कामुक लड़की के साथ सेक्स

Kamuk ladki ke sath sex:

antarvasna sex stories

हेल्लो दोस्तों, मेरा नाम राजीव है और मैं आप लोगों की तरह Free Hindi Sex Stories का पाठक हूँ | आज मैं आप लोगों के सामने अपने जीवन की एक सच्ची घटना लेकर हाजिर हूँ | आशा है की आप लोगों को पसंद आएगी | चलिए शुरू करता हूँ |

दोस्तों, पिछले साल की बात है | मैं अपनी कार से मनाली जा रहा था | दोस्तों से बोला था साथ चलने के लिए लेकिन वो बिजी थे और मेरा मन था इसीलिए मैं अकेला ही निकल लिया था | मनाली से लगभग 100 किलोमीटर पहले मैं एक ढाबे पर रुका | वहां मैंने कुछ नाश्ता किया और फिर से चलने को तैयार हो गया | अभी मैं कार में घुसने वाला ही था की किसी ने पीछे से आवाज़ दी | मैं पीछा मुड़ा तो देखा की एक 23-24 साल की खुबसूरत सी लड़की टॉप और शॉर्ट्स पहने खड़ी थी | वो लडकी काफी अच्छे घर की लग रही थी और उसका फिगर भी काफी सेक्स था | मैंने बोला – यस, मैं आपकी मदद कैसे कर सकता हूँ ? वो बोली – क्या आप भी मनाली जा रहे हैं ? मैंने बोला – हाँ, लेकिन आप भी मतलब ? क्या आप भी मनाली जा रही हैं ? वो बोली – हाँ, मैं दिल्ली की रहने वाली हूँ और सोलो ट्रिप यानि की अकेले घुमने के लिए मनाली जा रही हूँ | उसने बताया की उसे अकेले घूमना पसंद है इसीलिए कार नही लायी अपनी | मैंने कहा – अच्छा है | वो बोली – क्या आप मनाली तक मुझे छोड़ सकते हैं ? मैंने बोला – हाँ, जरुर | अब वो मेरे साथ आगे की सीट पर बैठ गयी और मैं कार चलाने लगा |

वो बड़ी चंचल किस्म की लड़की थी | उसने बोला – कोई गाना वगैरह चला दो, क्यूँ बोर हो रहे अकेले | फिर मैंने एक अंग्रेजी गाना चला दिया | वो बोली – इस टाइम अंग्रेजी गाना सुनने का मूड नही है मेरा | अगर आपको बुरा न लगे तो क्या मैं कोई देसी गाना चला लूं ? मैंने बोला – हाँ, जरुर | इतना कहते ही उसने मेरी कार का ऑडियो जैक निकाला और अपने फ़ोन में लगा लिया | अब उसने एक हरयाणवी गाना “तेरी आँख्यां का यो काजल, मन्ने करे से गोरी घायल” चला दिया | मैं समझ गया की वो फुल मस्ती के मूड में है | वो बैठी बैठी थोडा बहुत डांस भी कर रही थी | मुझे भी अच्छा लग रहा था | ऐसे ही मस्ती करते हम दोनों मनाली पहुँच गये | वहां पर जाके मैंने बोला – तुम कहाँ रुकोगी ? वो बोली – मैंने कुछ सोचा नही है, शायद तुम्हारे साथ | मैंने बोला – लेकिन मैं तो तुम्हारे लिए अजनबी हूँ | वो बोली – तो क्या हुआ, अब तो दोस्ती भी हो चुकी है और वैसे भी मुझे मार्शल आर्ट आता है | मैंने बोला – ओके, लेकिन उसकी जरूरत नही पड़ेगी |

फिर हम दोनों गये और एक टेंट बुक किया | वो टेंट एक खुली जगह पर था | हम दोनों ने रात का खाना खाया और और थोड़ी देर खुले आकाश के निचे टहलने के बाद साथ में लेटने चले गये | हम दोनों उस टेंट में गये और लेट गये | अब मैं सोच रहा था की अगर मैं खुद से कुछ शुरू करूंगा तो ये गुस्सा हो जाएगी और बुरा भी मान सकती है | इसीलिए मैंने अपने अरमानों को कण्ट्रोल किया | मैंने कम्बल ओढ़ लिया और सोने की कोशिश करने लगा | अभी थोड़ी झपकी आई थी की अचानक से मुझे मेरे सीने अपर कुछ महसूस हुआ | मैंने आँख खोली तो देखा की वो मुझसे लिपटी हुई थी और उसका सर मेरे सीने पर था | मैंने पहले तो सोचा की क्या करूं लेकिन फिर मैंने भी उसे अच्छे से अपनी बाँहों में ले लिया | उसने अपनी आँखें खोल दी | मैं अन्दर ही अन्दर थोडा डर गया | वो बोली – मुझे अच्छा लगा की तुमने इतना करीब होने के बावजूद खुद से कुछ नही किया | अब मेरी इजाजत है | मैं बोला – अरे ठीक है, नही करेंगे तो भी चलेगा | वो बोली – और अगर मैं कहूं मेरा भी मन है तो ? मैं बोला – ओके, अगर ऐसा है तो ठीक है |

