सौतेली बहन बनी चुदक्कड और मैं उसका चोदू

Sauteli bahan bani chudakkad aur mai uska chodu:

हाय फ्रेंड्स, कैसे हैं आप सब ? मैं उज्जवल हूँ और सतना का रहने वाला हूँ | मेरी हाईट 6 फीट 2 इन्च है और रंग सांवला है तथा उम्र 25 | मेरा कॉलेज हो हो चुका है, और मैं अभी फिलहाल में बेरोजगारी काट रहा हूँ | आज मैं आपके सामने एक कहानी बताने जा रहा हूँ जो एक दम सच्ची कहानी है | इस कहानी में मैं आपको बताऊंगा कि कैसे मैंने अपनी बहन को चोदा | अब मैं वक़्त ज्यादा न लेते हुए सीधा कहानी में आता हूँ |

ये बात आज से दो पहले की है जब मैं 23 साल का था | मेरे घर में मैं मेरी सौतेली मम्मी और मेरी छोटी सौतेली बहन है | मेरे पापा की डेथ हो चुकी है तब मैं 10वी कक्षा में पढाई करता था | मेरी असली मम्मी बचपन में गुजर गई थी और ये मेरी दूसरी मम्मी है और साक्षी (मेरी सौतेली बहन का नाम) उन्ही के बेटी है | मेरी छोटी बहन तब 11वी कक्षा में पढ़ती थी जब मैंने उसकी चुदाई की थी | मेरी बहन छोटी जरुर थी पर उसका बदन बहुत सेक्सी था | वो दिखने में एक दम गोरी चिट्टी और सुडोल बदन की है | उसके दूध भी नार्मल साइज़ के हैं और गांड भी अच्छी गोल और थोड़ी बड़ी है | वो बहुत सेक्सी लगती थी मुझे शुरू से ही | पर बहन हैं ये सोच के मेरे मन में कभी गलत ख्याल नहीं आया उसके प्रति | ये उस समय की बात है जब बारिश का मौसम था और मैं घर में ही था टीवी देख रहा था मम्मी घर में ही थी और खाना बना रही थी |

साक्षी उस दिन अपनी बरसाती ले जाना भूल गई थी और जब घर आई तो वो भीग चुकी थी | मेरे और साक्षी का रूम आजू बाजू है | साक्षी स्कूल से आके सीधे अपने रूम में गयी और अपने कपडे बदलने लगी पर उसने अपने रूम का दरवाजा बंद नहीं किया था शायद भूल गयी होगी | हमारे रूम के सामने ही टॉयलेट बना हुआ है मुझे बहुत जोर से बाथरूम आई थी तो मैं ऊपर वाले में चला गया था क्यूंकि मुझे अपने रूम में ही जाना था उसके बाद | मैं जैसे ही बाथरूम में एंटर होने लग तो देखा की साक्षी सिर्फ ब्रा पेन्टी में खड़ी अपने सूट सीधा कर रही थी | मुझे उसके उभरे हुए दूध और उभरी हुई गांड दिख गई और एक दम गोरा बदन हाय इतना गजब का नज़ारा था | फिर मुझे ख्याल आया की ये मेरी बहन है और मैं उसे ऐसे देख रहा हूँ ये गलत है | फिर मैं बाथरूम में ही चला गया और हलका हो के बाहर निकला तब तक साक्षी अपने कपडे पहन चुकी थी |

उसी रात की बात है हम सब खाना खा के सोने के लिए ऊपर आ गये थे | फिर हम दोनों ने एक दूसरे को गुड नाईट कहा और अपने अपने रूम में चले गए | अगले दिन सन्डे था तो मैंने सोचा कि चलो कल सन्डे है आराम से सोऊंगा | पर मुझे नींद नहीं आ रही थी | मेरी आँखों के सामने बस साक्षी ही दिख रही थी कपडे बदलते हुए (मैं जनता हूँ की ये सब गलत था पर उस समय मेरे साथ ऐसा हो रहा था और एसा मेरे दिमाग में चलने लगा था) |  ऐसे ही उसके बारे में सोचते सोचते मेरा लंड खड़ा हो गया तो मैंने सोचा की यहाँ तो कोई है नहीं चलो एक बार मुठ मार ही लेता हूँ (लंड तो खड़ा ही था) | फिर मैं अपना लंड निकाल के मुठ मारने लगा | मुझे अपना लंड हिलाते हुए 5 मिनट ही हुए होंगे की मेरे दरवाजा किसी ने एकदम से खोल दिया | मैं एक दम से चौंक गया और फिर मैंने आवाज़ लगाया की कौन है ? तो जवाब मिला कि भैया मैं हूँ साक्षी ! तब मैंने दरवाजा खोला और उसने नाइटी पहनी हुई थी | तो मैंने कहा क्या हुआ साक्षी इतनी राते में तू यहाँ क्या कर रही है ? तब उसने कहा कि भैया मुझे नींद नहीं आ रही है वहाँ तो मैंने सोची कि आपके पास आ के सो जाऊं | आपको कोई दिक्कत तो नहीं है न ? मैंने कहा नहीं रे पागल आजा और दरवाजा लगा दे | फिर हम दोनों आजू बाजु लेट गए, थोड़ी देर बात कर रहे थे फिर उसने कहा कि भैया मुझे नींद आ रही है मैं सो जाऊं | तो मैंने कहा हाँ सो जाओ गुड नाईट फिर वो भी गुड नाईट बोल के सो गयी | और यहाँ मेरा बुरा हाल था क्यूंकि मेरा लंड बैठ तो चूका था पर अन्दर का जोश अभी भी बाकी था | वो मेरी तरफ अपनी गांड करके सोयी थी और मैं उसकी गांड देख देख के अपना लंड मसल रहा था | उसकी पक्की नींद लग चुकी थी तो मैंने सोचा की मैं भी इसकी गांड में अपना लंड सटा के सो जाता हूँ क्यूंकि मैं मुठ तो मार नहीं सकता था साक्षी की वजह से | फिर मैंने अपना लंड जानबूझ कर उसकी गांड से टिकाया और सोने लगा (मन तो कर रहा था की चोद लूं पर गांड भी फट रही थी कुछ करने में ) थोड़ी देर बाद मेरी नींद खुली तो देखा की वो पूरी मुझसे सटने की कोशिश कर रही थी शायद उसे ये अच्छा लग रहा होगा |

