तेरी चूत की बिरयानी मारू

Teri chut ka biryani maroon:

sex stories in hindi, desi porn stories

मैंने कई बार सेक्स की कहानियाँ पढ़ी है और देखा है की लोग अपनी बंदी को कुत्तों की तरह घोड़ी की तरह या कासी भी चोदते है पर कोई ये नहीं बताता कि लड़की को कैसा लगा असलियत में | मैं हूँ गुड्डू आज आपको सुनाऊंगा अपनी कहानी जो की बड़ी ही रोचक है और सबसे बड़ी बात असली है | मैं बेल्बाग में रहता हूँ और दोस्तों यहाँ कई सारे चकले हैं और मझे रंडी चोदने में बड़ा मज़ा आता है | मैंने कई रंडियों के भोसड़े में आग लगे है क्यूंकि मेरा मद्रासी लंड बहुत बड़ा है और जिस भी भोसड़े में जाता है वो भोसड़ा तड़पने लगता है | मैंने चूत बस एक ही बार मारी है वो भी मेरी बीवी की और तीन बार चोदने के बाद वो भी भोसड़ा ही बन गया था | फिर भी मैं उस भोसड़े को छोडके उससे पानी निकाल लेता हूँ और मेरी बीवी को मेरा माल दो ही जगह पर पसंद है एक उसकी चोट के अन्दर और एक उसकी गांड के अन्दर | मैंने कई बार ये महसूस किया है जब भी आप किसी लड़की के अन्दर अपना माल गिरा देते हो तो वो आपसे प्यार और ज्यादा करने लगती है क्यूंकि उसे आप पर भरोसा हो जाता है | मैंने कई बार ऐसा किया है और देखा भी है इस सब चीज़ का अंजाम | मैं कोई छोटा मोटा इंसान नहीं हूँ मेरी दूकान है और काफी चलती भी है | मुझे ये समझलो आप कि महीने में एल लाख रुपये आराम से कम लेता हूँ तो आप अंदाजा लगा लो कि मेरी दूकान कितनी चलती होगी | सुन्दर बीवी है एक बच्चा भी है पर फिर भी मैं रंडियों को चोदता हूँ ऐसा क्यूँ | दोस्तों इसके पीछे एक बहुत बड़ा कारण ये भी है कि मेरे मैं ग्राहक वही लोग है और मुझे अच्छा धंदा करा देते हैं तो मै भी उनके व्यापार में उनकी थोड़ी बहुत मदद कर देता हूँ | मैंने कभी अपनी बीवी को धोखा नहीं दिया क्यूंकि प्यार तो मैं उससे ही करता हूँ और मुझे उससे कोई भी दिक्कत नहीं है | मैंने उसके लिए आस्मां नीचे लाकर दिया है क्यूंकि वो मेरे साथ तब से है जब मैं सिर्फ एक सब्जी का ठेला लगाता था और उसने कभी ये नहीं कहा कि मुझे आपका काम पसंद नहीं है या ऐसा कुछ |

 

एक बार की बात है मैंने एक रंडी को चोदा था और उसने मुझसे कहा था तुझे बीवी सुन्दर ही मिलेगी और उसकी चूत भी टाइट थी | पर मुझे वो दुबारा मिली नहीं शायद एक बार वाली हो | नहीं होता रहता है बेल्बाग में कॉलेज की लडकियां भाभियाँ सब आती हैं वह पे चुदवाने के लिए और पैसे के लिए | मुझे भी शायद ऐसी कोई मिल गयी थी | तो मैं उस रंडी की बात आपको बताता हूँ जब मैं गया और चकले की मालकिन से पुछा कोई नया माल है क्या तो उसने कहा हाँ अन्दर है तीन नंबर कमरे में च्चाला जा बस एक ही बार वाली है | मैंने भी पैसे दिए और अन्दर चला गया | वो आराम से बैठी थी और सिगार पी रही थी मैंने पुछा बड़े घर की हो तो उसने कहा यार चोदो न जल्दी मुझे और भी बहुत काम है | मैंने कहा तुम्हे तो मैंने बड़े प्यार से चोदना है जानेमन | मैंने पहले उससे खा कि सिगार बुझा दो मेरी सिगरेट पी के देखो | उसने कहा ठीक है फिर मैं उसके ऊपर लेट गया और उसे किस करने लगा जैसे ही उसके होठ मेरे होठ से मिले तो मुझे लगा की वाह क्या स्वाद है इसके होंटों का और मैंने उसे 15 मिनट तक चूसा और वो कह रही थी बड़े ही अच्छे खिलाड़ी हो कैसे किसी लड़की को गरम करना है अच्छे से जानते हो | मैंने कहा हाँ ये तो है और तुम जैसी मिलती भी तो नहीं | फिर मैंने उसका ब्लाउज उतार दिया और जैसे ही उसके दूध को मुह में लिया वो मुझे पकड़ के अपने दूध में दबाने लगी | अच्छे बड़े बड़े दूध थे उसके और मैंने भी कोई कमी नहीं राखी उसके दूध को चूसने में | मैंने तबियत से उसके दूध को चूसा जब तक उसने दो बार अपना माल नहीं गिराया | और वो ऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्ह करने लगी थी और अपनी ऊँगली से ही चूत को सहलाने लगी थी |

 

मैंने कहा अरे मेरी जान और उसका हाथ हटा दिया और उसके बाद मैंने उसकी चूत को चाटना चालू कर दिया | उसने पहले तो खुद पे काबू रखा फिर उसे भी मुझसे ज्यादा जोश चढ़ गया और वो चिल्लाने लगी ऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्ह | वो मुझसे बोल रही थी खा जाओ मेरी चूत को आज बड़े दिनों बाद इतनी गीली हुई है खा जाओ इसे | मैंने भी उसकी चूत को इतना चाटा कि उसने 5 बार मेरे मुह पे पानी गिराया और पेशाब भी कर दी | ऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्ह की आवाजें तो आ ही रही  थी | वो इतनी मस्त हो चुकी थी कि उसने मेरा मुह अपनी चूत के अन्दर डालने की कोशिश की और पागलो की तरह गांड उठा उठा के मेरे मुह में अपनी चूत को भर रही थी | मैंने कहा जाने मन अब मेरी सिगरेट पीलो उसने कहा निकालो अपना लंड बाहर आज तो खा ही जाउंगी | मेरा लंड खड़ा हो गया था और जैसे ही उसने मेरी चड्डी उतारी उसने कहा वाह इतना बड़ा इसे तो पूरा खा जाउंगी मैं आज | मैंने उससे कहा इसे सहलाओ तो उसने पहले मेरा लंड अपने दूध के बीच में रखा और मसलने लगी और मेरे लंड के सुपाडे को चाटने लगी और मुझे बड़ा मज़ा आ रहा था इसमें | मैंने कहा रुकना मत बस करती जाओ और मैं भी ऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्ह करने लगा |

 

उसके बाद मैंने उससे कहा मेरे गोटे चाटो तो उसने मेरे गोटे चूसना शुरू किया और क्या मस्त चूस रही थी वो मुझे जानत नज़र आ रही थी | फिर धीरे से उसने मेरा लंड पकड़ा और अपने मुह में डाल लिया | जैसे ही उसने ये किया मैं ऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्ह करने लगा जोर जोर से | मैंने कहा मेरा माल पी जाओ जितना भी निकले | उसने कहा हाँ पी लुंगी सारा का सारा | वो मेरा लंड चूसती रही और मेरा माल उसके मुह में ही गिर गया और मेरा लंड उसके गले तक था तो उसे अन्दर लेने में भी दिक्कत नहीं हुयी | फिर उसने कहा बस अब मेरी चूत को फाड़ दो और मेरी गांड में अपना हथियार पलके उसे मुक्त कर दो | मैंने जैसे ही उसकी चूत पे लंड रखा लंड अपने आप अन्दर चला गया और मैंने एक झटका मारा तो उसकी चूत के और अन्दर चला गया | ऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्ह और चोद बे मेरी चूत को फाड़ दे और २० मिनट तक चोदने के बाद उसकी चूत से पानी की धर बहने लगी थी | वो अब घोड़ी बन गयी थी और उसकी गांड भी इतनी गीली थी की मैंने अपना लंड बड़ी आसानी से अन्दर तक पेल दिया | ऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्ह कर ही रही थी और उतने में मैं झड़ गया | मैंने उसे इतना चोदा कि उसकी चूत और गांड दोनों खुल गये थे और उसने कहा अब मुझे किसी और लंड को देखने की भी ज़रुरत नहीं तुमने काफी अच्छे से छोड़ा है मुझे | इतना कहके वो लंगड़ाते हुए वह से चली गयी और कभी नहीं मिली फिर उसके बाद मेरी शादी भी हो गयी और जैसा की आपको पता है रंडियां तो मैं आज भी चोदता हूँ |


Comments are closed.