Posts Tagged ‘hindi sex story’

चूत चुदाई का खेल खेलना अच्छा था

Antarvasna, sex stories in hindi: Chut chudai ka khel khelna achchha tha मैं अपने मामा जी के घर से वापस लौट रहा था तो रास्ते में मुझे महेश मिला मैंने अपनी मोटरसाइकिल को एक साइड खड़े करते हुए महेश से कहा कि महेश तुम कितने दिनों बाद मुझे मिल रहे हो। वह मुझे कहने लगा […]


गुलाबी चूत लाल हो गई

Antarvasna, hindi sex kahani: Gulabi chut laal ho gayi मैं अपने दोस्त की शादी में जाता हूं। मेरा दोस्त जो चंडीगढ़ में रहता है उसने मुझे अपनी शादी में इनवाइट किया था हालांकि पहले हम दोनों साथ में जॉब किया करते थे लेकिन अब वह चंडीगढ़ में ही रहता है और मैं दिल्ली में रहता […]


मेरे बदन की गर्मी के आगे लोग पिघल जाते

Antarvasna, hindi sex kahani: Mere badan ki garmi ke aage log pighal jaate मेरा एक दिन पिज्जा खाने का बड़ा मन था तो मैंने ऑनलाइन डिलीवरी करवा दी। पिज्जा वाला पिज्जा लेकर आया जब वह पिज्जा लेकर आया तो मैंने उसे पैसा दिए और उसके बाद वह वहां से चला गया। मैं अब पिज्जा खाने […]


पत्नी को नंगा देख लंड उछलने लगा

Antarvasna, hindi sex story: Patni ko nanga dekh lund uchhalne laga मैं अपने ऑफिस के लिए तैयार होकर निकल रहा था तभी मुझे महेश का फोन आया और महेश मुझे कहने लगा कि और भाई तुम अभी कहां हो। मैंने उसे कहा कि मैं तो अभी अपने ऑफिस के लिए निकल रहा हूं वह मुझे […]


भाभी के हाथ की चाय का मजा

Antarvasna, sex stories in hindi: Bhabhi ke hath ki chay ka maja मैं मेरठ का रहने वाला हूं और मेरठ में मैं अपने पिताजी की दुकान को संभालता हूं। हमारी दुकान में हमारे काफी पुराने कस्टमर आया करते है लेकिन मैं चाहता था कि दुकान में मैं कुछ बदलाव करूं क्योंकि समय के साथ दुकान […]


मेरा मन चुदने का होने लगा

Antarvasna, hindi sex kahani: Mera man chudne ka hone laga मेरा नाम रुपाली है मैं इंदौर की रहने वाली हूँ शादी के बाद मैं अपने पति के साथ दिल्ली में रहने लगी। मेरे पति भी इंदौर के ही रहने वाले है परन्तु अपनी जॉब के चलते वह दिल्ली में ही रहते है इंदौर हमारा आना […]


खुशी का ठिकाना ना रहा

Antarvasna, kamukta: Khushi ka thikana na raha रविवार का दिन था और सब लोग घर पर ही थे उस दिन जब दरवाजे की डोर बेल बजी तो मैंने दरवाजा खोला दरवाजे पर मामा जी खड़े थे मामा जी कहने लगे कि संजय बेटा क्या आज तुम घर पर ही हो तो मैंने मामा जी से […]


पेलकर रेल बना दिया

Antarvasna, hindi sex story: मैं रेलवे स्टेशन पर ट्रेन का इंतजार कर रहा था लेकिन ट्रेन अभी आई नहीं थी ठंड का मौसम था इसलिए मैं वहीं पास में एक चाय के स्टॉल में चला गया। मैंने दुकानदार से कहा भैया मेरे लिए कड़क चाय बना देना तो वह कहने लगा ठीक है साहब अभी […]


स्तन पूरे आकार मे थे

Antarvasna, hindi sex story: Stan pure aakar me the सुबह के वक्त मैं मॉर्निंग वॉक पर अपने घर से निकला मैं जब अपने घर से निकला तो मुझे सामने से आती हुई एक लड़की दिखाई दी उसके सुनहरे बाल देख मैं उस पर फिदा हो गया और मैं उसे ही देखता रहा लेकिन मैं उसके […]


वह दिन याद है

Antarvasna, hindi sex story: Wah din yaad hai यह बात कुछ वर्ष पुरानी है उस वक्त मैं अपनी दीदी के साथ रहा करता था उनके पति विदेश में नौकरी करते हैं इसलिए मुझे उनके साथ रहना पड़ा मैं उनके साथ रहकर ही अपनी पढ़ाई पूरी करना चाहता था और जब मेरी पढ़ाई पूरी हो गई […]