मेरी और मेरी बहन की हॉट चुदाई भाग २

Meri Aur Meri Behan Ki Hot Chudai Part 2 :

यह कहानी आप फ्री हिंदी सेक्स स्टोरीज डॉट कॉम पर पढ़ रहे है|

ये कह के मैंने ख़ुशी से अपनी भाई को हग कर लिया, और उन्होंने भी मुझे  थोडा सा जकड लिया अपनी बाहों में और मेरी चुचिया मेरे चेस्ट में गड गयी,तभी म्मैने उनको शर्म से छोड़ दिया और भाई के चेहरे पर मुझे सेक्सी सी स्माइल दिख रही थी.
तभी मैंने सोच लिया की में अपने भाई को सेदुसे करुँगी और उनसे ही अपनी चूत चतवओंगी, तो उस शाम में और भाई ने घुमने का प्लान बनाया, तो मैंने एक सेक्सी ब्लैक ररंग की ड्रेस पहनी,ब्लैक कलर मेरे भाई का फेवरेट कलर है ये बात मुझे पता थी और वो ड्रेस काफी थी उन्हें सेदुसे करने के लिए,और हम दोनो एक शौपिंग मॉल में चले गए,तो वह पे बहुत से कपल्स घूम रहे थे तो मैंने भैया से पूछा भाई एक बात पुछु
भाई-हा पूछ.
में- आपकी कोई गिर्ल्ग्रिएन्द नहीं है क्या ?
भाई- स्वीटी तू ऐसा क्यों पुच रही है??
में – ऐसे ही भैया वो आप दूसरी लड़कियों के तरफ ऐसे देख रहे थे तो पूछा.
भाई हसने लगे और कहने लगे की अरे वो सुन्दर लडकियो की तरफ ध्यान चला जाता है अपने आप, तभी मेरे दिमाग में एक शेतानी आईडिया आया, और मैंने भैया से कहा की भाई इसका मतलब में सुन्दर  नहीं हू,और मैंने थोडा नखरा दिखया किस से भाई मेरी तरफ ध्यान दे. तो भाई कहने लगे की स्वीटी तू तो मेरी बहन हे तुझे थोड़ी न में उस नज़र से देखूंगा, तो मैंने भाई को सेक्सी सी स्माइल देके पूछा की उस नज़र से कैसे, भाई शर्माने लगे और कहने लगे की बहेना वो में तुझे नहीं बता सकता, और मैंने भी जिद्द करली की मुझे नहीं पता भाई मुझे भी बताओ की कोन सी नजर से, भाई ने कहा की ठीक है पैर तू गुस्सा मत करना मैंने कहा ठीक है.
तो भा ने कहा की लडकियो की ड्रेस इतनी हॉट होती है की उन्हें देखके दिल में अजीब सी फीलिंग्स आती है और उनके फिगर की तरफ देख के लगता है की बस उन्हें देखते जाये,भाई ने बिना रुके ये सब कह दिया तो मैंने कहा की भैया कुछ समाज में नहीं आया ठीक से समझाओ न, तब भैया ने कहा की रात को तेरे रूम में आके समझूंगा.
तो मुझे ग्रीन सिग्नल मिल गया की रात को भाई से चुदवाके ही रहूंगी. मैंने अपने लिए ब्रा पेंटी लेनी थी तो मैंने भाई से कहा की मुझे उन्देर्गार्मेंट्स लेने है आप यही रुको में लेके आती हु, थोड़ी  देर में ले आई, ब्लैक कलर की ब्रा और पेंटी ली.
फिर हमने वही कुछ खाया और घर आ गए, तब तक मम्मी पापा भी घर पे आ चुके थे, अब मुझे जड़ी से रात होने का वेट था मेरी छूट में खुजली हो रही थी मुझसे रहा नहीं जा रहा था.
इस के आगे की भाई से चुदाई की स्टोरी के लिए थोड़ी वेट करे,अगले पार्ट में बतौंगी कैसे मैंने अपने भाई को पटाया और उन्हें साथ बीवी की तरह रही और उन्हें अपनी पति बनाया, और गललियो के साथ चुदाई करवाई.


Comments are closed.