चूत चुदवाई भैया से

Chut chdwayi bhaiya se:

hindi sex stories, desi porn stories

नमस्कार मेरे प्यारे पाठको ! क्या हाल है आप सबका ? मस्त हो न या चूत को लंड और लंड को चूत नहीं मिल रही | कोई बात नहीं यारो कभी ख़ुशी तो कभी गम होता ही है इसलिए न मिले चूत और लंड तो सीधा हिलाओ अपना लंड और न मिले लंड तो मिटाओ अपनी चूत में डाल कर नकली लंड | मेरा नाम निशि है और मैं परेल की रहने वाली हूँ | मेरी उम्र 21 साल है और मैंने अभी ही अपने कॉलेज की पढ़ाई पूरी की हूँ | मैं दिखने में गोरी हूँ और मेरी हाईट 5 फुट 4 इंच हाईट है और मेरा बदन अच्छा ख़ासा है | मेरे दूध का साइज़ 26 है और मेरी कमर 32 है और मेरे चूतड़ 34 के हैं | भले ही मेरा शरीर छोटा है लेकिन मैं बहुत क्यूट लगती हूँ ऐसा मुझे सभी कहते हैं | पाठको आज जो मैं कहानी लिखने जा रही हूँ ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की सच्ची घटना है | वैसे मैं ये घटना किसी के साथ शेयर तो नहीं करना चाहती थी लेकिन क्या करूँ बिना शेयर करे रह भी नहीं सकती थी | मैं ऐसी उम्मीद करती हूँ कि आप सभी को पसंद आएगी और अगर नहीं भी आएगी तो क्या यार बस पढ़ के मजे ही ले लेना | तो अब मैं अपनी कहानी लिखना चालू करती हूँ |

ये घटना पिछले महीने की है | मेरे घर में, मेरे पापा, मेरी मम्मी, मेरी बड़ी बहन, मेरा छोटा भाई रहते हैं | दोस्तों मैं एक चुदासी लड़की हूँ और मुझे सेक्स बहुत पसंद है क्यूंकि जब से मेरी आदत चुदाई की कहानियां पढने और चुदाई वाली वीडियो देखने की हो चुकी है | मैं हरदम नए नए लंड चुदाई के लिए तलाशती रहती हूँ | अगर मुझे लंड नहीं मिलता तो ऐसा लगता है जैसे मैं कुछ ही दिन की मेहमान हूँ इसलिए मुझे हफ्ते में एक यार दो बार तो चुदाई चाहिए ही चाहिए किसी भी कीमत में | मेरे पापा सरकारी ऑफिसर हैं और मम्मी भी ऑफिसर हैं | इसिलए मुझे पैसो की कोई दिक्कत नहीं है | अगर मुझसे कोई 5 हजार रूपए ले कर मेरी चूत मारे तो मैं भी उसके लिए भी तैयार हूँ | मुझे हर महीने कम से कम दो हजार रूपए मिलते हैं और मेरे कोई ऐसे खास शौख भी नहीं हैं कि मेरे पैसे खर्च हो | मेरा खुद के बैंक अकाउंट में कम से कम 35 हजार रूपए होंगे क्यूंकि मेरे पास से पैसे खर्च ही नही हो पाते | मैं बस सबसे ज्यादा पैसे कपड़ो पर खर्च करती हूँ | मैं हर महीने सात हजार रूपए खर्च करती हूँ कपड़ो में | मेरे पड़ोस में एक भैया रहते हैं जिसका नाम सूरज है और वो अभी जॉब करते हैं | वो भैया दिखने में बहुत ही हेंडसम हैं और उनकी हाईट 5 फुट 10 इंच के आस पास होगी | उनका बदन ऐसा लगता है जैसे वो कुदरती पहलवान हो | वो मुझसे पहले बहुत बात किया करते थे जब मैं छोटी थी लेकिन जब मैं बड़ी हुई तो उनसे बाते काफी हद तक कम हो चुकी थी | लेकिन अब मैं उनसे चुदवाना चाहती थी इसलिए मैंने सोचा कि अगर मैं इन्हें लाइन दूँगी तो शायद मेरा काम हो जायेगा | किस्मत की बात देखो कि वो भी मुझे लाइन देने लगे | अब मैं समझ चुकी थी कि मेरी ट्रेन अब पटरी में आ चुकी है बस इंजिन चालू करना बाकी  है | मैंने उनसे उनका नंबर मांग कर बाते करने लगी | जब हम दोनों को काफी समय हो गया बात करते हुए तो एक दिन मैंने खुद से ही कह दिया कि मुझे आपके साथ सेक्स करना है तो उन्होंने कहा कि मेरा घर दो दिन बाद खाली रहेगा मैंने कहा ठीक है तो जब उनका घर खाली हो गया तो मैं चुपके से उसके घर चले गई और मैं वहां उनके सामने आ कर बहुत शर्मा रही थी | फिर

