ट्रेन का टिकट न होने पर की मस्त लड़की की चुदाई

Train ka dicket na hone par ki mast ladki ki chudai:

loading...

ajnabi ki chudai हेल्लो दोस्तों कैसे हो आप सभी लोग ? मैं उम्मीद करता हूँ की आप सभी लोग ठीक ही होगे | मैं आप लोगो को अपने बारे में बता देता हूँ | मेरा नाम सुरेश है | मेरी उम्र 26 साल है | मैं रहने वाला जयपुर का हूँ | मेरी हाईट 5 फुट 9 इंच है | मेरा लंड 5.5 इंच लम्बा और मोटा 2 इंच है | मैं दिखने में गोरा हूँ और मेरी बॉडी भी ठीक ठाक है जिससें में स्मार्ट भी लगता हूँ | मैं टीटी की जॉब करता हूँ | दोस्तों मैं आज एक कहानी को लेकर आया हूँ | ये मेरे पहेली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना है | वैसे तो मेरे जीवन में बहुत घटना हो चुकी हैं पर मैं आप लोगो के सामने अपनी एक घटना तो प्रस्तुत करने जा रहा हूँ | मैं उम्मीद करता हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आयेगी और मेरी कहानी को पढने में आप लोगो को मज़ा भी आयेगा | मैं आप सभी का ज्यदा समय न लेते हुए सीधे अपनी कहानी पर आता हूँ |

ये कहानी 1 साल पहले की हैं जब मैं ट्रैन में टीटी था और मैं इसलिए अपने घर नही रहता था | मैं चेन्नई में रहता था | वैसे तो मेरे घर में बहुत लोग रहते हैं सिर्फ़ मैं ही अपने घर नही रहता हूँ क्यूंकि मुझे अपनी ड्यूटी भी करनी होती थी | मेरी शादी अभी 8 महीने पहले ही हुई है | मेरी बीबी का नाम सुनीता है और वो दिखने में गोरी है | वो मेरे साथ चेन्नई में ही रहती है |

अब मैं आप लोगो को बता देता हूँ की मैंने कैसे एक लड़की की ट्रेन में मस्त चुदाई की थी | एक दिन की बात है जब मैं ट्रेन में टिकट चेक कर रहा था और फिर मैं एक स्टॉप पर उतर गया | फिर मैं दुसरे डिब्बे में चढ़ गया और उस डिब्बे में टिकट चेक करने लगा | मैं उस डिब्बे में टिकट चेक ही कर रहा था की मुझे एक लड़की टॉयलेट में जाती दिखी पर मैं उस टाइम काफी दूर था और मैं उस पास की सीट के टिकट चेक कर रहा था | फिर मैं कुछ ही देर में टिकट चेक करते हुए उस सीट तक पहुच गया और उस सीट के सारे लोगो का टिकट चेक किया पर वो लड़की अभी भी टॉयलेट से नही आई थी | तब मैं समझ गया की उस लड़की के पास टिकट नही है इसीलिए वो टॉयलेट में जाकर छुप गयी है | मैं जाके चुप चाप टॉयलेट के पास खड़ा हो गया फिर कुछ देर बाद वो लड़की जब टॉयलेट से निकली तो मैंने उससे टिकट माँगा | तब वो लड़की मेरी तरफ देख कर बोली सर टिकट तो नही है तो मैंने उससे कहा तब तो फाइन भरना होगा या जेल जाओ | तब वो लड़की कुछ देर तक ऐसे ही खा=ड़ी रही फिर बोली सर छोड़ दो अगली बार ऐसा नही होगा |

