नंगी शादी और सामूहिक चुदाई भाग २

Nangi Shaadi Aur Samuhik Chudai Part 2 : पिंटू :  मगर हम राखी हाथ पर नहीं बांधेगे। रीता :  फिर कहाँ? सिंटू :  सब बहने अपने भाइयों के लंड पर राखी बांधना। में : मस्त आइडिया है। अब सब राजी हो गये और भाई अपने लंड को खोलकर सोफे पर बैठ गये। अब पूजा आरती […]


पहले प्यार में रंडी बनकर चुदी भाग २

में हैरान रह गयी और में गिफ्ट के बारे में बिल्कुल भूल गई थी। फिर मैंने झट से गिफ्ट खोल दिया।  उन्होंने मुझे एक सिल्की बिकनी गिफ्ट की थी, वो लाल कलर की थी और पारदर्शी थी। अब में बिल्कुल शरमा गई थी। फिर उन्होंने बोला ट्राई करने को, तो मैंने कहा ओके में आपको […]


माँ की चुदाई कारपेंटर से भाग २

अब वो अपने हाथ से अपनी चूत को छुपा रही थी, लेकिन उन लोगों ने मम्मी का गाउन नहीं दिया, तो मम्मी ने उन्हें पुलिस की धमकी दी। फिर उनमें से एक का नाम भरत और एक का नाम अरमान था, तो भरत ने मम्मी के गाल पर 5-6 थप्पड़ कसकर मारे। अब मम्मी रो […]


एक औरत का बदला भाग २

में : आप तो वैसे काफ़ी सुंदर हो, लेकिन मुझे आपके बूब्स बहुत अच्छे लगते है और सबसे अच्छी आपकी गांड, मेम मुझे एक बार आपकी गांड मारने का मौका दीजिए ना प्लीज। अब मेम पहले तो हैरान हो गयी, लेकिन बाद में बोली कि बेटा मुझे लगता है कि मेरे पति से बदला लेने […]


होली में फट गई चोली भाग ११

अब मुझे भी वहाँ खड़े रहने में शरम आ रही थी तो मैं भी अपने कमरे में की तरफ़ दौड़ी. कमरे में आ कर मैंने अपनी ननद की साड़ी को एक कोने में फ़ेंक दिया ओर अपने लिए अलमारी में कपड़े ढूंढने लगी. मैंने सोचा कि मेरे भाई को रसोईघर में ले जाकर पहले तो […]


होली में फट गई चोली भाग ८

मैं अब सीधे उसके ऊपर चढ़ गई और और अपनी प्यासी चूत उसके किशोर, गुलाबी, रसीले होंठों पे रगड़ने लगी. वो भी कम चुदक्कड नहीं थी, चाटने और चुसने में उसे भी मज़ा आ रहा था. उसके जीभ की नोंक मेरे Clit (चूत का लहसुन) को छेड़ती हुई मेरे पेशाब के छेद को छू गई. […]


होली में फट गई चोली भाग ७

चीख पड़ी वो…. मौका पा के मैं बाहर निकल आई लेकिन वहाँ मेरी बड़ी ननद दोनों हाथों में रंग लगाए पहले से तैयार खड़ी थी. रंग तो एक बहाना था. उन्होंने आराम से पहले तो मेरे गालों पे फिर दोनों चुचियों पे खुल के कस के रंग लगाया, रगड़ा….. मेरे अंग-अंग में रोमांच दौड़ गया. […]


होली में फट गई चोली भाग ६

होली अच्छी-खासी शुरू हो गई थी. “अरे भाभी, आपने सुबह उठ के इतने गिलास शरबत गटक लिये, गुझिया भी गपाक ली लेकिन मन्जन तो किया ही नहीं.” “आप क्यों नहीं करवा देती.???” अपनी माँ को बड़ी ननद ने उकसाया. “हां…हां…क्यों नहीं…मेरी प्यारी बहु है…” और गाण्ड में पूरी अंदर तक 10 मिनट से मथ रही […]


होली में फट गई चोली भाग ५

बाहर सारे लोग मेरी जेठानी, सास और दोनों ननदें होली की तैयारी के साथ. “अरे भाभी, ये आप सुबह-सुबह क्या कर….. मेरा मतलब करवा रही थी.? देखिये आपकी सास तैयार है” बड़ी ननद बोली. (मुझे कल ही बता दिया था कि नई बहु की होली की शुरुआत सास के साथ होली खेल के होती है […]


होली में फट गई चोली भाग ४

मैं समझ गई कि अब ज्यादा चढ़ गई है दोनों को, और फिर उन लोगों की बातें सुनकर मेरा भी मन मचल रहा था. मैं अंदर गई और बोली, “चलिए खाने के लिये देर हो रही है..!!” ननदोई उसके गाल पे हाथ फेर के बोले, “अरे इतना मस्त भोजन तो हमारे पास ही है..” वो […]