स्विमिंग पूल मे सील तोडने का अनुभव

Swimming pool me seal todne ka anubhav:

antavarsna, hindi sex stories मैं एक अमीर घराने से तालुकात रखता हूं मुझे पैसे की कोई कमी नहीं है परंतु उसके बावजूद भी मुझे कई बार ऐसा लगता है कि जैसे मैं आज भी अकेला हूं और मेरे जीवन में प्यार की बहुत ही कमी है। आज से 5 वर्ष पहले मेरी पत्नी ने मुझे तलाक दे दिया था और उसके बाद मेरे साथ कई लड़कियां रिलेशन में रही परंतु उनके साथ भी ज्यादा समय तक मेरा रिलेशन नहीं चल पाया और मुझे ऐसा लगा कि जैसे वह सिर्फ मेरे पैसे के पीछे भाग रही हैं इसीलिए मैंने उन सब से रिश्ता तोड़ लिया और फिर मैं सिंगल ही था लेकिन जब मेरे जीवन में कोमल आई तो मुझे एहसास हुआ कि कोमल जैसी लड़की मिल पाना बहुत ही मुश्किल है मैं उससे अपना बनाना चाहता था। काफी समय बाद हम दोनों एक हो पाई परन्तु उसके बीच में भी कई बाधाएं आई, उन बाधाओं का हम दोनों ने बड़े ही अच्छे से एक साथ मिलकर सामना किया हमने उस वक्त एक दूसरे का साथ दिया।

कोमल से मेरी मुलाकात उस वक्त हुई जब वह मेरे एक दोस्त के ऑफिस में इंटरव्यू देने आई हुई थी, मैंने जब उसे देखा तो वह मुझे बहुत अच्छी लगी और मैंने उसे अपना बनाने की सोच ली लेकिन मेरे सामने यह समस्या थी कि कोमल को मैं अपना नहीं सकता था क्योंकि वह बड़ी सीधी-सादी लड़की है और ज्यादा किसी से भी बात नहीं करती थी, मैंने उससे बात करने की कोशिश की लेकिन उसने मुझसे बात नहीं की और उसके बाद मैंने भी इन सब चीजों को अपने दिमाग से निकाल दिया और मैं अपने काम में ही व्यस्त हो गया, मुझे कोमल के बारे में ज्यादा कुछ जानकारी नहीं थी परंतु एक दिन मुझे जब मेरे दोस्त ने कोमल के बारे में बताया कि उसके मां बाप नहीं है और उसको उसके चाचा चाची ने पाला है इसीलिए शायद उसका नेचर इतना ज्यादा शर्मीला है और वह ज्यादा किसी से बात नहीं करती क्योंकि उसके चाचा चाची बहुत ही ज्यादा लालची किस्म के हैं। मैंने सोचा कोमल से मुझे अब इस बारे में बात करनी चाहिए लेकिन उससे तो मेरी ज्यादा कोई बातचीत नहीं थी इसीलिए उससे मेरी बात हो पाना थोड़ा मुश्किल था परंतु एक दिन उससे मेरी बात हो ही गई और धीरे-धीरे हम दोनों बात करने लगे, वह सिर्फ मुझसे इतनी ही बात करती जितना मैं उससे पूछा करता थी उससे अधिक वह मुझे कुछ भी नहीं बताती थी। एक दिन वह बहुत ज्यादा उदास होकर बैठी थी उस दिन जब मैंने उससे पूछा कि आखिरकार तुम इतनी उदास क्यों बैठी हुई हो? उसने मुझे बताया कि मेरे चाचा चाची ने मुझे किसी व्यक्ति के साथ शादी करने को बोला है और उन व्यक्ति की उम्र 50 वर्ष है।

मैं यह सुनकर बड़ा ही शॉक्ड हो गया, मैंने उसे कहा क्या तुमने अपने चाचा से इस बारे में बात नहीं की? वह कहने लगी मैं उनसे बात कैसे करती उन व्यक्ति ने शायद उन्हें पैसे का लालच दिया होगा इसी वजह से उन्होंने उससे मेरी शादी करवाने के बारे में सोचा है, मेरा जीवन तो अब पूरी तरीके से बर्बाद हो चुका है, मैंने बचपन से जो भी खुशियां अपने दिल में पाली थी वह मुझे आज तक नहीं मिल पाई। जब उसने मुझे यह बात कही तो मैंने उसी वक्त सोच लिया था कि मैं अब कोमल की हर खुशियों को पूरा करूंगा और उसकी हर एक जरूरत को मैं पूरा करूंगा, मैं उसके चाचा चाची से भी मिला वह लोग बड़े ही लालची किस्म के हैं और उनके लिए तो जैसे कोमल एक लॉटरी थी और जिस व्यक्ति से वह कोमल का रिश्ता करवा रहे थे वह काफी पैसे वाला था लेकिन मैंने भी उन्हें उससे अधिक पैसे दे दिए और अब वह मुझसे कोमल का रिश्ता करवाने के लिए तैयार हो गए लेकिन मैं नहीं चाहता था कि मैं कोमल को इस बारे में कोई जानकारी दूँ या फिर उसे ऐसा लगे कि मैंने उसके साथ जबरदस्ती की है, मैं पहले उसके दिल में जगह बनाना चाहता था और मैंने उसके दिल में जगह बनानी शुरू कर दी, मैं उसकी हर एक जरूरतों को पूरा कर दिया करता, वह मेरे साथ समय बिताने लगी थी मेरे लिए तो यह कोई सपना पूरा होने जैसा था क्योंकि उसकी जैसी लड़की मिलना मेरे लिए बहुत खुशी की बात थी।