उसने मेरी तरफ प्यार से देखा और मैंने भी उसकी तरफ प्यार से देख कर मुस्कुरा दी | वो मेरे थोडा और करीब आया और मैं भी उसके थोडा और करीब गई उसके बाद उसने मुझे अपनी बांहों में कस कर जकड़ लिया और मेरे बदन को सहलाने लगा और मैं भी उसके बदन को सहला कर ऐसा महसूस कर रही थी उसकी बांहों में जैसे मैं किसी जन्नत में हूँ | फिर उसने मेरे होंठ से अपने होंठ से लगा कर मेरे होंठ को चूसने लगा और मैं भी उसके होंठ को चूसने लगी | उसके होंठ बहुत मोटे थे इसलिए मुझे उसके होंठ को चूसते हुए मजा आ रहा था | वो मेरे होंठ को चूसते हुए मेरी गांड को दबा रहा था और मैं भी उसके होंठ को चूसते हुए उसकी पीठ पर अपने हाँथ से सहला रही थी | फिर मैंने उसके शर्ट के बटन को खोल दी और उसके सीने पर अपने हाँथ फेरते हुए गुदगुदी करने लगी | फिर मैं अपने घुटनों के बल जमीन पर बैठ कर उसके जीन्स के बटन को खोल कर उतार दी और अब वो मेरे सामने बस अंडरवियर में था | मैं उसके लंड को अंडरवियर के ऊपर से ही सहलाने लगी और थोड़ी देर के बाद मैंने उसके लंड को भी अंडरवियर उतार कर बाहर निकाल ली और उसके लंड को अपने हाँथ में ले कर सहलाने लगी | फिर मैंने उसके लंड को अपने मुंह के पास ला कर किस किया और उसके लंड को जीभ से चाट कर गीला करने लगी और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए आन्हे भरने लगा |

मैं उसके लंड पर अपनी जीभ से आगे पीछे और ऊपर नीचे करते हुए चूस रही थी और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिसकियाँ भर रहा था | थोड़ी देर उसके लंड को चाटने के बाद मैंने उसके लंड को अपने मुंह में ले कर चूसने लगी और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मेरे बालो से खेलने लगा | मैं उसके लंड को जोर जोर से अन्दर बाहर करते हुए चूस रही थी और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मजे ले रहा था | उसके बाद उसने मेरे कंधे को पकड़ कर उठाया और फिर मेरे टॉप को निकाल दिया और मेरे बूब्स को दबाने लगा तो मेरे मुंह से भी आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह की सिसकियाँ निकलने लगी  | फिर उसने मेरे ब्रा को फाड़ दिया और मेरे बूब्स अब उसके सामने एक दम नंगे हो कर उसके चूसने का इन्तेजार कर रहे थे | अब वो मेरे बूब्स को मुंह में ले कर चूसने लगा और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए उसके सिर पर हाँथ फेर कर सहलाने लगी | वो मेरे बूस्ब को बहुत जोर जोर से मसल कर चूस रहा था और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए अपने बूस्ब चुसाई के मजे ले रही थी | मेरे बूब्स चूसने के बाद उसने मेरे जीन्स को उतार दिया और फ्फिर मेरी पेंटी को उतार कर मुझे बड़े ही प्यार से अपने बेड पर लेटा दिया और मेरी चूत पर हाँथ फेर कर जीभ से चाटने लगा और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मदहोश होने लगी | वो मेरी चूत को चाट रहा था और साथ में मेरे बूब्स भी दबा रहा था और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिसकियाँ भर रही थी | मेरी चूत को चाटने के बाद उसने अपने लंड को मेरी चूत में रख कर दो बार के शॉट के बाद अन्दर पेल कर चोदने लगा और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए आन्हे भर रही थी | वो मुझे जोर जोर से चोद रहा था और हर शॉट में अपनी चुदाई तेज कर देता और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए गांड हिला हिला कर चुदाई में साथ दे रही थी | उसके बाद उसने मुझे साइड में कर दिया और मेरे पीछे आ कर मेरे एक पैर को अपने पैर के ऊपर रख कर मेरी चूत में लंड डाल कर चोदने लगा और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए अपने निप्पलस को दबाने लगी | कुछ देर की चुदाई के बाद उसने अपना वीर्य मेरे ऊपर ही छोड़ दिया |


Comments are closed.