चार्ली की चुदाई और मेरी अन्तर्वासना

Charlie ki chudai aur meri antarvasna:

चूत के भूखो तुम लोगो को आज एक नई कहानी बताने जा रहा हूँ | यह कहनी पढ़ कर तुम लोगो की चूत की भूख और बढ़ जाएगी और तुम लोग चोदने के लिए बेताब हो जाओगे | तुम लोगो को इस कहानी को पढ़ते समय जरुर मुट्ठ मारना पड़ेगा |

चूत के भूखो मैं जबलपुर का हूँ और मुंबई में रहता हूँ और मेरा नाम अलोक है | मेरी उम्र 26 साल है मेरी एक बीवी है और दो बच्चे है | वो भी मेरे साथ मुंबई में रहते है | मैं मुंबई में फिल्म सिटी में फिल्मो में काम करता हूँ छोटे मोटे रोल्स | अब में अपनी कहानी में आता हूँ | मैं जब छोटा था तो मेरे स्कूल स्कूल टाइम में मेरी एक फ्रेंड थी वो मुझे बहुत अच्छी लगती थी उसका नाम चार्ली था | वो बहुत क्यूट और सेक्सी थी उसके अलावा मुझे कोई भी लड़की अच्छी नहीं लगती थी | हम दोनों स्कूल टाइम से बहुत अच्छे दोस्त थे | और हमेशा एक दूसरे के साथ में रहते थे | चार्ली मुझे बहुत लाइक करती थी और मैं भी उसे बहुत लाइक करता था | हम दोनों की मोबाइल में भी बातें होती रहती थी | चार्ली के मम्मी पापा मुझे बहुत अच्छे से जानते थे और चार्ली की मम्मी तो यह भी जानती थी कि मैं चार्ली का बहुत अच्छा दोस्त हूँ | मेरे मम्मी पापा भी जानते थे कि मैं और चार्ली बहुत अच्छे दोस्त है | चार्ली का मन जब भी मुझसे मिलने को करता था तो वो मुझसे मिलने मेरे घर आ जाती थी | मैं भी कभी भी किसी भी टाइम चार्ली के घर उससे मिलने चला जाता था | हम दोनों की फ़ोन में भी बात होती थी | चार्ली हमेशा मुझे रात में फ़ोन लगाया करती थी जब उसके मम्मी पापा सो जाया करते थे | वो मुझे बहुत ज्यादा प्यार करती थी | हम दोनों से एक दुसरे से हर बात शेअर कर लेते थे और सेक्सी बातें भी करते थे | वो हमेशा रात में मुझसे कहती रहती की घर आ जाओ कोई नहीं है | फिर एक दिन मुझे चार्ली को चोदने की बहुत इच्छा होने लगी | फिर जब चार्ली दूसरे दिन मेरे घर आई तो मैंने चार्ली से बोला चार्ली मुझे कल तुमको चोदने की बहुत इच्छा हो रही थी | मुझे तुमको चोदने का बहुत मन कर रहा है | यह बात सुनकर चार्ली हसने लगी कि जब मैं तुमको रात में घर बुलाती थी तो तुम आते नहीं थे | तुमको बस चोदने की इच्छा नहीं हो रही | मुझे भी तुमसे चुदने की इच्छा हो रही है इसलिए मैं तुमको रात में अपने घर बुलाया करती थी | लकिन तुम आने को तैयार ही नहीं होते थे | फिर मैंने चार्ली से कहा अच्छा कोई बात नहीं में रात में नहीं आ सकता था उस दिन | लेकिन अब मुझे तुमको चोदना है | फिर चार्ली कहने लगी कि आज अभी चोद लो मुझे मुझे भी बहुत इच्छा हो रही है तुमसे चुदने की | लेकिन उस समय मेरे मम्मी पापा घर में ही थे तो मैंने चार्ली से कहा की अभी मम्मी पापा घर में है कहाँ चोदु तुमको और फिर चार्ली भी कहने लगी कि मेरे मम्मी पापा भी घर पर है | एक काम करो मैं तुमको रात में जब मम्मी पापा सो जायेंगे तब फोन करुँगी तो तुम आ जाना | आज मैं अपने घर के सबसे पीछे वाले कमरे में रहूंगी | वहाँ पर तुमको कोई आते जाते नहीं देख पायेगा मैं पीछे वाला कमरे का दरवाजा खोल कर रखूंगी | फिर मैंने उसे बोला ओके तुम मुझको फ़ोन लगाना ज़रूर क्योकि मुझे आज तुमको चोदना ही है किसी भी हालत में | मेरा लंड कब से तुमको चोदने के लिए तरस रहा है | फिर उसके बाद चार्ली को मैंने घर जाने के लिए कहा | तो वो मुझसे कहने लगी कि पहले किस दो मुझे अभी फिर जाउंगी मैं अपने घर | फिर मैंने उसे कहा कि अभी नहीं मम्मी पापा घर पे है में रात में ही आके तुमको बहुत किस करूँगा और तुमको बहुत चोदुंगा अब तुम जाओ घर | मुझे कंडोम लेने जाना है | लेकिन वो नहीं मान रही थी | वो मुझसे कहने लगी कि पहले मुझे किस करो फिर जाउंगी मैं घर चार्ली बहुत जिद्दी थी | फिर उसके बाद मैं उसे अपने कमरे में लेकर गया उपर और फिर उसे किस किया | चार्ली के होंठ इतने मस्त थे कि जब मैंने उसे किस किया तो उसे छोड़ने मन ही नहीं कर रहा था | ऐसा लग रहा था कि यहीं चार्ली को चोद डालू और चार्ली भी मुझे छोड़ ही नहीं रही थी बस किस करे जा रही थी | वो कहने लगी कि अभी चोद लो बहुत मन कर रहा है मेरी चूत बहुत तड़प रही है तुम्हारे लंड के लिए | फिर मैंने कहा अभी नहीं मम्मी पापा आ जायंगे मैं आज रात में तुम्हारे घर आ ही रहा हूँ | तभी चोदुंगा जी भर के तुमको | तब भी वो नहीं मान रही थी और किस करे जा रही थी और मेरे हाथ पकड़कर अपने दूध दबवाने लगी | मैंने उस समय चार्ली के दूध पहली बार दबाये और उसके दूध बहुत मस्त थे | दबाने में बहुत मजा आ रहा था | मुझे तो उसके दूध पीने की इच्छा होने लगी | फिर उसके बाद मम्मी मुझे बुलाने लगी तो फिर मैं चार्ली से बोलने लगा कि मम्मी बुला रही है अब बस तुम घर जाओ मैं रात में आकर तुमको बहुत चोदुंगा | फिर बड़ी मुश्किल से चार्ली ने मेरी बात मानी और घर चली गयी | उसके बाद मुझे रात का इंतजार सताने लगा और मैंने कंडोम का भी इंतजाम करके रख लिया | मैंने अपनी मम्मी से बता दिया कि मम्मी मैं आज अपने दोस्त के यहाँ रहूँगा रात में उसके मम्मी पापा कही बाहर गए हुए है | तो मम्मी ने मुझे परमिशन दे दी और मैं चार्ली को चोदने के लिए पहली बार अपनी मम्मी से झूठ बोलके निकल गया | फिर उसके बाद रात हो गयी और में अपनी मम्मी से बता कर दोस्त के यहाँ चला गया और फिर उसके बाद रात में जब चार्ली के मम्मी पापा सो गए तब चार्ली का फ़ोन आ गया और वो कहने लगी कि जल्दी आ जाओ मैंने पीछे वाले कमरे का दरवाजा खोल कर रखा है | आराम से आना | कोई देख न पाए तुमको अंदर आते हुए | फिर मैं चार्ली के घर गया और मुझे उसके घर के अंदर जाते हुए कोई नहीं देख पाया | उसके बाद मैं बहुत खुश हो गया और चार्ली भी बहुत खुश हो गयी | वो बिलकुल चुदने के लिए तैयार थी | चार्ली रात में बहुत सेक्सी लग रही थी | फिर उसके बाद मैंने दरवाजा बंद कर दिया और जैसे ही मैंने दरवाजा बंद किया चार्ली मुझे किस करने लगी और कहने लगी आई लव यू मेरी जान मैं भी चार्ली को किस करने लगा | चार्ली को किस करने में अलग ही मजा था | मुझे उसे किस करने में बहुत मजा आ रहा था उसके होंठ बहुत मीठे थे | उसके बाद चार्ली ने अपने कपडे उतार दिए और अपनी ब्रा भी उतार दी और और मुझसे अपने दूध दबवाने लगी और उसके बाद अपने दूध मुझे पिलाने लगी | मुझे बहुत मजा आ रहा था और चार्ली को भी अपने दूध पिलाने में बहुत मजा आ रहा था | मैं बहुत देर तक चार्ली को किस करता रहा और उसके दूध दबाता रहा और उसके मस्त चिकने दूध पीता रहा |

चार्ली आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः आआहाआह ऊउन्न् आहाहाह ऊउम्म्म ऊनंह अआहा आअह्ह्हाअ अहहहः अहहाआअ ऊउन्न ऊउम्म्ह आआनाहा ऊउन्न्ह ऊम्म्ह आहाहाहा ऊनंह ऊउम्ह आहाहहा ऊउन्न्ह ऊउम्म्ह अहहहः करने लगी और फिर उसके बाद चार्ली चोदने के लिए कहने लगी कि जल्दी चोदो मुझसे रहा नहीं जा रहा है | मेरी चूत तुम्हारे लंड के लिए तड़प रही है और अआह्हह अआह्ह आह्ह्ह्ह करने लगी | फिर मैंने चार्ली को ज़मीन पर लेटा दिया और अपने लंड पे कोंडम पहन कर चार्ली की मस्त चूत में लंड डाला | चार्ली की चूत इतनी प्यारी थी कि क्या बताऊ | जैसे ही मैंने चार्ली की चूत में अपना लंड डाला तो इतना आनंद आया पर वो चिल्लाने लगी | चार्ली आह्ह्ह आःह ऊह्ह ऊह्ह करने लगी और फिर जब में चार्ली को चोदने लगा तो चार्ली को भी बहुत मजा आ रहा था | वो उपर होकर मुझसे चुदवा रही थी और बहुत आह्ह्ह आह्ह्ह अआह्हह ऊउह्ह ऊह्ह ऊह्ह कर रही थी | मैं चार्ली को बहुत चोद रहा था और पूरी रात चार्ली को चोदा और सबसे ज्यादा उसके दूध पिए | चोदते समय बार बार मुझे वो अपने दूध पिला रही थी उसे भी दूध पिलाने में बहुत मजा आ रहा था और चुदने में भी | फिर मैंने अपना लंड चार्ली के मुह में डाल दिया और चार्ली मेरा लंड पीने लगी और मैं आह आह ऊह्ह ऊह्ह करने लगा | थोड़ी देर बाद सुबह होने लगी तो मैं घर चला गया जल्दी ताकि कोई मुझे देख न ले घर जाते हुए | फिर उसके बाद चार्ली को मैंने अपने घर भी बुलाया था चोदने के लिए |


Comments are closed.