धीरे-धीरे हम दोनों में नजदीकियां बढ़ने लगी और जब उसे इस बात का पता चला कि कोमल के चाचा मुझसे उसका रिश्ता करवाना चाहते हैं तो कोमल को यह बात बिल्कुल नागवार गुजरी और उसने मुझसे काफी समय तक बात नहीं की परंतु जब मैंने उसे समझाने की कोशिश की तो वह मेरी बात नहीं समझ रही थी और मैंने जब उसे यह बात कही कि मैंने तुम्हें जब पहली बार देखा था तो उसी वक्त मैंने तुमसे प्यार कर लिया था और अब मैं तुम्हारे बिना नहीं रह सकता, मैंने उसे अपने जीवन की सारी घटनाओं के बारे में बताया और कहा मेरी पत्नी ने मेरा कभी भी साथ नहीं दिया और उसके बाद भी मेरे जीवन में कई महिलाएं रही लेकिन वह लोग सिर्फ मेरे साथ पैसे के लिए थे परन्तु अब मैं तुमसे हकीकत में प्यार करता हूं और तुम्हारे जैसी लड़की मिलना मुझे लगता नहीं कि शायद संभव हो पाएगा, मैं भी अपने आप को बहुत अकेला महसूस करता हूं, मेरे पास किसी भी चीज की कमी नहीं है लेकिन मेरे पास एक अच्छी लाइफ पार्टनर नहीं है यदि तुम मेरी लाइफ पार्टनर बनो तो मुझे बहुत खुशी होगी, मेरी बातों ने जैसे उसके दिल में जगह बना ली हो और उसके बाद वह भी मुझसे मिलने लगी।

मुझे बहुत खुशी होती की कोमल अब दिल से मुझे चाहने लगी थी, हम दोनों का मिलना भी अब आम हो चुका था। एक दिन मैंने कोमल को एक रिंग दी मैने वह रिंग उसे पहना दी। उस दिन वह बहुत खुश हुई और वह इतनी ज्यादा खुश हो गई कि मुझे उसने अपना बदन ही सौंप दिया। उस दिन वह मुझे कहने लगी हम लोग आपके घर चलते हैं आज वही पर रुकेंगे। जब हम दोनों साथ में गए तो हम दोनों ने एक दूसरे के जिस्म को बहुत देर तक महसूस किया, जब हमारी गर्मी बढ़ने लगी तो मैंने उसके गुलाबी पंखुड़ी जैसे होठों को चूसना शुरू किया वह भी मुझे स्मूच कर रही थी। मेरा लंड एकदम तन कर खड़ा हो चुका था और मुझसे बिल्कुल भी सब्र नहीं हो रहा था क्योंकि इतने लंबे अरसे बाद मैंने किसी के नर्म होठों को चूमा था। वैसे भी कोमल को मैं दिलो जान से चाहता हूं मैंने भी उसके सारे कपड़े उसके बदन से उतार दिए। जब वह मेरे सामने नंगी खड़ी थी तो मैं उसे देखता ही रहा और उसके जिस्म को मैंने ऊपर से लेकर नीचे तक चाटा। जब मैंने उसकी ब्रा को खोलते हुए उसके स्तनों को अपने मुंह में लिया तो उसे बड़ा अच्छा महसूस होने लगा। हम दोनों स्विमिंग पूल मे चले गए, जब हम दोनों  स्विमिंग पूल के अंदर थे तो पानी हमारे कमर तक था। मै उसको बड़े अच्छे से स्मूच कर रहा था जब मैंने अपने लंड को उसकी योनि पर सटाया तो पानी में भी उसकी योनि गर्मी छोड रही थी। मैंने अपने लंड को उसकी योनि के अंदर डाल दिया उसकी योनि से खून की धार बाहर को निकल आई। वह एकदम सील पैक टाइट माल थी मैंने जब कोमल को धक्के देने शुरू किए तो उसकी चूत से लगातार खून बह रहा था, पानी की ठंडक मेरी छाती पर लग रही थी और कोमल की गांड की गर्मी मेरे लंड पर लग रही थी। मैं लगातार उसे धक्के दिए जा रहा था वह अपनी चूतड़ों को मुझसे मिलाने की कोशिश करती लेकिन ज्यादा देर तक वह अपने चूतड़ों को मुझसे मिला ना सकी और जैसे ही मेरा वीर्य उसकी योनि के अंदर प्रवेश हुआ तो उस दिन हम दोनों की इच्छा पूरी हो गई। उसके बाद हम दोनों स्विमिंग पूल में काफी देर तक एक साथ इंजॉय करते रहे। मैं उसके स्तनों को दबा रहा था, वह बहुत ही ज्यादा खुश थी लेकिन स्विमिंग पूल में उसके साथ वह सेक्स मुझे हमेशा याद आता। उसके बाद मुझे स्विमिंग पूल में उसके साथ सेक्स करने का आनंद नहीं मिल पाया लेकिन उसके जिस्म को मैं अभी भी उतना ही ज्यादा प्यार और प्रेम देता हूं जितना पहले करता था। हम दोनों एक साथ ही रहने लगे हैं उसके चाचा चाची को तो कोई आपत्ति ही नहीं है क्योंकि मैंने उनका पैसे से मुंह बंद कर दिया है। कोमल भी मुझे अपने यौवन की गर्मी से हमेशा खुश कर देती है, उसने मुझे कभी भी सेक्स की कमी नहीं होने दी वह मेरी हर एक इच्छा को पूरा करती है। कोमल मेरा इतना ध्यान रखती है और मुझे अब किसी की भी आवश्यकता नहीं है, वह मुझसे प्यार भी बहुत अधिक करती है मुझे कोमल के साथ रहना बहुत अच्छा लगता है।


Comments are closed.


error: