जानेमन गांड मरवा के मानेगी

Janeman gaand marwa ke manegi:

desi sex stories

हाय दोस्तों, चूत प्रभात ! कैसे हैं आप सभी मैय्या के चुदे ? मैं आशा करती हूँ कि आप सब अच्छे होंगे | मेरा नाम लब्बो है और मैं घमापुर की रहने वाली हूँ | मेरी उम्र बीस में पाँच जोड़ दो उतने ही साल है और मैं अभी पढाई कर रही हूँ | मैं दिखने में गोरी हूँ और मेरी हाईट पांच फुट साड़े पाँच इंच हाईट है और मेरा फिगर भी सुडोल है | में एक चुदासी लड़की हूँ और हर वक़्त बस लंड से चुदाई के ख्वाब देखती हूँ | दोस्तों मैं इस साईट की बहुत बड़ी फैन हूँ और मुझे इस साईट पर कहानियां पढ़ते हुए टाइमपास करना बहुत ही अच्छा लगता है | पर कभी मुझे मौका नहीं मिला कि मैं कोई कहानी लिख पाऊं | पर आज मुझे मौका मिल रहा है आप लोगो के सामने अपनी कहानी पेश करने का तो लिख रही हूँ | दोस्तों आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी पेश करने जा रही हूँ ये मेरी जिन्दगी की एक दम सची घटना है और मेरी पहली कहानी है | मैं आशा करती हूँ कि आप सब को मेरी कहानी बहुत पसंद आएगी और आप सभी को मेरी कहानी पढ़ कर बहुत मजा भी आएगा | तो अब मैं आप लोगो का ज्यादा समय नहीं लूंगी और सीधा अपनी कहानी शरू करती हूँ |

ये कहानी तब की है जब मैं कुछ दिन के लिए दिल्ली गई हुई थी | तेजपुर में मेरी एक बुआ ने जॉब के बारे में बताया था तो मैं उसी सिलसिले में गई थी | जहाँ वो रहती थी उसके बगल में ही दो लड़के किराये से रहते थे | मैं शरू से ही बहुत बड़ी चुदक्कड़ रही हूँ और मुझे चुदाई में बहुत मजा आता है | मेरी बुआ बहुत अच्छी जगह पर जॉब करती है और उसकी सैलरी भी अच्छी खासी है | जब मैं एक दिन छत पर अपने कपड़े सुखा रही थी तभी हमारे बगल में रहने वाला एक लड़का आया और वो भी अपने कपड़े डालने लगा और मुझसे पुछा कि क्या आप मज्जी की बहन हो ? तो मैंने कहा कि नहीं वो मेरी बहुत अच्छी बुआ है और उसने मुझे यहाँ जॉब के सिलसिले में बुलाया है | तो उसने कहा ओके और अपना नाम गुड्डू पंडा बताया फिर मैंने भी हाय गुड्डू नाइस टू मीट यू कहा | मैंने भी उसे अपना नाम बताया | कुछ समय तक तो हमारे बीच ऐसे ही नोरमल बाते होने लगी और वो मुझे धीरे धीरे पसंद आने लगा क्यूंकि मुझे उसका नेचर और बात करने का तरीका बहुत पसंद आया | कुछ दिनों बाद मैंने सही मौका देख कर उसे प्रोपोस कर दिया और उसने भी हाँ में जवाब दिया | अब हम दोनों साथ में जॉब ढूँढने के लिए निकलते और मेरी दोस्त भी जॉब तो ढूंढ ही रही थी मेरे लिए | हम दोनों का प्यार भी धीरे धीरे गहरा होता चला जा रहा था |

मैंने मन में ठान ही लिया था कि शादी तो मैं इसी से करुँगी | एक दिन सूरज ने मुझसे कहा कि तुम्हारे साथ सेक्स करना है | मैंने कहा कि मैं सेक्स एक शर्त पर करुँगी अगर तुम मुझसे शादी करोगे तो | उसने एक दिन मुझे मंदिर ले गया और वहां पर हम दोनों ने अग्नि को साक्षी मान कर शादी कर ली | अब मुझे यकीन हो गया था कि वो मुझे शादी करके ही रहेगा सबके सामने | अगले दिन ही दिन वो मेरे रूम आया और मैंने उसे बैठने के लिए कहा और

जब मैं उसके लिए चाय बनाने के लिए किचन में गई तो वो भी मेरे पीछे आ गया और मुझे पीछे से ही अपनी बांहों में भर लिया | मैंने उससे कहा थोडा तो सब्र कर लो यार चाय तो बना लेने दो | उसने कहा तुम चाय बनाओ में तुम्हे परेशान नहीं करूँगा जानेमन | मैं चाय बनाने लगी और वो मुझे लगातार सहलाये जा रहा था | अब मैं भी धीरे धीरे गरम होने लगी और मुझसे अब रहा नहीं जा रहा था तो मैंने गैस बंद कर दी और पलट कर सीधा उसकी बांहों में लिपट गई | फिर मैंने अपने होंठ उसके होंठ से लगा दिए और उसके होंठ को चूसने लगी | वो भी मेरा साथ देने लगा और मेरे होंठ को चूसने लगा | मैं उसके होंठ को चूसते हुए उसके बदन को सहला रही थी और वो मेरे होंठ को चूसते हुए मेरे बदन को सहला रहा था | हम दोनों ने करीब पंद्रह मिनट तक किस किये | उसके बाद मैंने उसके शर्ट के बटन को खोल कर शर्ट उतार दी और उसके सीने में अपने हाँथ चलाने लगी | फिर मैंने उसके जीन्स को उतार दिया और उसे सिर्फ अंडरवियर में कर दिया | उसके बाद उसने मुझसे कहा कि अपने कमरे में ले चलो तो मैंने उसके अंडरवियर के ऊपर से ही उसके लंड को पकड़ा और कमरे के तरफ ले जाने लगी | जब हम कमरे में पंहुचे तो उसने मेरे टॉप को निकाल दिया और ब्रा के ऊपर से ही मेरे उभारो को दबाने लगा तो मेरे मुंह से आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह की सिस्कारियां निकलने लगी |

फिर उसने पीछे हाँथ कर के ब्रा को भी उतार दिया और मुझे ऊपर से ही नंगी कर  दिया | फिर उसने मेरे एक मम्मे को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा और दूसरे को मसलने लगा और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए उसके हाँथ को सहलाने लगी | उसके बाद उसने दूसरे मम्मे को अपने मुंह में लिया और चूसने लगा साथ में मेरी लेगी के अन्दर हाँथ डाल कर चूत को भी सहलाने लगा और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए उसका पूरा साथ दे रही थी | फिर वो मेरे दोनों मम्मों को अपने मुंह में ले कर जोर जोर से मसलने लगा और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए उसके सिर के बालो को सहलाने लगी | फिर उसने मेरी लेगी को भी उतार दिया और पेंटी को भी साथ में उतार दिया | उसके बाद उसने मेरी टांगो को फैला दिया और मेरी चूत को अपनी जुबान से चाटने लगा और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मदहोश होने लगी | वो मेरी चूत को चाटते हुए मी मम्मों को भी मसल रहा था और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए उसके सिर को अपनी चूत पर दबा रही थी |

फिर उसने अपने अंडरवियर को भी उतार दिया और उसका सांप जैसा फनफनाता लंड मेरी आँखों के सामने नाचने लगा | मैंने भी देरी न करते हुए उसके लंड को अपने हाँथ में ले कर हिलाने लगी और फिर उसके बाद मैंने उसके लंड पर अपनी जुबान से सहलाने लगी तो उसके मुंह से भी आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह की सिस्कारियां निकलने लगी | मैं उसके लंड को हर तरफ से बहुत अच्छे से चाट रही थी और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मेरे बालो को समेट रहा था | उसके बाद मैं उसके लंड को अपने मुंह में ले कर सुपाड़े को चूसने लगी और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए आन्हे भरने लगा | मैं उसके लंड को पूरा अपने मुंह में ले कर चूसने लगी और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मेरे मुंह में अपना लंड अन्दर बाहर करते हुए पेलने लगा | फिर उसने अपने लंड को मेरी चूत में रखा और सहलाने लगा और थोड़ी देर बाद मेरी चूत में अपना लंड डाल कर चोदने लगा और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए चुदाई के मजे लेने लगी | उसके बाद उसने अपनी चुदाई की रफ़्तार बढ़ा दिया और जोर जोर से शॉट मारते हुए चोदने लगा और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए अपनी कमर हिला हिला कर चुदाई में साथ देने लगी | फिर उसने मुझे घोड़ी बना दिया और मेरे पीछे आ कर मेरे मम्मों को मसलते हुए अपना लंड मेरी चूत में डाल कर चोदने लगा और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए अपनी गांड आगे पीछे करते हुए चुदवाने लगी | फिर उसने अपना वीर्य मेरी चूत में ही झड़ा दिया |


Comments are closed.