अब मैंने उसको किस करना शुरू कर दिया | वो भी मुझे जोर जोर से किस करने लगी | मुझे मजा आ रहा था | मैंने इतनी हॉट बंदी को कभी किस नही किया था | किस करते करते मैंने उसकी गर्दन को चूमना शुरू कर दिया | वो भी मेरे सीने पर हाथ फिराने लगी | मुझे अच्छा लग रहा था | अब मैंने उसके बूब्स को हलके से सहलाना शुरू कर दिया | वो बहुत धीमे धीमे सिसकियाँ लेने लगी | मैंने अब उसको अच्छे से लिटाया और उसके ऊपर आ गया | अब मैंने उसको जोर जोर से फिर से किया करना शुरू किया और उसके बूब्स को मसलने लगा | उसकी सिसकियाँ तेज होने लगीं | मैंने अब उसका टॉप ऊपर कर दिया और उसकी ब्रा को भी ऊपर कर दिया | उसके हॉट बूब्स मेरे सामने थे | मुझे यकीन नही हुआ की इतने हॉट बूब्स वाली लड़की को मैं चोदने वाला हूँ | मैंने उसके बूब्स को बिना देर किया चुसना शुरू कर दिया | वो आह्ह  ह हह ह हह ह ह्ह्ह हू उ ऊ ऊऊ ऊ उ उ उ उम् मम म मम्म म्मम्म मम मम्म म म अहह ह हह हह ह्ह्ह हह ह हह करने लगी | मैंने बीच बीच में उसे किस भी करना जारी रखा | उसे मजा आने लगा | अब मैं उसेक दुसरे दूध के निप्पल को चुसना शुरू किया | वो आह्ह्ह ह हह ह हह ह करने लगी |

अब मैंने उसके शोर्ट पैंट के ऊपर से उसकी चूत को सहलाना शुरू कर दिया | उसने मना नही किया तो मैं समझ गया की पक्का ग्रीन सिग्नल है | मैंने अब उसकी बेल्ट खोली और उसकी शोर्ट पैंट को नीचे कर दिया | उसे लाल रंग की पैंटी पहनी हुई थी | दोस्तों उसकी चूत से एक भीनी सी खुशबू आ रही थी | मुझे रहा नही गया और मैंने उसकी पैंटी भी निकाल दी | उसकी चूत देखकर मेरे तो जैसे होश उड़ गये | गुलाबी, एकदम चिकनी गोरी सी चूत.. ऐसी जैसे मैंने असलियत में कभी देखि भी नही | मुझसे रहा नही गया और मैंने उसकी टांगों को फैला कर अपनी जीभ घुसा दी | वो चिहुंक पड़ी | मैं उसकी चूत को चाट रहा था और वो जोर जोर से मेरा सर पकड़ कर आह हह ह्ह्ह्हह हह उ ऊऊ उ ऊ उ उ ऊ ऊऊ उ ऊ ऊऊ ऊऊ उम् मम मम म म ओह हह ह हह हह ह हह ह हह हह ऊऊ उ ऊ उ उ उ ऊ ईई इ ई इ इ ई इ इ इ ई इ इ कर रही थी | उसकी चूत का नमकीन स्वाद लाजवाब था | मैंने उसकी चूत चाटना जारी रखा | लगभग 10 मिनट में वो झड गयी और उसकी चूत ने अपना रस छोड़ दिया | मैंने उसकी चूत के रस का एक बूँद भी नही छोड़ा और सब पी गया |

अब मैंने उसके ऊपर आ गया और उसे किस करने लगा | वो समझ गयी की अब बारी उसकी है | उसने मुझे लिटाया और मेरे कपडे निकालने शुरू कर दिए | कपड़े निकालते हुए जब उसने मेरा बड़ा सा लंड देखा तो वो खुश हो गयी और तुरंत ही उसे हाथ में लेकर सहलाने लगी | उसके मखमली हाथों के टच से मेरा लंड पूरी फॉर्म में आ गया और सख्त होकर खड़ा हो गया | उसके फिर मेरे लंड पर चूमना शुरू कर दिया और मेरे लंड को मुंह में लेकर चूसने लगी | मुझे मजा आने लगा | दोस्तों, उसके लंड चुसाई का तरीका लाजवाब था | मुझे लगा की मैं झड जाऊंगा इसीलिए मैंने खुद उसे बीच में रोक दिया | अब मैंने उसको मेरे लंड पर बैठने को बोला | वो मान गयी | मैं लेता था और वो मेरे ऊपर आकर बैठ गयी | मैंने उसे कमर से पकड़ा और अपना लौड़ा उसकी चूत पर टिका दिया | अब वो धीरे धीरे मेरे लंड को अपनी चूत में लेने लगी | उसे दर्द हो रहा था इसीलिए मैंने बीच बीच में उसे किस भी किया | जब लंड पूरा घुस गया तो वो हलके हलके से उछलने लगी | मुझे मजा आने लगा | मैंने धक्के तेज कर दिए तो उसे दर्द ज्यादा होने लगा लेकिन वो भी मजे ले रही थी अब |

लगभग आधे घंटे की चुदाई के बाद मैं जब झड़ने वाला हुआ तो मैंने उसे साइड किया और जमीन पर अपना माल झाड दिया | ये थी मेरी कहानी |


Comments are closed.