सविता बहू को नंगा कर चोदा

Savita bahu ko nanga kar choda:
नमस्कार दोस्तों, कैसे हैं आप सभी ? मैं आशा करता हूँ कि आप सभी बहुत अच्छे होंगे और सभी चुदाई भरी दुनिया में चुदाई के लिए समय निकाल ही लेते | मेरा नाम पफूलचंद है और मैं सतना में रहता हूँ | मेरी उम्र 53 साल है और मैं दो बेटो का बाप हूँ जिनमे से मेरे एक बड़े बेटे की शादी हो चुकी है | मेरे बड़े बेटे का नाम गौरव है और दूसरे का नाम रवि है | मैं चुदाई की कहानियां बहुत अरसे से पढता आ रहा हूँ और मुझे चुदाई की कहानिया पढना बहुत पसंद है | मेरे दोनों बेटे आर्मी में है और एक शिलोंग में है और दूसरा जम्मू में है | दोस्तों, आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी लिखने जा रहा हूँ ये मेरे जीवन की सच्ची घटना है और मेरी पहली कहानी भी | वैसे तो मैं चुदाई की कहानी का बहुत पुराना पाठक हूँ पर आज मुझे मौका मिल रहा है अपनी कहानी पेश करने का | मैं आशा करता हूँ कि आप सभी को मेरी कहानी जरुर पसंद आयगी | तो अब मैं ज्यादा समय ना लेते हुए कहानी शुरू करता हूँ |
ये बात पिछले साल की है | मेरी पत्नी का देहांत हो चुका है और उसकी मौत को 10 साल हो गए हैं | अब मैं अकेला रहता इसलिए मैंने अपने बड़े बेटे की शादी करवा दिया ताकि अगर वो दोनों काम पर हो तो मेरी देखभाल करने के लिए कोई तो हो | मेरे बेटे की पत्नी का नाम पारवती है और वो दिखने में गोरी है और बहुत सुन्दर दिखती है | उसका फिगर भी बहुत अच्छा है और मैं उसे चोदने का मौका देखता रहता हूँ क्यूंकि मुझे 10 साल से चुदाई करने नही मिली | मैं बस मुठ मार के ही काम चलाता हूँ | लेकिन कब तक मैं मुठ मार के काम चलाता | मेरी बहुत घर में अक्सर गाउन ही पहने रहती है और उसे मेरे घर में किसी भी चीज़ की मनाही नही है | वो जैसे चाहती है वैसे रहती है | उसे डीप गले का गाउन पहनना बहुत पसंद है और जब भी वो मुझे चाय या पानी या खाना देने झुकती तो मैं उसके गोरे गोरे दूध देख कर उत्तेजित हो जाता | मेरा लंड भी खड़ा हो जाता उसे देख कर | मैं उसे चोदना चाहता था पर मुझे वो लाइन ही नही देती थी | मैं बस उसके नाम की मुठ मार कर सो जाता | मेरी यही दिनचर्या रोज चलती | एक दिन मैं नहा रहा था और टॉवल ले जाना भूल गया | मैं नंगा हो कर ही नहाता हूँ | मैंने बहू कह कर आवाज दी और उसे टोवल लाने को कहा | तो उसने कहा अभी लाती हूँ बाबू जी ! थोड़ी देर बाद उसने टॉवल ला कर दरवाजा खटखटाया तो मैंने जैसे ही दरवाजा खोला तो मेरा पैर फिसल गया | उसने मुझे नंगा देख लिया और उसकी नजर मेरे लंड पर आ कर टिक गई जो कि 10 इंच लम्बा और 4 इंच मोटा है | फिर उसने मुझे उठाया और मेरे लंड को देखते हुए बोली आपको लगा तो नही बाबू जी | तो मैंने कहा नही बेटा नही लगा | फिर मैंने अपने लंड को ढांका और उससे माफ़ी माँगी | उसने भी हँसते हुए बोली कि कोई बात नही बाबू जी और फिर चली गई | फिर एक दिन रात में 11 बजे मुझे नींद नही आ रही थी तो मैं कहानी पढ़ते हुए मुठ मारने लगा | तभी अचानक से मेरी बहू आ गई और मुझे मुठ मारते हुए देख लिया | मैं अपना लंड छुपाने लगा और उससे कहा कि बहु ऐसे अचानक से मत आया करो | आवाज दे कर आया करो | पर मेरी बहु के मन में पता नही क्या चल रहा था वो बस मेरे लंड को हाँथ के बीच से देख रही थी | फिर वो मेरे पास आई तो मैंने उससे कहा कि बहु क्या हुआ ? तुम जाओ यहाँ से | मैं अभी काम कर रहा हूँ | फिर उसने कहा कि बाबू जी मुझे पता है आप मुठ मार रहे हैं | मैंने कहा कि ये तुम क्या कह रही हो ? तो वो कहने लगी कि बाबू जी मैं बहुत अच्छे से जानती हूँ कि