प्रेगनेन्ट आंटी को चोदा

Pregnant aunty ko choda:

indian aunty हेल्लो दोस्तों कैसे हो आप सभी लोग ? मैं आशा करता हूँ की आप लोग सभी ठीक ही होगे | मैं आज सेक्सी कहानी के पठाको के लिए अपनी एक कहानी को लेकर आया हूँ | दोस्तों ये मेरी पहली कहानी है और मेरी जीवन की सच्ची घटना है | मैं जो आज कहानी आप लोगो के सामने प्रस्तुत करने जा रहा हूँ | मैं उम्मीद करता हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आयेगी और इस कहानी को पढने में आप लोगो को आनंद भी आयेगा | मैं कहानी को शुरू करने से पहले अपने बारे में बता देता हूँ | मेरा नाम हेमंत है | मेरी उम्र 24 साल है | मैं रहने वाला जयपुर का हूँ | मेरी हाईट 5 फुट 3 इंच है और मेरी हाईट के हिसाब से मेरी बॉडी भी ठीक ठाक है | मैं पढाई करता हूँ | दोस्तों मैं चुदाई का बहुत बड़ा आशिक हूँ अगर मुझे कोई जरा सा भी मौका देदे तो मैं उसकी चुदाई कर दूँ | ये कहानी भी इसी ही है तो अब मैं आप लोगो का ज्यादा टाइम न लेते हुए सीधे कहानी पर आता हूँ और मैं साथ में बताता रहूँगा |

ये कहानी अभी कुछ महीने पहले की है जब मैं अपनी पढाई करने के लिए रूम लेकर रहता था | उस टाइम मैं जहा रूम लेकर रहता था | वहां से कुछ दुरी पर एक आंटी रहती थी | मैं अक्सर जब वहां से निकलता तो वो मुझे देखा करती थी और मैं उसको देखकर अपने कॉलेज चला जाता | मैं आप सभी लोगो को आंटी के बारे में बता देता हूँ | आंटी का नाम सोबिया था और उनकी उम्र 30 – 31 साल थी | वो दिखने में बहुत गोरी थी और उनका फिगर कातिलाना था | उनके बूब्स काफी बड़े थे जो ब्लाउज से ऊपर की और निकले रहते थे इसकी वजह थी की वो ब्लाउज बहुत ही कसा पहनती थी | उनकी गांड भी काफी बड़ी थी | दोस्तों मैं सीधे ही बता देता हूँ की उनकी उम्र के हिसाब से वो बहुत सेक्सी थी और मैं इतना कह सकता हूँ की जब उनकी उम्र 18 साल होगी तब उनके बहुत दीवाने हुए होंगे | वो मुझे बहुत अच्छी लगती थी | मैं जब कॉलेज जाता था तो वो मुझे बाहर ही बैठी मिलती थी | मैं उन्हें देखकर स्माइल दे देता और अपने कॉलेज चला जाता | मैं जब आंटी को स्माइल देता तो वो मेरी तरफ देखकर आंख मार देती | मैं उनको ऐसे ही कुछ दिनों तन देखता रहा | आंटी मुझे बहुत अच्छी लगती थी इसलिए मैं उनको लाइन मारा करता था | वो मुझे लाइन मारती थी |

एक दिन की बात है जब मैं आंटी से बात करनी चाही | उस दिन मैंने बहुत हिम्मत अपने अन्दर लाई और उनसे बात करने की कोशिश की पर मैं फिर भी बात नही कर सका | दोस्तों आंटी भी मुझे लाइन मारती थी पर मैं ये सोच रहा था की वो मुझे एक बार मौका दे तो मैं उनसे बात करूँ | फिर जब मैं अपने कॉलेज जा रहा था | उस दिन आंटी ने मुझे रोक लिया और बोली मुझे तुमसे कुछ बात करनी है | मैंने भी कह दिया हाँ बोलो |

आंटी – यहाँ नही अन्दर चलो घर में कोई नही है |

मैं – हाँ चलो | मैं समझ गया था की वो मुझसे पट गयी हैं |

आंटी – यार तुम कहाँ रहतो हो | मैं तुमको बहुत दिनों से देख रही हूँ और मैं तुम्हे बहुत पंसद करती हूँ |

दोस्तों मैंने भी मौके का फायदा उठाते हुए कह दिया आंटी मैं तुमसे प्यार करता हूँ | वो बोली मैं भी पर मैं शादीशुदा हूँ इसलिए तुमसे कहने से डरती थी | मैं और आंटी दोनों ऐसे ही बात कर रहे थे | मैं उस दिन आंटी के साथ उनके घर में बैठ कर बात करता रहा | फिर मैंने आंटी से पूछा आपके पति कहाँ रहते हैं | वो बोली मेरे पति घर ही रहते हैं पर वो कभी कभी काम की वजह से 1 -2 दिन के लिए बाहर जाते हैं | वो आज बाहर गए हुए थे इसलिए मैंने तुमसे बात की | उस दिन आंटी ने मेरा नम्बर ले लिया और कहा मैं तुम्हे रात में फ़ोन करती हूँ | मैं उस दिन आंटी को पटा लिया था | मैं घर चला आया और उस दिन कॉलेज नही गया | उस रात को आंटी ने मुझसे 1 घंटे तक बात की अब मैं उनको अपनी गर्लफ्रेंड समझ कर बात करता था | वो भी मुझसे बाते करती थी | इस तरह से मुझे उनसे बात करते हुए काफी दिन हो गए और मैं एक दिन उनसे मिलने उसके घर पहुच गया | उस दिन उनका पति घर में ही था जिस वजह में वो मुझसे जाने को बोली | दोस्तों मैं इतना रिस्क लेकर उनसे मिलने गया था तो बिना कुछ करे तो आने वाला नही था | मैं उनको दुसरे कमरे में ले गया और उनकी होठो पर अपनी होठो को रख कर चूसने लगा | वो मेरी होठो को चूसने लगी | मैं उनकी होठो को चूसने के साथ उनके मस्त बड़े बूब्स को हाथ को पकड कर मसल रहा था | वो मेरी होठो को चूस रही थी | मैं उनकी होठो को चूसने के साथ उनके ब्लाउज में हाथ को डाल कर उनके बूब्स को दबाने लगा | मैं उनके बूब्स को ऐसे ही कुछ देर तक दबाता रहा | फिर वो मुझसे बोली की तुम जाओ अगर मेरे पति जाग गए तो परेशानी हो जाएगी | मैं कहने लगा नही जागेंगे और मैं ये कहते हुए उनकी चूत में ऊँगली घुसा दी | दोस्तों वो गर्म हो गयी थी पर पति के घर में होने की वजह से मेरा साथ नही दे पा रही थी | फिर वो कुछ देर बाद मुझसे बोली तुम जाओ और किसी दिन कर लेना | मैं उनकी बात मान गया और चला आया | मैं उस दिन मुठ मार कर सो गया |

 

मैं अब कभी कभी रात को उनके घर जाकर उनको किस और दूध दबा आता था क्यूंकि उनके पति के होते सेक्स तो कर नही सकते थे | उसके कुछ दिन बाद की बात है जब मैं उनके घर रात को गया और उस दिन उनके पति घर में नही थे | मैंने उस दिन उनसे सेक्स के लिए कहा तो वो बोली में प्रेगनेन्ट हूँ | मैंने कहा तो क्या हुआ | वो बोली नही फिर काफी करना | मैंने सोचा की आज मौका मिला है और अगर आज छोड़ दिया तो पता नही कब मौका मिलता है | मैं उनकी कोई बात न सुनते हुए हमेशा की तरह उनकी होठो पर अपनी होठो को रख दिया | मैं उनकी होठो पर अपनी होठो को रख कर चूसने लगा | वो मेरा साथ देती हुई मेरी होठो को चूसने लगी | मैं उनकी होठो को चूसने के साथ उनके बूब्स को पकडे के ऊपर से दबाने लगा | वो गर्म सांसे लेती हुई मेरा साथ दे रही थी | मैं उनको ऐसे ही कुछ देर तक किस करता रहा | फिर मैंने उनकी साड़ी उतार दी | मैं उनकी साड़ी को उतारने के बाद मैं उनकी नाभि में किस करने लगा | मैं उनकी नाभि में किस करने के बाद उनका ब्लाउज और पेटीकोट भी खोल दिया जिससे वो मेरे सामने ब्रा और पैंटी में आ गयी | उनका भरा हुआ बदन देख कर मुझसे रहा नही गया और मैंने उनकी ब्रा भी खोल दी | मैं उनकी ब्रा को खोल कर उनके एक दूध को मुंह में रख कर चूसने लगा और दुसरे दूध को हाथ में पकड कर जोर जोर से मसल रहा था | फिर मैंने उनके पहले वाले दूध को छोड़कर दुसरे वाले दूध को मुंह में रख कर चूसने लगा और पहले वाले दूध को हाथ में पकड कर मलसने लगा | मैं उनके दोनों बूब्स को ऐसे ही एक एक करके कुछ देर तक चूसता रहा |

फिर मैंने अपने कपडे निकाल दिया और अपने लंड को उनके हाथ में पकड दिया | वो मेरे लंड को मुंह में रख कर चूसने लगी | वो घुटनों के बल बैठ कर मेरे लंड को चूस रही थी | मैं अपने लंड को ऐसे ही कुछ देर तक चुसाने के बाद मैं अपने लंड को उनके मुंह से निकाल कर उनकी चूत में घुसा दिया | वो ह ह ह ह ह… अ अ अ अ…. हूँ हूँ हूँ हूँ… आ आ आ.. की सिसकियाँ लेने लगी | मैं उनकी चूत में लंड को घुसा कर जोरदार धक्को के साथ चोदने लगा | जब मैं उनकी चूत में जोरदार धक्के मार रहा था तो उनकी चूत से फच फच फच की आवाजे आ रही थी | मैं जब चूत में धक्के मारता तो उनके बूब्स जोर जोर से हिलाते थे | मैं उनके बूब्स को देखकर और तेज स्पीड में धक्को मारने लगा | वो मस्त सेक्सी आवाजे करती हुई चुद रही थी | मैं उनकी चूत में ऐसे ही कुछ देर तक चोदने के बाद मैंने उनकी चूत से लंड को निकाल लिया | फिर उन्हें घोड़ी बना दिया | वो एक घोड़ी की तरह हाथो के बल खड़ी हो गयी | मैं उनकी चूत में पीछे से लंड को डाल कर जोरदार धक्को के साथ अन्दर बाहर करते हुए चुदने लगा | वो अपनी चूत को आगे पीछे करती हुई चुदाई का मज़ा लेने लगी | मैं उनकी चूत में ऐसे ही कुछ देर तक धक्के मारता रहा | फिर मैं उनकी चूत से लंड को निकाल कर झड़ गया | मैं झड़ने के बाद उनकी होठो पर अपनी होठो को रख कर चूसने लगा | मैं उनकी होठो को कुछ देर तक चूसने के बाद अपने कपडे पहन लिए और वो अपने कपडे पहन लिए | फिर मैं अपने घर चला आया |

धन्यवाद…………………


Comments are closed.


error: