किराने की दुकान वाली भाभी

Kirane ki dukan wali bhabhi:

bhabhi sex stories

हाय फ्रेंड्स, कैसे हैं आप सभी ? मैं उम्मीद करता हूँ कि आप सभी अच्छे होंगे और चुदाई के मजे ले रहे होंगे | पर हिसाब से लेना दोस्तों शरीर की गर्मी का तापमान में अगर मौसम का तापमान मिल गया तो मुन्हचोदी हो जायगी | मेरा नाम सुनील है और मैं गाडरवारा में रहता हूँ | मेरी उम्र 29 साल है और मैं अभी प्राइवेट जॉब करता हूँ | मैं दिखने में सांवला हूँ और मेरी हाईट 5 फुट 8 इंच है और शरीर गठीला है | फ्रेंड्स मैं इस साईट का दैनिक पाठक हूँ और मुझे इस साईट में सभी कहानियां पढ़ना अच्छा लगता है | मैं अक्सर रात में ही अपने मोबाइल में इस साईट को खोल कर चुदाई की कहानी पढ़ कर मजे लेता हूँ | आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी पोस्ट करने जा रहा हूँ ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना है | मैं आशा करता हूँ कि आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आएगी | तो अब मैं आप लोगो का समय न लेते हुए अपनी कहानी शुरू करता हूँ |

फ्रेंड्स ये घटना कुछ दिनों पहले की है | मेरे घर में मैं, मेरे पापा ( राजुलकर ), मम्मी ( हेमलता ) और एक भाई ( सचिन ) रहते हैं | मेरा भाई भी प्राइवेट जॉब ही करता है और पापा सरकारी एम्प्लोयी हैं | मम्मी हाउसवाइफ हैं | मैं मसाले बेचता हूँ मतलब कि मैं एक सेल्समेन हूँ | मेरा रहन सहन सिंपल है लेकिन मैं अभी ऐसा हूँ | पहले जब मैं स्कूल में पढाई करता था तब मेरी दोस्ती बहुत ही बिगड़े लडको से हो गई थी और उन्होंने मुझे सिगरेट पीना, गांजा पीना, शराब पीना सिखा दिया था | लेकिन मैंने इन सब की लत नहीं पाली | हाँ कभी कभी शौक के लिए कर लेता हूँ पर रोज नहीं | मेरा काम दिन भर धुप में भटकना है हर दुकानों में जा कर उनको स्कीम समझा कर मुझे सामान बेचना पड़ता है | मैं एक दिन में लगभग 40000 की सेल या उससे ज्यादा तो कभी थोडा काम लाता ही हूँ | इसलिए मेरे सेठ लोग मुझसे और मेरे काम से हमेशा खुश रहते हैं | जब भी मुझे छुट्टी चाहिए रहती है तो आराम से वो दे देते हैं और मेरा पैसा भी नहीं कटता क्यूंकि मैं छुट्टी भी बहुत कम ही लेता हूँ और मुझे साल में जितनी छुट्टियाँ मिलती हैं वो मैं अगले साल में कवर कर लेता हूँ या जब मुझे कुछ ज्यादा जरुरी काम रहता है तो | मेरी एक गर्लफ्रेंड है जिसका नाम सोनी है और दिखने में गोरी है और उसका फिगर बहुत ही ज्यादा सेक्सी है | उसकी आँखे और उसके होंठ देख कर ही मैंने उसे पसंद किया था | पहले तो मुझसे वो बात नहीं करती थी लेकिन धीरे धीरे बात होना चालू हुई और बात होते होते हम दोनों प्यार में आ गए | मेरे घर वालो को सोनी के बारे में सब कुछ पता है और सोनी हर सन्डे मेरे घर भी आती है | जब भी मुझे मौका मिलता है तो मैं उसे चोद भी देता हूँ | सोनी के घर वालो को मेरे बारे में नहीं पता लेकिन मेरे घर वाले जरुर जानते हैं कि मैं शादी करूँगा तो सिर्फ सोनी से ही करूँगा | क्यूंकि मैं उससे बहुत प्यार करता हूँ और वो भी मुझसे बहुत प्यार करती है | एक दिन कि बात है दोपहर के करीब 1:25 बज रहे होंगे और उस दिन मेरा मार्किट पूरा ठंडा पड़ा था | उस दिन मैंने सोच ही लिया था इतने साल का मेरा सेल्स का रिकॉर्ड आज टूट ही जायेगा अगर राजेस्थान किराना बंद हुई तो | जब मैं वहां गया तो जो उनके मालिक हैं वो कहीं किसी जरुरी काम से जा रहे थे तो मैंने पहले उन्हें नमस्ते किया तो उन्होंने भी नमस्ते किया | मैंने कहा कि कुछ माल लगेगा क्या ? तो उन्होंने कहा हाँ यार लगेगा तो जरुर पर मैं किसी काम से जा रहा हूँ तो तुम मेरी बीवी से बात कर लो वो जितना सामान लगेगा लिखा देगी |

बाकी तुम अपने हिसाब से उसको समझा देना | मैंने कहा ठीक है | जब मैं शॉप पर गया तो देखा कि एक दम गोरी महिला | एक दम चमचमाता हुआ चेहरा | उसे देख कर तो मेरा लंड ही खड़ा हो गया | मैंने उनसे भी नमस्ते किया और कहा कि सर ने कहा कि आप सामान का आर्डर देंगे | तो उन्होंने कहा हाँ पर आप पहले मेरे साथ रूम तक चलिए मुझे एक सामान निकलवाना है | उसने अपने नौकर से कहा कि तुम देखो कौनसा सामान कितना कम है फिर मैं आती हूँ | मैं जब उनके रूम में गया तो उन्होंने मुझसे कहा कि देखो मेरे पति अभी यहाँ है नहीं और बच्चे भी नहीं है | अच्छा मौका है मुझे चोद दो क्यूंकि मेरे पति का लंड अब खड़ा नही रहता है और मुझे चुदाई चाहिए | थोड़ी देर तक मैं सोचता रहा फिर मैंने कहा कि अगर कोई आ गया तब ? तो उसने कहा कि मेरी मर्जी के बगैर मेरे पति नहीं आते बाकी और कौन आएगा | मेरा लंड तो खड़ा ही था | मैंने सोचा कि अब जो होगा देखा जायेगा और जैसे ही वो मुड़ी तो मैंने उसे पीछे से पकड़ लिया और उसके बड़े बड़े बोबे दबाने लगा | उसने मुझसे कहा आराम से जानेमन कहीं नहीं भागी जा रही हूँ | तो मैंने उसे अपनी तरफ घुमाया और और उसके होंठ में अपने होंठ रख कर किस करने लगा | वो भी मेरा साथ देते हुए मेरे होंठ को चूमने लगी | मैं उसके होंठ को चूसते हुए उसके दूध भी मसल रहा था और वो मुझे किस करते हुए मेरे बांहों में लिपटी हुई थी | किस करने के बाद मैंने उसके टॉप को निकाल दिया और और उसने मेरी टी-शर्ट को को उतार दिया | मैं उसके ब्रा के ऊपर से ही उसके बोबे को दबाने लगा तो उसके मुंह से आहा ऊउंह उम्म्ह अह़ा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह उमंह की आवाज़ निकलने लगी | उसके ब्रा को भी मैंने उतार दिया और उसके दोनों बोबे को अपने मुंह में ले कर बारी बारी से चूसने लगा तो वो आहा ऊउंह उम्म्ह अह़ा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह उमंह करते हुए सिस्कारियां भरने लगी | मैंने उसके दोनों दूध को बारी बारी से जोर जोर से मसलते हुए चूस रहा था और वो आहा ऊउंह उम्म्ह अह़ा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह उमंह करते हुए मजे ले रही थी | उसके बाद वो मेरी छाती को चूमते हुए अपने घुटनों के बल जमीन पर बैठ कर मेरे जीन्स को उतार रही थी और फिर अंडरवियर को भी |

अब मैं पूरा नंगा था तो वो मेरे लंड को अपने हाँथ में ले कर हिलाने लगी | फिर उसने मेरे लंड पर अपनी जीभ फेरने लगी तो मेरे मुंह से भी आहा ऊउंह उम्म्ह अह़ा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह उमंह की आवाज़ निकलने लगी | वो मेरे लंड को जीभ से सहलाते हुए चाट रही थी और मेरे दोनों गोटो को भी चूस रही थी और मैं आहा ऊउंह उम्म्ह अह़ा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह उमंह करते हुए सिस्कारियां ले रहा था | मेरे लंड को उसने 10 मिनट तक चूसा | उसके बाद मैंने उसे उठाया और उसने अपनी जीन्स उतार कर अलग कर दी और मैंने उसकी पेंटी को सरका के नीचे कर दिया | फिर मैंने उसे लेटा दिया और उसकी टांगो को फैला कर चूत को जीभ से चाटने लगा तो वो आहा ऊउंह उम्म्ह अह़ा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह उमंह करने लगी | मैं अपनी जीभ से उसकी चूत को रगड़ते हुए चूत में उँगलियाँ भी चला रहा था और वो आहा ऊउंह उम्म्ह अह़ा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह उमंह करते हुए चूत चटाई के मजे ले रही थी | उसके बाद मैंने अपने लंड को उसकी चूत में रख कर थोड़ी देर सहलाया और फिर दो शॉट में अन्दर घुसेड दिया और चोदने लगा शॉट मारते हुए तो वो भी आहा ऊउंह उम्म्ह अह़ा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह उमंह करते हुए मचलने लगी | फिर मैंने अपनी चुदाई की रफ़्तार बढ़ा दिया और जोर जोर से शॉट मारते हुए उसे चोदने लगा तो वो भी आहा ऊउंह उम्म्ह अह़ा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह उमंह करते हुए अपनी कमर उठा उठा कर चुदाई में साथ दे रही थी | फिर मैंने उसको घोड़ी बना दिया और उसके पीछे जा कर अपने लंड में तेल लगाया और उसकी गांड में घुसेड दिया और उसकी गांड चोदने लगा तो वो आहा ऊउंह उम्म्ह अह़ा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह उमंह करते हुए अपनी गांड आगे पीछे करते हुए चुदवा रही थी | 20 मिनट की चुदाई के बाद मैंने अपना वीर्य उसकी गांड में ही डाल दिया |

तो फ्रेंड्स, ये थी मेरी कहानी | मैं उम्मीद करता हूँ कि आप लोगो को मेरी कहानी अच्छी लगी होगी |


Comments are closed.