फिर मैंने उसकी गांड से अपना लंड अलग करके थोडा पीछे हुआ तो वो भी पीछे तरफ सरक गई | मेरी समझ में नहीं आ रहा था कि क्या करू ? फिर मैंने सोचा कि चलो करके देखते हैं क्या होता है ? अब मैं उसकी गांड में अपना लंड बार बार टिका रहा था और अलग कर रहा था | फिर मैंने अपना एक हाँथ उसकी गांड में रख के सहलाने लगा उसने कुछ नहीं कहा तो मैंने सोचा की शायद उसका भी मन होगा | जैसे ही मैं उसके दूध पर अपने हाँथ को रखा तब उसने कुछ हलचल की फिर सो गई | अब मेरी हिम्मत थोड़ी और बढ़ गई थी | मैं उसके एक दूध को पकड़ के दबा रहा था उसने अचनाक से मेरा हाँथ पकड लिया और जोर जोर से अपने दूध दबवाने लगी | अब मैं समझ चुका थी की ये भी मुझसे चुदवाना चाहती है | फिर मैंने उसे पलटा के किस करने लगा थोड़ी देर बाद वो भी उठ गई और मुझे किस करने लगी | हम दोनों ने एक दुसरे को कुछ भी नहीं कहा जो भी हो रहा था अपने आप हो रहा था | फिर 5 मिनट किस करने के बाद मैंने उसकी नाइटी उतार दी फिर ब्रा और फिर पेन्टी | वो मेरे सामने पूरी नंगी हो कर लेटी थी | फिर मैंने अपना हाफ पेंट उतार दिया और फिर अंडरवियर मैं भी पूरा नंगा हो चुका था |

अब मैं उसके दूध पीना चालू कर दिया था और वो हलके आवाज़ में आहाआअहा आआआहाआअ आहहाआअ अहहहाआअ अहहहहा अहहह्हाआ कर रही थी मैंने पुछा उससे की कैसा लग रहा है ? तो वो बोली कि कुछ भी मत बोलो बस करते जाओ बहुत अच्छा लग रहा है मुझे | फिर मैं उसके दूध पीने लगा और दूध पीते पीते उसकी चूत भी सहलाते जा रहा था और वो आअहहहहह अहहहहहहहः अहाहाआहा अहाह्हाआअ अहहहहहा आआआअह आआअहह्हा अहहहहा अहहहः आ कर रह थी | 10 मिनट दूध पीने के बाद हम दोनों फिर किस करने लगे | फिर हम दोनों अलग हुए और मैंने उसे अपना लंड चूसने को कहा वो झट से उठी और मेरा लंड चूसने लगी मैं भी सिसकारी भरने लगा और आहहहाआ अहाहहहाआ अहाहहा अहहहहहा कर रहा था | 15 मिनट तक उसने मेरा लंड चूसी थी और अच्छे तरह से मेरा पूरा लंड गीला कर दिया था | फिर मैंने उसे घोड़ी बनाया और उसकी चूत और गांड दोनों चाट रहा था, उसकी चूत भी गीली हो चुकी थी | उसकी चूत एक दम चिकनी थी शायद उसने बाल बनाये होंगे चूत के | मैं उसकी चूत और गांड दोनों बारी बारी से चाट रहा था | फिर उसने कहा कि भैया अब मुझे चोदो और अपना लंड मेरी चूत में डालो | मैं भी तुरंत तैयार हो गया था उसकी चूत चोदने के लिए | मैंने उसकी कमर पकड़ी और हलके हलके से उसकी चूत में अपना लंड डाल रहा था | फिर जैसे ही मेरा लंड उसकी चूत में पूरा घुसा मैंने अपनी स्पीड तेज कर दी और उसे जोर जोर से चोदने लगा उसकी कमर पकड़ के और वो हहहहहा अहहहाह्हा अहहहहहहा आआअहहह आआहहहहा अहहहहह्हा आआआहहह अहहहहहः आहहहह्हाआआअ आआआह आहाह्हा करे जा रही थी | फिर मैंने उसे लेटा दिया और फिर अपना लंड उसकी चूत में डाल कर चोदने लगा 20 मिनट की चुदाई के बाद मैंने अपना माल उसके दूध पर निकाल दिया | फिर उसने कहा कि भैया मजा आ गया मैंने कहा मुझे भी फिर उसने कहा कि भैया मैं आपका माल साफ करके आती हूँ | फिर वो बाथरूम से आ कर मेरे लंड को प्यार करने लगी और मेरा लंड फिर से तन गया | और फिर हम दोनों ने चुदाई चालू कर दी | चुदाई करने के बाद फिर हम सो गए | अब हम रोज रात को मम्मी के सोने बाद चुदाई किया करते थे |

दोस्तों ये थी कहानी, कैसी आप सभी को उम्मीद करता हूँ पसंद आई होगी आपको |


Comments are closed.