दोस्त के साथ मिलकर बीबी की चुदाई का खेल रचा

Dost ke sath milkar biwi ki chudai ka khel racha:

loading...

indian biwi हाय दोस्तों मैं आज आप सभी लोगो के लिए एक कहानी लेकर हाजिर हूँ | दोस्तों मैं जो आज कहानी आप लोगो के सामने लेकर आया हूँ | ये मेरी सच्ची कहानी है | मैं रहने वाला कोलकाता हूँ | मैं शादी के पहले से ही मादरचोद था और मुझे नई चूत चोदने का सौख था | मैं अक्सर ही नई चूत को चोदने के लिए सोचा करता था क्यूंकि मेरा मन एक चूत को चोदकर नही भरता है | दोस्तों मैं अपनी कहानी बताने से पहले अपने बारे में बता देना चाहता हूँ | मेरा नाम कुलदीप है | मेरी उम्र 26 साल है | मेरी हाईट 6 फुट 4 इंच है | मेरे लंड का साइज़ भी ठीक है जिससे मैं जिस लडकी चुदाई करता हूँ उस लड़की को चुदाई का पूरा मज़ा मिलता है | मैं चुदाई करने में एक्सपर्ट हूँ | मुझे उम्मीद है की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आयेगी और इस कहानी को आप लोग पढ़ का मज़ा भी खूब आएगा | अब मैं बिना टाइम को बर्बाद किये अपनी कहानी पर आता हूँ |

दोस्तों ये कहानी जो है मेरी शादी के बाद की है | मेरी शादी हो चुकी है और मेरी शादी को 3 से 4 महीने हो गए है | मैं कहानी को आगे बढ़ाने से पहले आप लोगो को अपनी पत्नी का परिचय दे देता हूँ | उसका नाम निर्मला है | उसकी उम्र 23 साल है | निर्मला दिखने में गोरी है और उसका फिगर मस्त सेक्सी है | जब मैं अपनी शादी के लिए उसको देखने गया था तो मैंने उसको पहली बार देखा था | दोस्तों मुझे नई लड़की चोदने की अदद है इसलिए मैं उस पसंद कर लिया | मैं उसके फिगर का साइज़ बता देता हूँ | उसका फिगर 36 32 37 है | उसकी गांड हमेशा ऊपर की और उठी रहती है | जब मैं उसको देखकर आया था उसके कुछ दिन बाद मेरी शादी हो गयी थी | अपनी सुहागरात में मैंने उसकी मस्त चुदाई की थी | मुझे उसकी चुदाई करने में बहुत मज़ा आया था | मैंने सुहागरात की रात ही उसको रात में 3 बार चोदा था | उस रात वो भी मस्त होकर चुदी थी | उसके बाद मैं उसको रोज ही रात में 2 -3 बार से कम नही चोदता था |

दोस्तों इस तरह से मुझको अपनी बीबी की चूत को चोदते चोदते 1 महिना पूरा निकल गया | अब मेरा मन नई चूत को चोदने का कर रहा था | उस दिन मैं रंडी खाना जाकर मस्त एक साथ 2 लड़कियों की चुदाई की थी | उस दिन मैंने अपने लंड को चूसा कर उनकी रंडियों को चोदा था | मुझे लंड को चुसाने में मज़ा आया था | मैं इस तरह से उन दोनों को ऐसे ही कभी कभी चोदने चला जाता था | वो मुझसे रुपये तो ज्यादा लेती थी पर मुझे खुश कर देती थी | वो मेरे लंड को चूस चूस कर ही साफ कर देती थी | फिर दुबारा चूस  कर खड़ा कर देती थी | तब वो दोनों एक एक करके मेरे लंड से चुदती थी | उस रात जब मैं चुदाई करके घर को वापस आ रहा था | तब मुझे मेरा एक कॉलेज का दोस्त मिला | वो मेरा बहुत अच्छा दोस्त था | उसका नाम अमित है और वो मेरे साथ में ही पढता था |

अमित – हाय कुलदीप कहाँ जा रहा है ?

मैं – हाय अमित कैसा है यार ?

अमित – मस्त तू बता कहाँ से आ रहा है ?

मैं – कहीं नही यार तुझे तो पता ही है की मुझे किस चीज का शौक है |

अमित – हाँ भाई पर भाभी नही है क्या घर पर ?

मैं – हैं पर यार बीबी की चुदाई करने में वो मज़ा कहाँ जो दूसरी लड़की को चोदने में है |

अमित – हाँ भाई ये बाद भी ठीक है पर भाई मुझे बीबी के साथ सेक्सी करने की बहुत इच्छा है पर देखो साली कब शादी होती है |

मैं – क्यूँ तेरी इस टाइम कोई गर्लफ्रेंड नही है क्या ?

अमित – यार मेरी गर्लफ्रेंड है और बहुत मस्त पर अपनी गर्लफ्रेंड को चोदने में अब मज़ा नही आता |

मैं – क्यूँ फिगर मस्त नही है क्या तेरी गर्लफ्रेंड का |

अमित – ले भाई देख मेरी गर्लफ्रेंड को उसने मुझे अपनी गर्लफ्रेंड के बहुत सारे फोठो दिखाए |

मैं उसकी गर्लफ्रेंड को देख कर पागल हो गया | वो दिखने में किसी हुस्न की मल्लिका से कम नही थी | उसका भर हुवा बदन था | फिर मेरे मुंह से निकल ही गया यार तू मुझे अपनी गर्लफ्रेंड की चुदाई करा दे मुझसे | मैंने अपनी बीबी का फोटो दिखाकर कर कहा मैं अपनी बीबी को तुझसे चुदवा देता हूँ | वो मान गया और बोला ठीक है | मैं तुझे किसी दिन बताता हूँ | फिर एक दिन की बात है जब मेरी बीबी कुछ दिन के लिए अपने माइके चली गयी थी | उस दिन मैंने उससे कहाँ मेरे घर पर कोई नही है तुम अपनी गर्लफ्रेंड को ले आओ और उस दिन मैंने उसकी गर्लफ्रेंड को दोनों ने एक साथ मिलकर मस्त चुदाई की थी | उस दिन मेरे घर में चुदाई के धक्को की और उसकी चीख की आवाज गूंज रही थी | उस दिन मैंने उसकी सेक्सी गर्लफ्रेंड को 2 बार चोदा था | पुरे 30 मिनट तक उसकी चुदाई की थी | फिर उसने माना कर दिया अब मैं नही चुद नही पाऊँगी | उस दिन के बाद जब तक मेरी बीबी नही आई थी | मैंने उसकी गर्लफ्रेंड को ही चोद कर काम चलाया था |

उसके बाद मेरी बीबी आ गयी तो मैंने उस दिन उससे कहा यार जब तुम यहाँ नही थी | तब मैंने अपने दोस्त की गर्लफ्रेंड की चुदाई की है | अब वो तुम्हरे साथ चुदाई करना चाहता है | ये बात सुनकर वो मुझे पर बहुत घुस्सा हुई और माना कर दिया | बोली की मुझे रंडी समझ रखा है क्या | उस दिन वो नही मानी फिर उसके कुछ दिन के बाद की बात है | जब मैंने उसे समझया और कहा मैं तो दूसरी चूत का मज़ा ले लेता हूँ तुम भी एक साथ दो लंड  का मज़ा लेके देखो बहुत मज़ा आयेगा तुम्हे | इस तरह तुम एक साथ में दो लंड से भी चुद पाओगी | वो कुछ देर तक सोचती रही फिर मान गयी |उसके दुसरे दिन ही मैंने अपने दोस्त को बुला लिया |

वो जब मेरे घर आया तो मैंने अपनी पत्नी को उसके साथ बात कर बात करने को कहा | वो दोनों आपस में बैठ कर बात करने लगे | वो ऐसे ही कुछ देर तक बैठ कर बात करते रहे | फिर मैं भी आ गया तो हूँ तीनो लोग बेडरूम में गए | वहां मैंने अपने कपडे निकाल दिए और मेरे दोस्त ने भी अपने कपडे निकाल कर अंडरवियर में आ गया | अब हूँ दोनों ही उसने सामने अंडरवियर में थे | फिर अमित ने मेरी बीबी की साड़ी को उतार दिया | मैं अपनी बीबी की होठो पर अपनी होठो को रखकर चूसने लगा | वो भी मेरी होठो को मुंह में रख कर चूसने लगी | अमित मेरी बीबी के पेट में किस करते हुए उसको गर्म कर रहा था | मैं निर्मला की होठो पर किस कर रहा था | वो उसके बूब्स को ब्लाउज के ऊपर से दबाते हुए उसकी नाभि को जीभ से चाट रहा था | अमित ने उसके बूब्स को दबाते उसकी उसके ब्लाउज को खोल दिया साथ में पेटीकोट को भी जिससे निर्मला हूँ दोनों के सामने ब्रा और पैंटी में आ गयी |  फिर मैंने निर्मला की ब्रा को खोल कर उसके एक दूध को मुंह में रखकर चूसने लगा | दुसरे दूध को अमित मुंह में रखकर उसके निप्पल को मुंह से खीच खीच कर चूसने लगा | निर्मला सेक्सी आवाज में ऊ ऊ ऊ ऊ ऊ….. अह अह अह… अ अ अ अ अ….. हूँ हूँ हूँ हूँ हूँ… ह ह ह ह… की आवाजे करने लगी | मैं उसके दूध को चूसा रहा था | अमित उसकी चूत में अपने मुंह को घुसा कर चाट रहा था साथ में उसकी चूत में अपनी ऊँगली को भी घुसा कर अन्दर बाहर कर रहा था | निर्मला हु हु हु हु… आ आ आ आ… ह ह ह ह ह.. इस सी सी सी सी…  की सिसकियाँ ले रही थी | फिर हम दोनों ने अपने लंड को अंडरवियर से निकाल कर उसके हाथ में पकड़ा दिया | निर्मला हम दोनों के लंड को अपने दोनों हाथो में पकड कर घुटने के भल बैठ कर मुंह में रखकर चूसने लगी | वो हम दोनों के लंड को मुंह में रखकर 4 -5 मिनट तक चुसती रही | फिर अमित ने उसकी टांगो को फैला कर उसकी चूत में अपने लंड को घुसा कर अंदर बाहर करते हुए चोदने लगा | वो हु हु हु हु.. आ आ आ आ… सी सी सी सी… हह ह हह… हाँ हाँ हाँ.. माँ माँ माँ… की सिसकियाँ लेती हुए चुदने लगी | अमित उसको जोरदार धक्को के साथ चोद रहा था | फिर मैं उसके नीचे लेट कर उसकी गांड में लंड को घुसा कर उसको चोदने लगा | निर्मला हम दोनों के लंड को एक साथ गांड और चूत में लेकर चुदने लगी | वो अपनी चूत को सहलाती हुई चुद रही थी साथ में ऊ ऊ ऊ ऊ ऊ….. अह अह अह… अ अ अ अ अ….. हूँ हूँ हूँ हूँ हूँ… ह ह ह ह… करती हुई चुदने लगी | अमित उसको 10 मिनट तक जोरदार धक्को के साथ चुदने के बाद झड़ गया | मैं उसको अभी भी चोद रहा था | फिर उसको घोड़ी बना दिया | वो हाथो के भल घोड़ी की तरह खाड़ी हो गयी | फिर मैंने उसकी चूत में पीछे से डाल कर चुदने लगा | मैं उसकी चूत में डाल कर अन्दर बाहर करने लगा | जिससे कमरे में धक्को कीआवाज के साथ उसकी सिसकियाँ की आवाज गूंजने लगी | मैं उसको ऐसे ही 15 मिनट तक चोदने के बाद झड़ गया | फिर फिर मैं अपने लंड को उसके मुंह में डाल कर चूसाने लगा | उसने मेरे लंड को चूस कर साफ कर दिया | फिर मैंने उसकी चूत में उँगलियों को डाल कर हिलाने लगा जिससे उसकी चूत से गर्म लानी की धार निकल गयी | फिर हम तीनो कपडे पहन कर लेट गए और सो गए | ये थी मेरी कहानी मुझे उम्मीद है की आप लोगो को मेरी कहानी पसंद आई होगी |


Comments are closed.