मेरी चूत की तड़प और अन्तर्वासना का विनाश

Meri chut ki tadap aur antarvasna ka vinash:

हेल्लो मेरे प्यारे दोस्तों कैसे हैं आप सब उम्मीद तो यही है कि आप सब ठीक होंगे और मुझे मिस किया की नहीं | अच्छा चलो नहीं इया तो नहीं किया पर मैंने तो आप लोगों को बहुत मिस किया और मुझे बिलकुल अच्छा नहीं लगा दूर कोके आप लोगों से | तो दोस्तों अब मैं वापस आ गयी हूँ और जैसा कि आप जानते हैं मेरा नाम है निधि | मैंने आखरी बार आपसे कहा था कि मुझे घूमने जाना है मुंबई तो अब मैं मुंबई से वापस आ गयी हूँ और लेकर आई हूँ वहां से कई सारी यादें जो मेरे दिल में घर कर गयी हैं | जी हाँ दोस्तों ये सब मेरा अपना तजुर्बा है जो मैं आपको आज बतला रही हूँ | मैं वह 15 दिन तक रही हूँ और कई लोगों के लंड खाए हैं और वो भी तरह तरह के | मैंने कभी नहीं सोच था कि मुझ जैसी चुदासी का इतना अच्छा स्वागत होगा उस जगह और मेरी चूत की प्यास का असली अंत वहीँ हुआ है | मैंने वहां पे बड़े मज़े से अपनी चूत की तृष्णा शांत की और जब वापस आई तो मेरी चूत एकदम सुखी हो गयी | पर मौजे अभी आपको पूरी कहानी बतानी है जिसमे मैं आपको बतौंगी मैंने कितने लंड खाए और कैसे लोगों ने मुझे किस किस तरह चोदा | दोस्तों मैं आपको बता नहीं सकती की मेरी चूत से कितना माल निकला है और एक बार तो चुदते चुदते खून भी निकल आया था | पर मुझे कोई दिक्कत नहीं हुयी क्यूंकि मैंने कभी भी सोचा नहीं था कि ऐसी चुदाई मेरे नसीब में लिखी है और मैंने अपनी चूत के लिए कई साड़ी चीज़े भी खारडी हैं मुंबई से और मुझे अच्छा लगता है जब मैं इनको ओनी चूत में घ्साती हिन् | खेर अब तो मेरी चूत बची नहीं है भोसड़ा बन गया क्यूंकि इतने बड़े बड़े लंड घुसे हैं अन्दर कि पता ही नहीं वो बाहर निकले ही क्यों | खेर ये एक अलग बात है और मेरी गांड भी मारी गयी है और अब मेरी गांड एकदम गोल गोल और बड़ी हो गयी है और मैं पहले से ज्यादा सेक्सी लगती हूँ और लड़के तो बस मेरी गांड के आगे पीछे ही होते रहते हैं पर उन्हें क्या पता इस छोट को पाने के लिए बात करना ज़रूरी है क्यूंकि मैं मान जाती हूँ |

 

तो अब मैं ले चलती हूँ आपको मुंबई की सैर पे और बता देती हूँ आपको अपनी असली कहानी जो की घटी मेरे साथ और मैंने कभी नही सोचा था कि मैं ये सब असलियत में कर पाउंगी | मेरे माँ बाप तो बाहर हैं और लड़की एक खुली हुयी तिजोरी जैसी होती हैं और मुझ जैसी सैक्स्ट तिजोरी को ना जाने कितनो ने लूटा है | तो दोस्तों बात शुरू हुयी जैसे ही मैं मुंबई पहुंची और फ्लाइट से बाहर आई | वहां कुछ पायलट बैठे हुए थे और मुझे लगा शायद ये यहीं के हैं तो इनसे ज़रा पता कर लेटी हूँ की अच्छी होटल कहाँ मिलेगी और एरिया कौनसा अच्छा रहेगा जहाँ से सब पास में हो | मैं वहां गयी तो तीन पायलट्स वह मुझे घूर के देख रहे थे | मैंने कहा शायद आप लोग मेरी मादा कर सकते हैं और उन्होंने कहा हाँ ज़रूर बताइए क्या करना है अभी हमारी फ्लाइट आने में एक घंटा है | तो मैंने उन तीनो से कहा एक घंटे में तुम तीन तो मेरे साथ बहुत मस्ती कर सकते हो | तीनो के चेहरे पे ऐसी कमीनी मुस्कान आई जैसे साले बरसों से भूखे थे चूत के लिए | फिर उन्ब्मे से एक ने बोला भाई एअरपोर्ट के ऊपर एक जगह है वहां कोई नहीं आएगा और सिक्यूरिटी को मैं पैसे दे दूंगा | वो दोनों बोले ठीक है तू इंतज़ाम करके आ जाना तब तक हम मैडम को लेकर ऊपर जाते हैं | हम सब लोग ऊपर आ गये और फिर उन दोनों ने कहा मैडम आप शुरू करेंगी या हम करे | मैंने कहा यार जवान हैं हम सब तो आप शुरू करो या मैं क्या फर्क पड़ता है बस मज़ा आना चाहिए | उन्होंने धीरे से मेरी स्कर्ट के अन्दर डाला और एक मेरे ब्रा में हाथ डालके मेरे निप्पल मसलने लगा | मुझे भी मज़ा आ रहा था तो मैं दोनों का लंड मसलने लगी | उन्टने में तीसरा भी आ गया और उसने मेरे पेट पे किस करना चालु कर दिया और मेरे बदन से एक एक कपडा हटा दिया | अब मुझे वो हर जगह से चाट रहे थे और मेरे निप्पल को दो लोग चूस रहे थे और एक मेरी चूत चाट रहा था |

 

पूरी जगन में बस मेरी ऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्ह की ही आवाज़े गूँज रही थी | फिर उसके बाद एक लंड मेरे मुह के पास आया और वो काफी बड़ा था जितने मैंने लिए थे उनसे तो ज्यादा ही बड़ा था | उसने कहा मैडम अपने मुह में ले ली जिए इसे | मैएने मन में सोचा वाह यार कितनी तमीज से मेरी चुदाई हो रही है | फिर सब ने अपने खड़े लंड मेरे मुह पास रख दिए और मैं बारी बारी सबको चूस रही थी और वो सब ऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्ह कर रहे थे | उसके बाद एक बन्दे ने मेरी गांड के छेद में अपना लंड आला और एक ने मेरी चूत में और एक का लंड मेरे मुह में ही था | मैं बड़ी जोर जोर से ऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्ह कर रही थी और उसके बाद वो बंदा जिसका लंड मेरे मुह में था वो झड़ गया | और खूब जोर से ऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्ह करता रहा | फिर मैंने उसका लंड चूसा और खड़ा किया और जो लड़का मेरी चूत मार रहा था वो मेरी चूत में ही झड़ गया और फिर अपना लंड मेरे मुह में डाल दिया मुझे एरी चूत का रस और उसका मुठ दोनों का स्वाद मिला |

 

फिर तीनो लडको ने मिलके मुझे आधे घंटे तक चोदा और इतना चोदा कि मेरी हालत खराब हो गयी और मैं बस ऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्ह करती जा रही थी | उसके बाद वो उठे और मुझे होटल तक चोदा और कहा मैडम हम डॉन दिन बाहर रहेंगे अगर आपको कुछ भी ज़रूरत हो तो हमे कॉल कर देना और अपना नंबर देके चले गये ओए उसके बाद भी मेरी कई बार चुदाई हुयी जो मैं आपको बाद में बताउंगी |

 

चलिए अब मैं आपको बता देती हूँ की उसके बाद मेरे साथ क्या हुआ | फिर जब मैं होटल में थी तो वह पे मुझे एक लड़का जो की मेरे रूम के बाजू में रहता था वो पसंद आ गया | वो शायद बहुत पैसे वाला था इसलिए इतनी महंगी होटल में था और वो कुछ परेशां भी लग रहा था | मैंने सोचा इसका लंड भी ले ही लेती हु आज और फिर से अपनी छूट को कुछ खाना खिला देती हूँ | मैंने जानबूझ के नीचे बैठकर एक कॉफ़ी मंगाई और जब वो नीचे आकर किसी का वेट कर रहा था तब मैंने कॉफ़ी पीते हुए उससे कहा आप हस दो थोडा अच्छे लगोगे | उसने कहा कैसे हस दूँ यार मेरी तो बंद बजने वाली है मेरे बिज़नस में मुझे घाटा लगने वाला है और कोई मेरी मदद नहीं कर सकता | मैंने कहा अगर आप मुझे बताओगे तो शायद मैं आपकी कुछ मदद कर दूँ क्यूंकि मैंने भी बिसनेस की पढ़ाई की है | उसने कहा मेरे क्लाइंट्स ने मार्किट के बिल सेल्स टैक्स में नहीं दिखाए हैं उर मुझे नोटिस आया है | तो मैंने कहा बस इतनी सी बात लो अभी सोल्वे करती हूँ | मैंने अपनी दोस्त को फोन लगाया वो सेल्स टैक्स ऑफिसर है और उसने सब मामला सेट करा दिया और २५००० में काम हो गया |

 

वो मुझे अपने रूम में ले गया और कहा यार अप तो जीनियस निकले बताओ क्या चैये आपको | मैंने कहा तुमहरा लंड दे पाओगे मुझे | उसने तुरंत अपना पेंट उतारा और कहा ये आपका है | मैंने देखा उसका लंड जब सोया था तब इतना बड़ा था तो खड़ा होक कितना बड़ा हो जाएगा | मैंने तुरंत उसके लंड को चूसा और खड़ा करने लगी और वो ऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्ह करने लगा | फिर उसके बाद उसने मुझे कहा अपनी चूत दिखाओ और उसने इतना गन्दा चाटा कि मैं तीन बार झड़ गयी | फिर उसने अपने लंड मेरी चूत में डाला और उसका झटका अन्दर तक लग रहा था और मैं ऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्ह कर रही थी | उसने पूरी रात मुझे चोदा और आखिर में मेरी गांड में अपना लंड डाला और मुझे तो तारे नज़र आ रहे थे | ऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्हऊऊउम्म्म्म ऊऊन्न्ह्ह आआआअह्हह्हह्ह ऊऊऊऊऊऊऊऊऊओ आआअह्ह्ह्ह्ह्ह्ह् आअह्ह्ह्ह की आवाज़ थी हर जगह और मेरी चूत से खून भी आ गया था | पर मुझे मज़ा आया और फिर मैं किसी और से चुदने निकल पड़ी |

 


Comments are closed.