मेरी चुद्दकर बीवी और दो लड़के

हैल्लो दोस्तों, मेरी बीवी एक लड़के के मज़े लेती है और अब वो लड़का मेरी बीवी के ऊपर पागल हो गया था। अब वो लड़का हमेशा मेरी बीवी के आस पास ही रहने की कोशिश करता रहता था। अब उसका जब भी मन करता तो वो अपना लंड मेरी बीवी के सामने निकाल लेता और उसके सामने ही मुठ मारना शुरू कर देता, तो कभी मेरी बीवी के पास आकर अपना छोटा सा 4 इंच का लंड मेरी बीवी की गांड के ऊपर रगड़ता और मेरी बीवी के बड़े-बड़े बूब्स को अपने हाथ में लेकर उनके साथ खेलता रहता, तो कभी मेरी बीवी को अपने हाथ में पकड़कर अपना लंड हिलाने को बोलता, जब तक उसका पानी नहीं निकल जाता। मेरी बीवी को यह पसंद है कि लोग उसकी सेक्सी बॉडी के बारे में सोचकर मुठ मारे और सपने में मेरी बीवी को ज़ोर से चोदे।

बीवी : अरे सुनो, एक बात बताओं तुम्हारे बाहर कोई दोस्त है  या किसी से बात करते हो क्या?

रमन : हाँ जी मेम साहिब, मेरे 3 दोस्त है  एक मेरी उम्र का है और एक रिक्शे वाला और एक वो  भिखारी जो हमारे घर के पास रहता है।

बीवी : अच्छा तो तुम उनसे क्या बात करते हो?

रमन : में बात नहीं करता, वो तो खुद ही आपके बारे में पूछते रहते है।

बीवी : अच्छा, क्या बोलते है?

रमन : मेम साहिब वो मुझसे पूछते है कि क्या मैंने कभी आपके बूब्स देखे है? उनको आपके बड़े-बड़े बूब्स बहुत पसंद है और आपकी लंबी टाँगो के बारे में पूछते है। वो मुझसे पूछते है कि मैंने आपकी मिनी स्कर्ट के अंदर कभी आपकी पेंटी को देखा है। वो तीनों बताते है कि वो आपके बारे में सोचकर रोज ही  मुठ मारते है, वो बस आपके अंदर अपना लंड डालने का एक मौका चाहते है।

बीवी : अच्छा ऐसी बात है क्या? तो ठीक है उनको भी मिलकर मज़े देते है, वो दिखने में है तो बहुत गंदे, लेकिन मुझे तो ऐसे ही लोग पसंद है, पहले उस लड़के को ले आना बाकी में सब संभाल लूँगी।

फिर अगले दिन रमन अपने दोस्त को ले आया, वो करीब-करीब रमन के जैसा ही था पतला सा और काले रंग वाला। अब मेरी बीवी ने जानबूझ कर मिनी स्कर्ट पहनी हुई थी और हाई हील्स भी थी। अब वो लड़का मेरी बीवी की टांगे देखने लग गया और उसका मुँह खुला का खुला रह गया।

बीवी : मुझे घर की सफाई करने में थोड़ी मदद चाहिए, तुम रात को मेरी मदद करने के लिए रुक सकते हो, तुम यही सो जाना और साथ में 100 रूपए भी दूंगी।

अब उस लड़के की आँख मेरी बीवी की लंबी हील्स वाली टांगो से हट ही नहीं रही थी, लेकिन उसने अपना सिर हाँ में हिला दिया।

बीवी : ठीक है कल आ जाना।

फिर अगली शाम वो 8 बजे आ गया और रमन ने दरवाज़ा खोलकर उसको अंदर बुला लिया। अब मेरी बीवी ने मिनी स्कर्ट पहनी हुई थी, अब अंदर आ कर वो ज़मीन पर बैठ गया और फिर हम तीनों ने खाना खा लिया। फिर मेरी बीवी ने एक पिक्चर लगाई और उन दोनों को सोफे पर अपने पास बैठने को कहा। अब मेरी बीवी जानबूझ कर उसके पास बैठी थी और अपनी मिनी स्कर्ट में से उसको अपनी गोरी- गोरी टाँगे दिखाने लगी। अब वो भी बार-बार टी.वी से अपनी नज़र हटाकर मेरी बीवी की टांगो को घूर रहा था और मेरी बीवी भी उसे मज़े से देख रही थी। अब रात को बात करते हुए उनकी बात गर्लफ्रेंड पर आई तो उस नये लड़के ने बताया कि उसके कोई गर्लफ्रेंड नहीं है। फिर रमन की बारी आई तो वो बोला कि यह मेम साहिब मेरी गर्लफ्रेंड है। अब यह सुनकर उस नये लड़के का मुँह खुला का खुला रह गया था, फिर उस नये लड़के ने बोला कि आप झूठ बोल रहे हो कहाँ यह नौकर और कहाँ आप जैसी परी।

बीवी : थैंक्स, लेकिन यह सच बोल रहा है, यह लड़का मेरा बॉयफ्रेंड है और हमने बॉयफ्रेंड गर्लफ्रेंड वाले काम भी किए हुए है, तुम्हें पता है वो काम कौन से होते है?

लड़का : तो वो मासूम बनकर बोला कि नहीं पता, वो क्या काम होते है?

बीवी : ठीक है में तुम्हें समझाती हूँ, तुम भी मेरे बॉयफ्रेंड बनोगे क्या?

लड़का : तो वो ज़ोर ज़ोर से अपना सिर हाँ में हिलाने लगा।

बीवी : ठीक है, तुम दोनों मेरे पास आ जाओ।

फिर वो दोनों मेरी बीवी के बगल में आकर बैठ गये, फिर मेरी बीवी ने उनको समझाना शुरू कर दिया।

बीवी : अच्छा तुम दोनों को यह तो पता है कि लड़की और लड़के अलग-अलग दिखते है। अब देखो यह जो मेरी छाती पर बड़े-बड़े है ना, इनको बूब्स कहते है इनको मुँह में लेकर चूसते है और दबाते है। कभी-कभी इन बूब्स के बीच में लंड रखते हैं और बूब्स से लंड को हिलाते है, अच्छा तुम्हारे पास क्या होता है, पता है?

(TBC)…


Comments are closed.