तब मैंने उससे उसका नाम पूछा तो उसने अपना नाम कमला बताया | वो दिखने में गोरी थी बिलकुल दूध की तरह  उसकी उम्र यही 19-20 तक ही थी | उसका मस्त सेक्सी फिगर था और उसके मस्त बड़े गोल बूब्स थे उसके सिवा उसकी बड़ी चौड़ी गांड भी थी जिसको देखकर मेरा लंड खड़ा हो गया | मैंने उससे कहा टॉयलेट में चलो और वो मेरे साथ टॉयलेट में चली गयी | फिर मैंने वहां उसे अपने साथ सेक्स करने को कहा तब उसने मना कर दिया और बोली सर मैं ऐसी लड़की नही हूँ | मैं उसे बोला या मेरा साथ दो या तो जेल जाओ तब वो कुछ देर बाद मान गयी | तब मैंने उसे कस कर अपनी बाँहों में भर लिया और उसके गले में किस करने लगा | वो कुछ देर तक तो चुप चाप खाड़ी रही और सेक्स करने में मेरा साथ नही दे रही थी | तब मैं उसके गले में किस करते हुए उसके कान के पास किस करने लगा | मैं ऐसे ही किस करते हुए उसकी टी शर्ट निकाल दी और वो मेरे सामने ब्रा और पेंट में आ गयी | अब मैं उसके गले में किस करते हुए उसके जिस्म में हर जगह पर अपने हाथ से सहलाने लगा | मैं उसके पुरे जिस्म में किस कर रहा था और मैं उसके जिस्म में ऐसे ही 10 मिनट तक किस करता रहा | वो गर्म हो गयी और मेरे लिपट गयी | मैं उसकी होठो को अपनी ऊँगली से मसलते हुए उसकी होठो पर अपने होठ रख कर उसे किस करने लगा | तब वो भी मेरा साथ देती हुई मेरी होठो को चूसने लगी | मुझे उसकी होठो को चूसने में मज़ा आ रहा था उसकी होठो का स्वाद कुछ मीठा सा था और मैं उसकी होठो को चूस चूस कर उसकी होठो को पी रहा था | मैं उसकी होठो को चूसने के साथ में उसके दूधो को ब्रा के ऊपर से दबा रहा था | मैं उसकी होठो को ऐसे ही कुछ देर तक पीता रहा और फिर उसकी ब्रा को खोल कर मैंने उसके एक दूध को मुंह में भर कर चूसने लगा और दुसरे वाले को अपने एक हाथ में पकड कर दबाने लगा तो उसके मुंह से उई उई हाँ हाँ आ आ आ अआ आहा अह अह उह हु उई मई माई माँ माँ उह्ह……. की सिसिकियाँ लेती हुई मेरे सर को पकड़ कर सहलाने लगी | मैं उसके एक दूध को मुंह में रख कर जोर जोर से दबाते हुए पीने लगा साथ में दुसरे दूध के निप्पल को अपनी ऊँगली से पकड कर मसलने लगा | तब उसके मुंह से और तेज से उई उई आ आ आ ऊ ऊ उ हाँ हं हाँ माँ माँ उई अम्म उई माँ उह्ह ओह्ह्ह ओह्ह माँ….. की सिसिकियाँ लेने लगी | मैं उसके दोनों दूधो को अपने हाथ में पकड कर जोर जोर से मसलते हुए उसके दूध को हिला हिला कर मुंह से उसके निप्पल को कट – कट कर चूसने लगा | तब उसके जिस्म में जैसे आग सी लग गयी हो और वो मेरे लंड को पेंट के ऊपर से मसलने लगी | मैं उसके दोनों दूधो को ऐसे ही 10 मिनट तक निप्पल को चूसता रहा | फिर मैंने अपने कपडे और उसके कपडे दोनों ही निकाल दिए | फिर मैंने अपने लंड को उसके हाथ में पकड़ा दिया और लंड को चूसने को कहा तो उसने पहले तो माना किया तब मैंने उसे फिर से कहा चुसो तो वो मेरे लंड को अपने होठो पर लगती हुई अपने मुंह में रख और निकाल दिया | तब मैंने उसे अपनी आँखों को बंद करने को कहा और वो अपनी आँखों को बंद करके मेरे लंड को अपने मुंह में रख कर चूसने लगी | वो मेरे लंड को आपने मुंह में जर जोर से अन्दर बाहर करती हुई चूसने लगी | मैं उसके सर को पकड कर अपने लंड को उसके मुंह में रख कर धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगा | वो मेरे लंड को ऐसे ही 5 मिनट तक मुंह में रख कर चुसती रही | फिर मैं उसके मुंह से अपने लड़ को निकाल कर उसकी टांगो को फैला कर उसकी चूत में अपने मुंह को घुसा कर चाटने लगा | क्यूंकि मुझे चूत चाटने में बहुत मज़ा आता है | मैं उसकी चूत में अपनी जीभ घुसा कर चाटने लगा | मैं उसकी चूत के दाने को खीच खीच कर चाटने लगा तो उसके मुंह से हुई उई उई उई आ आ आ हाँ हाँ माँ उम् अम्मी हाँ हू…. की सिसिकियाँ लेती हुई अपने बूब्स के निप्पल को पकड कर मसलने लगी | मैं उसकी चूत में ऐसे ही जीभ को घुसा कर चाट रहा था साथ उसकी चूत में उँगलियाँ भी घुसा दी जिससे उसके मुंह से हह उह्ह ओह्ह्ह उह्ह उ आ आ ऊ ऊ उ आ उई हाँ माँ उई माँ उई माँ उई उह्ह्ह अहह……. की सिसिकियाँ लेने लगी | मैं उसकी चूत को ऐसे ही चाटता रहा जिससे उसकी चूत से गर्म पानी की धार निकल पड़ी | फिर मैंने अपने लंड पर थोडा सा थूक लगा कर उसकी चूत के मुंह पर अपने लंड को रख कर उसकी चूत में लंड को घुसा कर उसको चोदने लगा | मैं उसकी एक तांग को अपने कंधे पर रख कर उसकी चूत में नीचे से जोर जोर के धक्के मारते हुए उसकी मस्त चुदाई करने लगा | वो उई उईहाँ हाँ आ आ ऊ आ ऊऊ आ ऊ हाँ माँ उई माँ उई माँ….. करती हुई चुदने लगी | मैं उसकी चूत में ऐसे ही जोरदार धक्को से उसको चुदने लगा तो वो अपनी चूत को हिला हिला कर चुदती हुई मेरा साथ देने लगी और मुझसे बोली और तेज से चोदो मुझे | तब मैं उसकी चूत में धक्को की स्पीड तेज करके चोदने लगा | फिर मैंने उसकी चूत से लंड को निकल कर उसके मुंह में घुसा कर उसको अपने लंड को चुसाने लगा | मैं उसको कुछ देर तक ऐसे ही अपने लंड को चुसाने के बाद उसको सामने खिड़की पकड़ा कर उसको घोड़ी बना दिया और उसके पीछे से चूत में लंड को घुसा कर उसको जोरदार धक्को के साथ चोदने लगा | वो उह्ह उह्ह आ आ आया ऊ ऊ ऊ आह्ह अहह ओह्ह्ह उई माँ उई मा हह माँ हाँ हाँ माँ……. की सिसिकियाँ लेती हुई अपनी चूत को आगे पीछे करती हुई मज़ा लेती हुई चुदने लगी | मैं उसको दोनों दूधो को हाथ में पकड कर दबाते हुए जोर जोर के धक्को के साथ अन्दर बाहर करते हुए चोदने लगा | मैं उसको ऐसे ही जोर जोर के धक्को के साथ उसको चोदता रहा और फिर 20 मिनट की मस्त चुदाई के बाद मेरे लंड ने उसकी गांड पर माल निकाल दिया | फिर मैंने उसे कपडे पहनने के लिया कहा और उसे टिकट देकर छोड़ दिया |

मैं उम्मीद करता हूँ की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आई होगी | कहानी पढ़ाने के लिए धन्यवाद |


Comments are closed.