आपको बहुत समय से चुदाई नही मिली है इसलिए आप को बस एक मुठ मारने का ही सहारा है | तो मैं निराश हो गया | तो उसने कहा कि बाबू जी निराश मत हो मैं हूँ न आपकी बहू | मैं करुँगी आपकी सेवा | फिर उसने मेरे होंठ में अपने होंठ रख दिए और मेरे होंठ को चूसने लगी | मैं भी उसका साथ देते हुए उसके होंठ को चूसने लगा और गाउन के ऊपर से ही उसके दूध मसलने लगा | करीब 5 मिनट हम दोनों एक दूसरे को किस करते हुए खूब सहलाया | फिर मैंने उसके गाउन को उतार दिया और ब्रा के ऊपर से ही दूध मसलने लगा तो वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए सिस्करिया लेने लगी | फिर मैंने ब्रा को भी उतार दिया और उसके दोनों दूध को अपने मुंह में ले कर बारी बारी से चूसने लगा | तो वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए सिस्कारिया भरने लगी | मैं उसके दूध को जोर जोर से मसलते हुए चूस रहा था और निप्पलस भी चूसने लगा होंठ में दबा कर तो वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए मेरे सिर को सहलाने लगी | फिर वो अपने घुटने के बल जमीन पर बैठ गई और मेरे लंड को अपने हाँथ में ले कर जीभ से चाटने लगी तो मेरे मुंह से आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ की सिस्करिया लेने लगा | वो मेरे लंड को चाट चाट के गीला कर दिया और फिर अपने मुंह में मेरा लंड डाल कर ऊपर नीचे करते हुए चूसने लगी तो मैं आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए बेड पर लेट गया | मेरी बहू मेरे लंड को बहुत अच्छे से चूस रही थी और मैं आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए उसके मुह को चोद रहा था | उसके बाद मैंने उसे लेटा दिया बेड पर और उसकी टाँगे फैला कर अपनी जीभ रगड़ते हुए उसकी चूत को चाटने लगा तो वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए मचलने लगी | मैं उसकी चूत को जीभ से रगड़ते हुए जोर जोर से चाटने लगा और चूत कि झिल्ली को भी होंठ में दबा कर खींच खींच कर चूसने लगा तो वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए मदहोश होने लगी | फिर मैं उसकी चूत को ऊँगली से अन्दर बाहर करते हुए चोदने लगा तो वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए सिस्करिया लेने लगी | उसके बाद मैंने अपने मोटे लंड को उसकी चूत में रगड़ते हुए अन्दर डाला तो आधा ही गया होगा कि उसकी चीख निकल गई पर उसने लंड बाहर निकलाने को नही कहा | मैंने एक जोरदार धक्का मारा और पूरा लंड घुसेड़ दिया और चोदने लगा तो वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए करने लगी | फिर मैंने अपनी चुदाई की रफ़्तार बढ़ाते हुए जोर जोर से चोदने लगा और उसके दूध मसलने लगा तो वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए अपनी गांड उठा उठा कर चुदवाने लगी | उसके बाद मैंने उसे घोड़ी बनाया और उसके पीछे आ कर फिर से लंड रगड़ते हुए अन्दर डाल कर धक्के मारते हुए चोदने लगा तो वो आआहाआ ऊऊन्न्ह ऊऊम्म्ह ऊउम्म ऊउन्न्ह अहहाआअहाअ अहहहा हहहाआअ अहहहाआ ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह ऊनंह ऊउम्म्म्ह अहहहाआआअ आहाआआउन्ह ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह आहा आआआहा ऊउम्म्ह ऊउन्न्ह आअहाआअ करते हुए अपनी गांड आगे पीछे करते हुए चुदवाने लगी | करीब 45 मिनट उसे मैंने चोदा और उसके मुंह को अपने वीर्य से भर दिया | उसके बाद मैंने उसे दो बार और चोदा और हम अब रोज ही चुदाई करते हैं |
तो दोस्तों मैं आशा करता हूँ कि आप सभी को मेरी कहानी पसंद आई होगी |


Comments are closed.