चूत और लंड का मिलन और सुख प्राप्ति

Chut aur lund ka milan aur sukh prapti:
indian chut नमस्कार दोस्तों, कैसे हैं आप सब ? मेरा नाम बिन्नो है और मैं कलकत्ता की रहने वाली हूँ | मेरी उम्र 45 साल है और मैं एक विधवा हूँ और बैंक में पति के जगह जॉब करती हूँ | मेरे दो बेटे हैं जो कि बाहर रह कर कॉलेज की पढाई कर रहे हैं | मैं दिखने में गोरी हूँ और मेरी हाईट 5 फुट 5 इंच है और मेरा बदन पूरा भरा हुआ है | दोस्तों, मैं चुदाई की कहानिया बहुत सालो से पढ़ते आ रही हूँ और मुझे चुदाई की कहानिया पढना बहुत पसंद है | मैंने आज तक कई कहानिया पढ़ी हैं इसलिए मैंने सोचा कि आप लोगो के लिए मैं भी एक कहानी पेश करू | आज जो मैं आप लोगो के सामने अपनी कहानी पेश करने जा रही हूँ ये मेरी पहली कहानी और मेरे जीवन की सच्ची घटना है | मैं उम्मीद करती हूँ कि आप सभी को मेरी कहानी पसंद आयगी और आप लोगो को मेरी कहानी पढ़ कर बहुत मजा भी आयगा | तो अब मैं आप लोगो का ज्यादा समय ना लेते हुए सीधा अपनी कहानी में आती हूँ | सभी मर्द अपना लंड हाँथ में पकड ले और सभी चूत वाली ऊँगली तैयार रखे |

loading...

दोस्तों, मैं एक चुदक्कड़ औरत हूँ और मुझे चुदाई बहुत पसंद है | मैं इतनी बड़ी चुदक्कड हूँ कि अगर कोई मुझे एक लंड के बदले कोई मुझे नौकरानी बना ले तो मैं नौकरानी बन जाऊ | कोई मुझे गांड चाटने को कहे तो मैं गांड भी चाट लू | मैं किराये के घर के में रहती हूँ और मुझे वहां पसंद नहीं है रहना क्यूंकि वहां मेरे अलावा जो मालिक रहते हैं सभी लडकिया हैं और मुझे लंड चाहिए ना की चूत | मैं चुदाई के बिना बहुत उदास रहने लगी और जो दो लडको से चुद्वाती थी वो भी मुझे नहीं चोदते और न ही मेरा कोई फ़ोन उठाता | मैं बहुत दुखी थी कि चूत तैयार है चुदने के लिए लेकिन कोई लंड नहीं है जो मेरी चूत को चोद कर उसकी प्यास बुझा दे | बैंक में एक नए लड़के की जॉब लगी | उसका नाम अनिश है और वो काफी हेंडसम है दिखने में | | उसकी कद काठी भी अच्छी है | मैंने सोचा कि उसे पटा कर अपनी चूत की चुदाई करवा लू | पर तभी मैंने उससे बात करना शुरू किया और वो भी मुझसे अच्छे से बात करने लगा | वो जब भी बैंक आता तो मुझे नमस्ते जरुर करता | मैं भी मुस्कुरा कर उसके नमस्ते का जवाब देती |
बस कुछ दिन ऐसे ही चल रहे थे और मैं उसकी याद मैं गाजर या मूली डाल कर अपनी चूत की आग को बुझाती | लेकिन कब तक ये सिलसिला मैं चला पाती | एक दिन उसे कुछ काम पड़ा मुझसे तो उसने मुझसे मेरा नंबर माँगा तो मैंने भी ख़ुशी ख़ुशी उस नंबर दे दिया | उसी रात में करीब उसने मुझे 10 बजे के करीब कॉल किया | उस समय मैं नहाने गई हुई थी तो मैं कॉल रिसीव न कर सकी | उसके बाद मैंने जब फ़ोन उठाया तब देखा कि किसी अनजान नंबर से कॉल है तो मैंने तुरंत ही उसे कॉल किया तब पता चला कि ये तो अनीश का नंबर है | फिर हम दोनों ने लगभग दो घंटे फ़ोन पर बात कि और हमने काफी बाते एक दुसरे के बारे में जाने |

फिर अगले दिन वो बहुत खुश था तो मैंने उसे लंच के समय अपने पास बुलाया और कहा कि ये मेरा व्हाटसप नंबर है | तुम चाहो तो हम चैट में बात कर सकते हैं | फिर हम ऑफिस में बैठ कर भी काफी बात करने लगे | रात को उसका कॉल आया और उसने कहा कि ऑनलाइन आओ | मैं तुरंत ही ऑनलाइन आई तो देखा कि उसने अपने लंड की फोटो भेजी है | पहले मुझे तो बहुत गुस्सा आई लेकिन उसकी हिम्मत देख कर मुझे अच्छा भी लगा | मैंने उससे कहा कि तुमने अपने लंड की फोटो क्यू भेजे ? तो उसने कहा कि मैं आपको बहुत पसंद करता हूँ और पहले दिन से ही मैं आपके प्यार में हूँ | ये बात सुन कर मुझे अच्छा लगा | मुझे अपना मकसद कामयाब होते नजर आया | फिर उसने मुझसे कहा कि मुझे अपने दूध की पिक भेजो | उसके बड़े और मोटे लंड को देख कर मैं गरम तो हो ही चुकी थी तो मैंने उसे विडिओ कालिंग की और उसके सामने खुद को पूरा नंगा कर के दिखा दिया | वो भी मेरे सामने मुठ मार रहा था | उसने मुझे पूछा कि क्या आप मुझसे चुद्वओगी ? तो मैंने कहा कि चुदवाना ही पड़ेगा इतना गजब का सामान जो है तुम्हारे पास | फिर उसने पूछा कि कब चुद्वओगी ? तो मैंने कहा कि सन्डे को बैंक बंद रहेगा तो तुम मेरे घर आ जाना |

हम दोनों बैंक में काफी सीधे सादे बने रहेते थे और जब घर में होते तो पूरे नंगे रहते | फिर सन्डे भी आ गया और दिन को 12 बजे ही आ गया | जब मैंने दरवाजा खोला तो उसे देख कर काफी खुश हो गई | मैंने उसे अन्दर बुलाया और बेठने को कहा | लेकिन उसने तुरंत ही मुझे अपनी बांहों में भर लिया और मेरे होंठ में अपने होंठ रख कर चूसने लगा होंठ को | मैं भी उसका साथ देते हुए उसके होंठ को चूसने लगी | किस करने के बाद उसने मेरे गाउन को उतार दिया और ब्रा भी खोल दिया | फिर उसने मेरे दोनों दूध को अपने मुंह में ले कर चूसने लगा दबा दबा कर तो मेरे मुंह से आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह की सिस्कारिया निकलने लगी | वो जोर जोर से मेरे दूध को मसलते हुए चूस रहा था और मैं आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए उसके सिर के बालो को सहलाने लगी |

फिर उसने मुझे लेटा कर मेरी पेंटी भी उतार दी और मेरी चूत को चाटने लगा तो मैं आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए मदहोश होने लगी | फिर उसके बाद मैंने उसे पूरा नंगा कर दी और उसके लंड को अपने हाँथ में ले कर हिलाते हुए चाटने लगी तो वो आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करने लगा | फिर मैंने उसके लंड को अपने मुंह में डाल ली और चूसने लगी तो वो आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए मेरे मुंह को चोदने लगा |

मैं जोर जोर से उसके लंड को आगे पीछे करते हुए चूस रही थी और वो आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए सिस्कारिया निकलने लगी | उसके बाद उसने अपने लंड को मेरी चूत में टिकाया और एक ही झटके में पूरा लंड पेल दिया और चोदने लगा तो मैं भी आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए मचलने लगी |

फिर उसने अपनी चुदाई की स्पीड बढ़ा दिया और जोर जोर से धक्के मारते हुए चोदने लगा और मैं आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहह करते हुए कसमसाने लगी | करीब आधे घंटे की चुदाई के बाद उसने मेरे मुंह के अन्दर माल छोड़ दिया | उसके बाद हमने तीन बार और चुदाई किये | मैं अभी भी उससे रोज चुद्वाती हूँ | मुझे उसके लंड से प्यार है |

तो दोस्तों, ये थी मेरी कहानी | मैं उम्मीद करती हूँ कि आप सभी को मेरी कहानी जरुर पसंद आई होगी |


Comments are closed.