छोटी सी भूल भाग – ९

पर ऐसी तन्हाई में मुझे घबराहट होने लगी। हम वहाँ से एक दूसरे के सामने खड़े हो गये। वो बोला, अब बत कैसी है तू? मैं बोली, ठीक हूँ। वो बोला, तुझे मेरी याद आई। मैने कुछ नहीं कहा। मैने उसे कभी अपने आप याद नहीं किया। वो तो हमेशा जबरदस्ती मेरे खयालों में आ […]


छोटी सी भूल भाग – ८

संजय घर पर थे और ये बिल्लू ऐसी बातें कर रहा था। मैने पूछा, तुम क्या उसके बाद आज ही यहाँ आये हो? वो बोल, मैं अपने गाँव चला गया था, मेरे एक चाचा का देहान्त हो गया था। उसने पूछा, क्यों क्या हुआ? मैने कह बस यूं ही पूछ लिया। वो बोला, कैसी है […]


छोटी सी भूल भाग – ७

मैं सोच रही थी कि क्या जवाब दूं संजय को, मुझे खामोश देखकर वो फिर से बोले कि बताओ ना ये निशान कैसा है? मैने डरते -डरते कहा क…क..क…कुछ नहीं, मैं आज सुबह बाथरूम में फिसल गयी थी, शायद उसका निशान होगा। उन्होने कहा कि, मुझे बताना था ना, और आगे बढ़ कर उस निशान […]


छोटी सी भूल भाग – ६

मैं यह सुन कर पानी-पानी हो गई, मेरी योनि से पानी की नदियाँ बह निकली। फिर उसने अचानक अपने दोनों हथों से मेरा नाड़ा थाम लिया और उसे खोलने लगा। मैने उसे डाँट दिया, बिल्लू सिर्फ कपड़ों के ऊपर- ऊपर से करो, और उसके हाथ अपने नाड़े से दूर झटक दिये। मैने सोचा यह लड़का […]


छोटी सी भूल भाग – ५

मैं बेडरूम में झांककर देखा संजय अभी भी सोये हुए ही हैं। मैने सोचा मैं जल्दी से यहां से भेज कर वापस आ सकती हूँ। मैं चुपचाप छाता लेकर घर से बाहर आई, तो पाया कि बारिश और तेज हो गयी है। ये एक तरह से अच्छा ही हुआ अब मुझे कोई घर के पीचे […]


छोटी सी भूल भाग – ४

अशोक देखने में बहुत ही बदसूरत था, उसकी नाक बहुत ही घिनौनी थी, और उसका चेहरा एकदम काला था, पर मैने उसके बारे में सुन रखा था कि वह इस कॉलेज की कई लड़कियों को पटा कर उनकी ……. ले चुका है। मुझे पूरा यकीन था कि आज वह मुझ पर डोरे डाल रहा है […]


छोटी सी भूल भाग – ३

मैने मन ही मन चैन की साँस ली कि चलो ये बला तो टल गई। मैने बिल्लू को कहा, देखो तुमने मेरी कितनी बेइज्जती करवा दी। आज तक किसी ने मुझे ऐसी बातें नहीं बोली थी और ना ही किसी ने मुझे ऐसी नजर से देखा था। मैने बिल्लू को कहा कि तुम प्लीज रिक्शा […]


छोटी सी भूल भाग – २

वो अपने लिंग को हाथ में पकड़ कर हिला रहा था। उसने “पूछा कैसा लगा मेरा लोड़ा?” मैं कुछ नहीं बोली, और शर्म से अपनी नजरें झुका ली। वो बोला, ” तुझे पता है तेरी फिगर कितनी मस्त है, मैं अक्सर तुझे शाम को मार्केट में तेरे पति के साथ देखा है। मैं हैरानी से […]


छोटी सी भूल भाग – १

मैने ऐसा सोचा भी नहीं था कि मेरी एक छोटी सी भूल मेरी जिन्दगी में एक तूफान लेकर आयेगी। पिछले साल की बात है. २० अप्रेल को करीब दो बजे मैं रसोई में खाना बना रही थी, गर्मी बहुत थी इसलिए मैं थोड़ी ठंडी हवा लेने के लिए खिड़की पर आ गई। बाहर से ठंडी […]


पर्दे मे रहने दो भाग – १८

इस बार जो दो पिक्स खुली वो तो दोनों ही अपने आप में क़यामत थी….भानु और रानी दोनों ही थोड़ी देर उन पिक्स को चुपचाप एकटक देखते रह गए….और फिर भानु ने कहा… भानु – इस बार तो दोनों ही जबरदस्त पिक्स खुली हैं यार.. रानी – हाँ यार…ऐसा लग रहा है जैसे दोनों ने […]



error: