जिम सेन्टर में लड़की की गांड और चूत मारी

gaand chudai ki kahani

loading...

हाय मेरे प्यारे दोस्तों मैं उम्मीद करता हूँ की आप सभी लोग ठीक होगे और चुदाई का पूरा मज़ा ले ही रहे होगे | मैं भी यही भगवान से दुआ करता हूँ की आप सभी लोग अपनी लाइफ में हमेशा खुश रहो और लड़कियों की चुदाई करके उन्हें भी खुश रखो | आज मैं एक अपनी कहानी को लेकर आप लोगो की सेवा में हाजिर हूँ | मैं अपनी कहानी क प्रस्तुत करने से पहले कुछ अपने बारे में बताना चाहूँगा |

मेरा नाम अनुराग है | मेरी उम्र 28 साल है | मैं रहने वाला गोवा का हूँ | मैं पढाई पूरी हो गयी है और अब मैं अपने घर ही रहता हूँ | मैं दिखने में गोरा हूँ | मेरी हाईट 6 फुट 4 इंच है और मेरी हाईट अच्छी है जिससे मैं स्मार्ट लगता हूँ | मेरे हाइट के हिसाब से मेरी बॉडी भी ठीक है | दोस्तों मैं आप जो कहानी आप लोगो के सामने लेके आया हूँ ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना है | मैंने एक लड़की को अपने जिम सेन्टर में ही ठुकाई कर दी थी | मुझे उम्मीद है की आप सभी लोगो को मेरी ये कहानी पढने में मज़ा आएगा और आप सभी दोस्तों को पसंद भी आयेगी | अब मैं अपनी कहानी शुरू करता हूँ |

मेरी कहानी अभी 6 महीने पहले की है जब मेरी पढाई पूरी हो गयी थी और मैं अपने घर पर ही रहता था | तब मेरे एक दोस्त ने कहा की यार तुम जिम सेन्टर खोल लो और मुझे भी ये सही लगा क्यकी मैं खुद जिम करने के लिए दुसरे के जिम सेन्टर जाता था | तब मैंने जिम सेन्टर खोलने का सोच लिया और जिम का सामन भी ले आया | फिर मैंने उसके 2 महीने में ही जिम की ओपनिंग कर दी और मेरे जिम सेन्टर में शुरू में तो 3 ही लोग जिम करते थे क्यूंकि और अभी बच्चे नही आ रहे थे | उसके कुछ दिन बाद से लड़के और लडकियाँ आने लगे अब मेरे जिम में कुछ लड़के आने लगे थे | मैं भी अब खुश था की मेरा जिम सेन्टर में लड़के और लड़की भी आने लगी हैं | अब मैं वहां सब को जिम करने के तरीके बताता था और अब तो काफी लोग आने लगे थे |

एक दिन की बात है मेरी जिम में एक लड़की आई थी | मैं आप सभी लोगो को उस लड़की के बारे में बता देता हूँ क्यूंकि ये मेरी कहानी की हिरोइन है | इसका नाम सोनिया है और ये दिखने में बहुत गोरी है और इसका चेहरा सोने की तरह चमक रहा था | सोनिया के बूब्स काफी बड़े थे और उसकी गांड काफी चौड़ी थी | वो मुझे किसी जन्नत ही पारी लग रही थी | मैं उसको पहली देख रहा था और मेरा पहली बार में ही देख कर होश उड़ गए था | फिर वो वहीँ पर एक लड़के से बोली की यहाँ के सर कौन है | तब मेरे जिम के लड़के ने मुझे बता दिया और वो मेरे पास आकर बोली की सर मुझे जिम ज्वाइन करना है | तब मैंने उसे साडी बाते बता दी और वो दुसरे दिन से ही जिम करने आने लगी | वो सबसे बाद में आती थी जब जिम में कोई नही होता था | इस तरह से उसको जिम आते आते 5 दिन हो गए और अब मैं जब उसको जिम करने के बारे मैं बताता था ओत उसके शरीर में अपने हाथो को टच कर देता था तो वो घुस्सा होने की वजह मेरी तरफ देख कर हँस देती थी | इस तरह से उसको जिम करते हुए 1 महीना हो गया और अब मैं उसके बूब्स को भी कभी कभी टच कर देता था तो वो मुझे कुछ नही कहती थी | मैं भी उसे लाइन मारा करता था और अब वो मुझे कभी कभी फ़ोन भी कर दया करती थी | अब मेरी उससे बाते भी होने लगी थी वो मुझसे रात में भी बात करती थी और सोनिया मुझसे पट गयी थी | अब जॉब वो जिम करने आती थी तो मैं उसके बूब्स को भी दबा दिया करता था |

एक दिन की बात है जब वो जिम कर रही थी तो उसने मुझसे कहा की अनुराग आज तुम अच्छे लग रहे हो | मैंने भी कहाँ तुमसे ज्यादा तो नही लगता हूँ | फिर वो मेरे पास आकर खड़ी हो गयी तो मुझे लगा की ये मुझे किस करने को कह रही है और मैंने भी उसको अपने होठो से पकड़ कर उसकी होठो पर अपने होठो को रख कर उसकी होठो को चूसने लगा | वो भी मेरी होठो को चूसने लगी औरमैं उसकी रसीली होठो को चूसने लगा | मैं उस दिन उसकी होठो को 5 मिनट तक चूसा और उसके बूब्स को कपड़े के ऊपर से दबाया | मुझे उस दिन उसके बूब्स कपडे के ऊपर से दबाने में उसके बूब्स गोल और चिकने लग रहे थे | उसके दुसरे दिन जब वो जिम करने आई तो वो मेरी तरफ देख कर स्माइल दे रही थी तो मैं समझ गया की ये भी मुझसे अपनी चुदाई करना चाहती है | फिर मैंने अपने जिम का सेटर नीचे गिरा दिया और फिर मैं उसके पास जाकर उसको अपनी बांहों में भर लिया और वो भी मुझसे लिपट गयी | फिर मैं उसके गले में किस करने लगा मैं उसके गले में किस ऐसे ही 5 मिनट तक करता रहा और फिर मैंने उसकी होठो पर अपने होठो को रख कर उसकी पतली रसीली होठो को चूसने लगा | वो भी मेरा साथ देती हुई मेरी होठो को चूसने चूसने लगी | मैं उसकी होठो क चूसने के साथ मैं उसके बूब्स को कपड़े के ऊपर से सहला रहा था | मैं उसकी होठो को ऐसे ही 4 -6 मिनट तक चूसता रहा और फिर मने उसके कपडे निकाल दिए तो वो मेरे सामने पूरी तरह से बिना कपड़ो के हो गयी क्यूंकि उसने ब्रा और पेंटी नही पहने थी | मैं उसके बूब्स को अपने सामने देख कर उसके बूब्स पर टूट पड़ा उसके बड़े और गोल बूब्स था | मैं उसके गोल और चिकने बूब्स को मुंह में रख कर चूसने लगा तो वो मेरे सर को सहलाने लगी | मैं उसके एक दूध को मुंह में भर कर जोर जोर से चूसने लगा और दुसरे वाले दूध को हाथ से पकड कर मसल रहा था | मैं उसके चिकने बूब्स को मुंह में रख कर जोर जोर से चूसते हुए मसल रहा था  | वो मेरे बोलो को सहला रही थी | फिर मैंने उसके एक दूध के निप्पल को पकड कर उँगलियों से मसलने लगा तो उसके मुंह से उई उई ऊऊऊ…. हाँ अहं अहं… हाँ हाँ हाँ….. उई उई मई उई मई उई मई…. ओह्ह ओह्ह ओह्ह्ह सी सी सी…. की सिसिकियाँ लेती हुई मेरे सर को पकड कर दबा रही थी | मैं उसके बूब्स के निप्पल को अपने होठो से पकड कर खीच हीच कर चूसने लगा | तो उसके मुंह से उई मई उई मई उई मई… ऊह उह उह उह… हा हा हां.. की आवाजे निकल गयी | मैं उसके मस्त चिकने बूब्स को मलने के साथ में उसकी चूत को भी सहलाने लगा तो वो मचल गयी जैसे की उसकी जिस्म में आग सी लग गयी हो |

मैंने उसकी वहीँ मेज पर लेटा दिया और उसकी टांगो को फैला कर उसकी चूत में अपमे मुंह को घुसा कर उसकी चूत को चाटने लगा तो उसके मुंह से गर्म सांसे निकल गयी | मैं उसकी चूत में अपनी जीभ को घुसा कर उसकी चूत को चाटने लगा तो उसके मुंह से ऊऊऊ उह्ह उह्ह उह…. यह यह यह… उई माँ उई माँ … हाँ हाँ हाँ उई उई उह उह उह…. की सिसिकियाँ लेती हुई तडपने लगी जैसे कोई मछली बिना पानी के तडप रही हो | मैं उसकी चूत को चाटने के साथ में अपनी ऊँगली भी घुसा दी जिससे  वो मदहोश  करने वाली उई उई उई…. हा हा हा.. अह अह अह हु हु हु हु…. उई मई उई मई उई मई मर गई… की सिसिकियाँ लेने लगी | मैं उसकी चूत में अपनी उगली को ऐसे ही 6 – 7 मिनट तक जोर जोर से अन्दर बाहर करता रहा जिससे उसकी चूत से गर्म पानी की धार निकल गयी और वो झड गयी | ता मैंने अपने कपड़े निकाल कर अपने लंड को उसके हाथ में पकडा दिया और फिर उसे मुंह में रख कर चूसने को कहा तो वो मेरे लंड को अपने मुंह में रख कर चूसने लगी | वो मेरे लंड को मुंह में रख कर जोर जोर से अन्दर बाहर करती हुई चूसने लगी |  वो मेरे लंड को ऐसे ही मुंह में रख कर 5 मिनट तक चूसती रही | फिर मैंने लंड को उसके मुंह से निकाल कर उसकी टांगो को फैला कर उसकी चूत के मुंह पर लंड को रख कर उसकी चूत में घुसा दिया उसकी चूत गीली थी जिससे मेरा लंड चूत में आराम से घुस गया और मैं उसकी चूत में जोर जोर से अन्दर बाहर करते हुए उसको चोदने लागा |  वो उई उई उह उह… आआआ… ऊऊऊ… सी सी सी… की सिसिकियाँ लेती हुई चुदने लगी | मैं उसके बूब्स को पकड कर जोरदर धक्को के साथ उसको चोद रहा था | फिर मैंने उसकी चूत से लंड को निकाल कर उसे कुतिया बना कर उसकी गांड में पीछे से लंड को डाल दिया तो उसके मुंह से चीख निकल गयी और उई उई ऊऊउह्ह उह उह मई…. उई उई मई उह मई…. राजा आराम से मार ही डालेगा क्या | तब मैं उसकी गांड में धीरे धीरे अन्दर बाहर करने लगा | वो ऊऊ उह्ह उह्ह्ह अह्ह्ह अहह… उई उई माँ माँ आ… करती हुई चुदने लगी | मैं उसको ऐसे ही जोरदार धक्को के साथ 15 मिनट तक मस्त चुदाई करने के बाद झड गया | फिर हमने कपडे पहन लिए और वो चली गयी |

मुझे उम्मीद है की आप सब लोगो को मेरी कहानी पसंद आई होगी | मेरे प्यारे दोस्तों पढने के लिए धन्यवाद |


Comments are closed.