसने कहा मादरचोद बस चोदते जा मुझे | उसके बाद एडविन भाई ने भी अपना खड़ा लंड उसकी गांड में डाल दिया और अब वो मस्त आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः करने लगी | तोड़ी देर बाद दोनों उसके अन्दर झड़ गए |
करीब 5 मिनट लेटने के बाद दोनों कहने लगे चल रे फिर से हमारा लंड चूस | वो मना करने लगी और कहने लगी और पैसे लुंगी दुबारा करने के | उन्होंने कहा ठीक है ले लेना तो उसने फिर से लंड चालु कर दिया | अब दोनों उचक उचक के अपना लंड चुस्वाने लगे और मज़े लेने लगे | वो लोग बोल रहे थे और चूस जोर से चूस झड़ा दे हमको | वो मस्ती में लंड चूस रही थी और ये लोग खोब सिस्कारिया ले रहे थे | उसके बाद उसने जोर से चूसना चालु किया तब ये दोनों आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः करने लगे | थोड़ी देर बाद दोनों का लंड मस्त टाइट हो गया और अर्पित ने कहा अपनी चूत को इसपे रख और उचकने लग | उसने ऐसा ही किया और पीछे से एडविन भाई ने अपना लंड उसकी ग्तांड में डाल दिया और चुदाई करने लगे | वो तीनो आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः कर रहे थे और मस्ती में चुदाई हो रही थी | थोड़ी देर बाद दोनों झड़ गए उसके बाद वो कचरे वाली अपने कपडे पहनने लगी | वो दोनों भी अपने कपडे पहन के नीचे आ गए | तब तक भैया आ चुके थे और उन्होंने अभी तक किसको कुछ नहीं बोला था |
जैसे ही हम सब नीचे आए उन्होंने कहा क्यूँ आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः की आवाज़ बड़ी पसंद है तो बताओ तुम सबकी गांड मरवा देता हूँ | सब अपना सिर झुका के खड़े थे | भैया ने कहा उन दोनों को सामने बुलाओ | अर्पित और एडविन भाई सामने गए और भैया ने दोनों को पहले तो तरीके से सुनाया और उस औरत को जाने दिया | भैया ने ऊपर कैमरा लगाया हुआ था तो वो कहने लगे क्यूँ बता दूँ पुलिस को या इसको इन्टरनेट पे डाल दूँ | वो दोनों गिडगिडाने लगे और कहने लगे भैया सॉरी माफ़ कर दो | भैया ने उन दोनों को काम से निकाल दिया और पैसे भी नहीं दिए | इसलिए दोस्तों चुदाई और काम में थोडा संतुलन बना के चलना चाहिए नहीं तो स्लिप हो सकती है बात |


Comments are closed.


error: