मेरी अन्तर्वासना और दोस्त की भाभी

Meri antarvasna aur dost ki bhabhi:

दोस्तों मेरा नाम अमित पटेल है और बिहार का रहने वाला हूँ मेरी उम्र 25 साल है और जबलपुर में मैं इंजीनियरिंग की पढाई कर रहा हूँ  | दोस्तों अब में आप लोगो को एक रियल कहनी बता रहा हूँ | दोस्तों जब में 18 साल का था | मेरा बिहार में एक दोस्त था | उसका नाम अर्पित जैन था और अर्पित के एक बड़े भैया थे | उनकी शादी हो चुकी थी | मैं अर्पित के घर एक बार जब गया तो पता चला कि अर्पित की भाभी बहुत ही चुदक्कड टाइप की है | मैं जब भी अर्पित के घर जाया करता तो अर्पित की भाभी मुझे बहुत ही लाइन मारा करती | वो मुझे बहुत घूर कर देखा करती | जब वो मुझे घूर कर देखा करती थी और लाइन मारा करती थी तो मेरा लंड खड़ा हो जाता और उनको चोदने की इक्चा होने लगती | ….अर्पित की भाभी दिखने में मस्त माल भी थी | उनके दूध बहुत बड़े बड़े थे | मैं जब भी अर्पित की भाभी को देखता था तो मेरी नजरे हर दम उनके दूध में जाती थी | ….फिर उसके बाद जब भी भाभी मेरे को लाइन मारती तो मैं भी उनको लाइन मारना  शुरू कर देता | जब मैंने उनको लाइन मारना शुरू किया तो वो वो मुझे और भी ज्यादा लाइन मारने लगी | …….मैं समझ गया था की भाभी मुझसे चुदना चाहती है |…. उसके बाद फिर मैं रोज अर्पित के घर आने जाने लगा और भाभी को देखा करता | धीरे धीरे भाभी से बात भी होने लगी और फिर भाभी मुझसे बहुत बात करा करती थी | फिर जब में एक दिन अर्पित के घर घर गया तो अर्पित घर पर नहीं था वो बाजार गया था सब्जी लेने और अर्पित के बड़े भैया बाहर दूकान पर थे उनकी कपडे की दूकान है | जब मैं भाभी से मिला तो भाभी ने उस दिन नई साड़ी पहनी थी | जैसे ही भाभी ने मुझे देखा तो वो मुझसे पूछने लगी कि साड़ी कैसी लग रही है अमित तो फिर मैंने भाभी को लाइन मारते हुए कहा की भाभी आप एक नंबर की माल लग रही हो | भाभी यह सुनकर बहुत खुश हो गई | फिर भाभी मेरे पास आकर बैठ गई उस दिन भाभी वाकई में मस्त माल लग रही थी | उनके होट मस्त लग रहे थे और उनके दूध भी इतने मस्त लग रहे थे की क्या बताऊ |

फिर भाभी मुझसे पूछने लगी की अमित क्या सोच रहे हो फिर मैंने भाभी से बोला कि भाभी आपके होट बहुत मस्त लग रहे है | यह सुनकर भाभी हसने लगी और और मुझसे कहने लगी कि क्यों तुम्हे किस करने की इक्च्छा हो रही है क्या अर्पित | मैंने भाभी से कह दिया हाँ भाभी आपकी होट को देख कर ऐसा लग रहा है कि आपको किस कर लूँ तो फिर भाभी और पास आकर बैठ गई और मुझसे कहने लगी कि कर लो किस मुझे | मैं तो बहुत खुश हो गया और उसके बाद भाभी को मैं सोफ्हे में लेटा कर किस करने लगा | और जब मैं भाभी को को किस कर रहा था तो भाभी मुझे जोर से काट रही थी | मैं भी उनके मस्त होट को किस करते ही जा रहा था | फिर उसके बाद भाभी मुझसे कहने लगी कि तुम बहुत अच्छे खिलाडी हो पहले भी किसी को किस किया है क्या तुमने ? तो फिर मैंने भाभी से बताया कि हां मैंने दो बार अपने घर के बाजु वाली लड़की को किस किया है क्योकि वो मुझे बहुत पसंद करती है | इसलिए मैंने उसे पटा कर दो बार किस कर छोड़ दिया | यह बात सुनकर भाभी मुझसे कहने लगी की तुम मुझे तो नहीं छोड़ोगे ना | फिर मैंने भाभी से कहा कि में आपको कभी नहीं छोड़ने वाला क्योकि आप मुझे बहुत अच्छी लगती हो | यह बात सुनकर भाभी और भी ज्यादा खुश हो गयी और मुझे फिर से अपने तरफ खीच लिया और फिर से किस करने लगी | फिर काफी समय हो गया और अर्पित का घर आने का समय हो गया | तो फिर में भाभी को उस समय चोद नहीं पाया | फिर भाभी मुझसे कहा कि अमित कल अर्पित के भैया और अर्पित दोनों भोपाल जा रहे है और ख़ुशी की बात यह है की मम्मी पापा भी कही रिश्तेदारी में जा रहे है इसलिए तुम कल घर आना और मुझे बहुत चोदना मुझे तुमसे चुदने का बहुत मन कर रहा है | जबसे मैंने तुम्हे देखा है मुझे तुमसे चुदने का बहुत ही ज्यादा मन कर रहा है |

फिर मैंने भी भाभी से बोला कि मैंने भी आपको जबसे देखा मुझे भी आपको बहुत ही ज्यादा चोदने का मन करता है | फिर भाभी कहने लगी अच्छा चलो अब वो दिन आ गया कल तुम घर आना और मुझे बहुत चोदना और भाभी ने मेरा मोबाइल नंबर ले लिया और कहने लगी जब सब घर से चले जायंगे तो में तुम्हे फ़ोन करके बुला लुंगी | फिर में अर्पित के आने से पहले ही अपने घर चला जाता हूँ और दुसरे दिन का इन्तजार करता हूँ क्योकि मुझसे बिलकुल रहा नहीं जा रहा था मुझे बस भाभी को चोदने का ही मन कर तरह था | फिर भाभी को चोदने का  इन्तजार करते करते रात हो जाती है | और मैं इतना खुश था की भाभी को चोदने की ख़ुशी मैं मुझे रात नींद ही नहीं आ रही थी फिर इन्तजार करते करते सुबह हो गई | और फिर शिर्फ़ मुझे भाभी के फ़ोन का इन्तजार था की कब भाभी का फ़ोन आय और में उनको उनके घर जाके चोदु फिर इंतजार करते करते भाभी का फ़ोन आता है |में फ़ोन देख कर बहुत खुश हो जाता हूँ | फिर भाभी का फ़ोन जेसे ही में उठता हूँ तो भाभी मुझसे कहती है अमित सभी लोग चले गये है आ जाओ घर अब मुझे चोदने के लिए में तैयार हूँ | यह बात सुनकर तो मुझसे बिलकुल भी सब्र नहीं हुआ और मैं तुरंत भाभी के घर गया | जैसे ही मैं भाभी के घर पहुंचा और अन्दर जाके भाभी को देखा तो भाभी मस्त तैयार होकर बेड पर बैठी हुई थी | भाभी इतनी खुबसूरत लग रही थी की उनको देख कर मेरा लड़ तुरंत खड़ा हो गया | फिर भाभी मुझे देखकर खुश हो गयी और मुझसे चोदने के लिए कहने लगी | फिर मुझसे बिलकुल भी नहीं रहा गया और मैं भाभी के पास बेड पर गया और उनसे लिपट गया और उनको चूमने लगा | मैं उनके दूध को दबाने लगा और जब मैं भाभी के दूध दबा रहा था तो भाभी आआअह्ह्ह्ह आआअह्ह्ह्ह ऊऊह्ह्ह्ह  आआह्ह्ह आःह्ह ऊउह्ह्ह ऊऊह्ह्ह कर रही थी | फिर भाभी ने अपनी साड़ी और बिलाउज उतार दिए और ब्रा भी अपने दूध को मेरे मुह में लगा दिया | मुझे भाभी के दूध बहुत मस्त लग रहे थे और में उनके दूध को बहत दबा रहा था और पी रहा था | भाभी को बहुत मजा आ रहा था वो तो बस मुझसे लिपट कर आआआह्ह्ह आह्ह्ह ऊऊह्ह्ह्ह उह्ह्ह्ह  आआअह्ह्ह आआह्ह्ह कर रही थी |

फिर भाभी ने मेरे लंड को पकड़ा और और मुझसे अपनी चूत में डालने को कहने लगी | फिर मैंने अपने मस्त मोटे लंड को भाभी की मस्त गोरी गोरी चूत में डाला | जेसे ही मैं भाभी की चूत में अपना लंड डाला तो मुझे इतना आनंद आया कि मैं क्या बताऊ और फिर मैं भाभी को भाभी को चोदने लगा | मुझे भाभी को चोदने में बहुत ही ज्यादा आनंद आ रहा था और भाभी को भी बहुत आनंद आ रहा था | मैं भाभी को बहुत चोद रहा था और भाभी तो आआआआह्ह्ह आआआआह्ह्ह्ह ऊऊउह्ह्ह कर रही थी और फिर मुझसे कहने लगी की अमित तुम कितना मस्त चोदते हो | अर्पित के भैया को चोदते तक नहीं बनता है | यह बात सुनकर फिर मैंने भाभी से कहा की भाभी आप अब टेंशन मत लो अब मैं हूँ आपको चोदने के लिए | भाभी यह बात सुनकर बहुत खुश हो गई और मुझे किस करने लगी और मैं तो सिर्फ भाभी को चोदता ही जा रहा था मुझे उनको चोदने में बहत ही मजा आ रहा था और उनके मस्त दूध को भी दबा रहा था और पी रहा था | भाभी तो बस बार बार सिर्फ चोदने को ही बोल रही थी | भाभी खूब आआअह्ह्ह आःह्ह ऊऊह्ह्ह्ह ऊऊह्ह्ह कर रही थी और छोड़ने को तैयार ही नहीं हो रही थी | भाभी मुझसे पूरा दिन चुदी और फिर शाम हो गई और फिर मैंने भाभी से बोला की भाभी अब कल आऊंगा मैं आपको चोदने | भाभी उस दिन बहुत खुश थी और फिर उसके बाद मैं अपने घर चला गया | फिर से दूसरे दिन मैं भाभी के घर गया और भाभी को को इतना चोदा की क्या बताऊ भाभी मुझसे बहुत खुश थी | फिर उसके बाद चुदते चुदते भाभी की चूत में दर्द होने लगा | फिर भाभी मुझसे कहने लगी की अमित अब बस करो मेरी चूत में बहुत दर्द हो रहा है | फिर उसके बाद में भाभी मुझसे कहने लगी की अब मै हमेसा तुमसे ही चुदुंगी | में दो दिन भाभी को बहुत चोदा और भाभी के बहुत दूध पिया और अब तो ये मेरा रोज़ का काम बन गया है |


Comments are closed.