लड़की अच्छी उसकी चूत अच्छी

Ladki achchhi uski chut achchhi:

हैलो दोस्तों मेरा नाम गौतम है और मैं पंजाब का रहने वाला हूँ | मेरे घर में मेरे मम्मी पापा मैं और एक छोटा भाई है और मेरे पापा पुलिस में अच्छी पोस्ट पे हैं तो हमारे घर में पैसे की कोई कमी नहीं है | अभी मैं 26 साल का हूँ और नौकरी की तलाश में हूँ लेकिन पापा ने कहा है पुलिस में जुगाड़ है लगवा देंगे तब तक मैं थोडा ऐश कर लूँ | तो मैं अभी ज्यादा कुछ नहीं करता सुबह उठता हूँ टी.वी. देखता हूँ और शाम को जिम चला जाता हूँ | वैसे आज की जो स्टोरी है वो जिम से ही रिलेटेड है | दोस्तों दिखने में तो मैं बचपन से ही स्मार्ट था लेकिन जिम ने मुझमें चार चाँद लगा दिए | वैसे अभी तक मैं 10 से ज्यादा लडकियाँ पटा चुका हूँ और उनमें से 8 को चोद भी चुका हूँ | ये कहानी उन्ही में से एक के साथ की है, तो आओ दोस्तोंसीधा कहानी पर चलते है |

बातलगभग एक साल पहले की है जब मेरे जिम में एक नई लड़की आई थी और उसको एक्सरसाइज करते देख मेरा मन मचलता था| वैसे मैं जिस जिम में जाता हूँ वो रहीसों की जिम है और लड़के लडकियाँ साथ में एक्सरसाइज करते है | वैसे ज्यादातर लडकियाँ एक्सरसाइज करती है और लड़के उनको देखते रहते है | तो एक महीने हो रहा था और मैं सिर्फ उसको देख ही बस रहा था और वो भी इस बात पर गौर करती थी कि मैं उसको देख रहा हूँ लेकिन कोई इशारा नहीं देती थी |एक दिन जब मैं वापस जाने के लिए बाइक निकाल रहा था तब वो वहीँ खड़ी देख रही थी | तो मैं उसके पास गया और पूछा कहीं छोड़ सकता हूँ आपको ? तो उसने कहा नहीं मैं चली जाऊँगी | तो मैंने कहा अरे गाड़ी खाली जाएगी इससे अच्छी है किसी के काम आ जाये | तो उसने एक प्यारी सी स्माइल दी और आके बैठ गई | अब भाई अपन उत्तेजित हो गए क्यूंकि लड़की पीछे बैठी और ऊपर से कंधे पे हाँथ रख के और बैठने के बाद उसने कहा नाईस बाइक | बस अब मैंने उससे पूछा कहाँ छोड़ना है और उसने जो जगह बताई वहाँ के लिए निकल पड़ा |

उसने मुझसे पूछा तुम क्या करते हो ? तो मैंने बताया मेरा पुलिस में सिलेक्शन हो गया है बस कॉल लैटर आना बाकी है | तो उसने कहा अच्छा और आपके पापा, तो मैंने बताया वो भी पुलिस में है | तो उसने पूछा पुलिस में है फिर भी इतनी अच्छी लाइफस्टाइल मेन्टेन कैसे कर लेते हो ? तो मैंने कहा तुम्हें क्या लगता है मेरे पापा ठुल्ले है क्या ? मेरे पापा ए.एस.पी. है और हमारे घर में पैसे की कोई कमी नहीं है, अरे मैं तो इतना अमीर हूँ कि मेरे आधार कार्ड में भी लाखों रुपए पड़े है | तो वो हँसने लगी और कहने लगी तुम बातें बहुत अच्छी करते हो और मज़ाक भी | इतना अच्छा सफ़र चल रहा था तभी उसका घर आ गया और वो उतरी और कहा बाय कल मिलते है और फिर वो चली गई और मैं उसकी गांड देखता रह गया | अगले दिन मैं ज्यादा वेट से एक्सरसाइज कर रहा था और सपोर्ट के लिए उसको बुला रहा था, एक बात पे मैंने ध्यान दिया जब वो मुझे सपोर्ट दे रही थी तो बाकी सब अपनी एक्सरसाइज छोड़ के हमें ही देख रहे थे, जैसे ब्लू फिल्मों की तरह एक्सरसाइज के बाद हम चुदाई करने लग जायेंगे | उस दिन जिम के बाद लड़के मुझसे बोल रहे थे भाई जिम करने में मज़ा तो बहुत आया होगा और मैं ख़ुशी के मारे पानी पानी हुआ जा रहा था |

फिर उस दिन उसने कहा चलो घर छोड़ दो, तो मैंने कहा अब रोज़ रोज़ छोड़ना पड़ेगा क्या ? तो उसने कहा अब गाड़ी खाली जाएगी इससे अच्छा है किसी के काम आ जाये क्यों | तो फिर उस दिन मैंने उसको घर छोड़ा और राते में उससे कहा अच्छा अपना नंबर दे दो, मैं तुम्हें लेने भी आ जाया करूँगा | तो उसने कहा नहीं नंबर नहीं दूंगी, तो मैंने कहा अच्छा ठीक है जब तक नंबर नहीं दोगी घर नहीं छोडूंगा और उसके लेकर मैं थोडा दूर निकल आया | उसने कहा अच्छी ज़बरदस्ती है, तो मैंने उसकी कमर में हाँथ डाला और अपने से चिपका के कहा देखो नंबर दे दो वरना किस ले लूँगा | तो वो थोडा सहम सी गई, तो मैंने कहा अरे डरो मत कुछ नहीं करूँगा और उसको वापस लेकर उसके घर छोड़ दिया| जैसे मैंने उसको उसके घर के सामने छोड़ा तो उसने कहा अच्छा अपना नंबर दो अगर मन हुआ तो कॉल करुँगी, तो मैंने अपना नंबर दिया और चला गया | फिर उसने रात को 11 बजे कॉल किया और 1 घंटे तक चाटती रही और मैं भी हाँ हम्म ठीक है करता रहा |

अब इसी तरह दो हफ्ते तक बातें चली और उसके बाद मैंने उसको प्रोपोस मार दिया | उसने एक दिन सोचने के लिए लिया और अगले दिन हाँ कर दी | अब जिम में अक्सर मैं उसके दूध दबाता था और कभी कभी उसकी गांड भी और अगर ज्यादा कोई नहीं होता था तो मैं उसकी चूत भी रगड़ दिया करता था और वो हमेशा यही कहती रहती थी कि छोड़ो कोई देख लेगा | अब भाई जिम तो बड़ी थी और वहाँ पे रेस्टरूम रूम, लॉकरऔर बड़े बड़े बाथरूम थे जहाँ पे आराम से चुदाई कर सकते थे | तो अगले दिन वक़्त था सुबह 6 बजे का और दिन था नवरात्रि के एक दिन बाद का और उस दिन ज्यादा किसी के आने की उम्मीद भी नहीं रहती है और हम दोनों पहुँच गए | मैंने 15 मिनिट तक इंतज़ार किया और जैसे ही मुझे लगा कि कोई नहीं आ रहा है, तो मैं उसको बाथरूम में ले गया और कहा देखो आज कोई नहीं आ रहाहै और इस मौका के फायेदा उठा लेते है, तो उसने कहा नहीं मेरा मन नहीं है, तो मैंने कुछ नहीं कहा और सीधे अपना लंड बाहर निकाल के उसके हाँथ में पकड़ा दिया | वो थोड़ी देर तक तो चुपचाप लंड पकड़ के खड़ी रही, पतानहीं क्या सोच रही थी तो मैंने उसको किस करना शुरू किया और उसने मेरा लंड दबा दिया और किस करने में मेरा साथ देने लगी |हम थोड़ी देर तक किस करते रहे और वो मेरा लंड हिलाती रही |

फिर वो घुटनों पर बैठ गई और मेरा लंड हिला हिला के चूसने लगी, वो मेरा लंड पूरा अन्दर लेकर चूस रही थी जिससे मुझे बहुत मज़ा आ रहा था | फिर मैंने उसको बेसिन के ऊपर बैठाया और उसका पजामा और टॉप उतार के उसके दूध चूसने लगा और वो अपनी चूत रगड़ते हुए अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्हह्ह्ह्ह करती रही | फिर मैंने उसकी चूत में में ऊँगली करना शुरू किया और अब वो अपने दूध दबाते हुए उम्म्मम्म्म्म उम्म्मम्म अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्हह्ह्ह्ह करने लगी | थोड़ी देर उसकी चूत में ऊँगली करने के बाद मैंने उसकी चूत चाटना भी शुरू कर दिया और वो ऊपर से अपनी चूत रगड़ते हुए सिसकियाँ लेती रही | अब मेरा लंड पूरी तरह से चूत में प्रवेश के लिए तैयार था और बहुत देर से तो तड़प भी रहा था, तो मैंने उसको ज्यादा देर इंतज़ार ना कराते हुए, उसकी चूत परा लंड रगड़ना शुरू कर दिया और वो धीमी आवाज़ में सिस्कारियां भरने लगी |

फिर मैंने उसकी चूत में लंड डाल दिया और उसको धीरे धीरे चोदने लगा और वो मचलती रही | मैंने उसको थोड़ी देर ही चोदा और मेरा झड़ गया लेकिन मेरा इतने से मन नहीं भरा, तो मैंने उसको फिर से लंड चुसवाना शुरू कर दिया और वो बड़े मज़े ले लेकर चूसती रही | उसने मेर लंड चूस कर खड़ा किया और फिर मैंने उसको घुमाके खड़ा किया और पीछे से उसकी चूत में लंड डाल दिया और उसको चोदने लगा | वो मचलती रही और मैं झटके मारता रहा | फिर मैंने उसका एक पैर उठाके ऊपर रखा और अब और अन्दर तक डाल कर उसको चोदने लगा और वो अब जोर जोर ससे आह्ह्ह्हह्ह हह्ह्ह्हह्ह अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्हह्ह्ह्ह आह्ह्ह्हह्ह्ह्ह आआआआ उम्म्मम्म्म्म उम्म्मम्म अह्ह्हह्ह्ह्ह अह्ह्हह्ह्ह्ह करती रही | थोड़ी देर में मेरा फिर से निकलने को हो गया और मैंने सारा माल उसके मुंह के ऊपर झड़ा दिया और वहीँ खड़ा रहा | तभीहमें किसी के आने की आहट हुई तो हम दोनों ने अपने कपडे उठाये और जल्दी से टॉयलेट के अन्दर घुस गये | फिर हमने अपने कपडे पहने और अन्दर ही बैठकर किस करते रहे जब तक हमें लगा कि माहौल बिलकुल शांत है | फिर हम बाहर आये और मैंने उसको घर छोड़ा और उसके बाद मैं अपने घर चला गया |

फिर मुझे रात में चुदाई करने का मन होने लगा और मैंने कहा सुन तेरे घर आ रहा हूँ | मैंने जैसे तैसे पाइप से चढ़ के उसके घर में दाखिला लिया और उसके बाद उसको रात में भी चोदा और उसके बाद हम दोनों अक्सर चुदाई में लीन रहते हैं और मुझे भी अच्छा लगता है |


Comments are closed.