भाभी को चोदने का मन पूरा हुआ

Bhabhi ko chodne ka man pura hua:

hindi sex stories, bhabhi sex stories

हाय फ्रेंड्स, कैसे हैं आप सब ? मैं आशा करता हूँ कि आप सभी अच्छे होंगे | मेरा नाम सुनील है और मैं रीवा के रहने वाला हूँ | मेरी उम्र 26 साल है और मैं अभी जॉब ढूंढ रहा हूँ | मैं दिखने में सांवला हूँ और मेरी हाईट 5 फुट 8 इंच है और मेरा बदन भी गठीला है | दोस्तों मैं इस साईट का बहुत पुराना पाठक हूँ और रोज ही यहाँ पर कहानियां पढ़ कर मजे लेता हूँ | मुझे इन सभी कहानियों में सिर्फ भाभी वाली कहानियां ज्यादा रोमांचित लगती हैं | फ्रेंड्स, आज जो मैं आप लोगो के समक्ष अपनी कहानी पेश करने जा रहा हूँ ये मेरी पहली कहानी है और मेरे जीवन की एक दम सच्ची कहानी है | मैं उम्मीद करता हूँ कि आप सब को मेरी कहानी जरुर पसंद आएगी | तो अब मैं आप लोगो का ज्यादा समय नहीं लूँगा और अपनी कहानी पर आता हूँ |

ये घटना कुछ समय पहले की है | मेरे घर में मेरे मम्मी पापा, दादा दादी, हम दो और बड़े भाई रहते हैं | मैं उनमे से मंझला हूँ | मैं बहुत ही चुदक्कड़ किस्म का लौंडा शुरू से ही रहा हूँ | मुझे चुदाई बहुत पसंद है | स्कूल के समय में मैंने तीन लड़कियाँ सेट की था और फिर उन्हें चोदा भी था | फिर जब मैं कॉलेज में गया तब मेरी एक गर्लफ्रेंड बनी पर साली ने मुझे एक किस तक नही दिया इसलिए मैंने उसके साथ ब्रेकअप कर लिया | मेरे घर वाले मेरे बड़े भाई की शादी हो चुकी है और उनको एक छोटा सा बेटा भी है | बड़े भैया आर्मी मैन हैं इसलिए उनकी पोस्टिंग यहाँ वहां होती रहती है | वो बहुत ही कम घर आ पते हैं | मेरा जो छोटा वाला भाई है वो बिट्स पिलाने से पढाई पूरी कर रहा है | पापा ऑफिसर रैंक में है इसलिए हमे कभी भी किसी चीज़ की दिक्कत नहीं होती | मेरे घर में सबसे बिगड़ा लड़का मैं ही निकल गया क्यूंकि | ग्रेजुएशन होने के बाद भी मैं खाली बैठा हूँ | मेरी भाभी का नाम सुलोचना है और वो दिखने में बहुत ही खूबसूरत है | वो दिखने में बहुत ही सेक्सी भी हैं | उनके मस्त दूध और मस्त गांड देख कर तो मेरा लंड चोदने को करने लगता है | पर भाभी की मर्जी के बिना चोदना ये संभव नहीं था मेरे लिए | पर कुछ समय से मैं नोटिस कर रहा था कि भाभी मेरी तरफ चुदासी भरी नजरो से देखती और मुझे देख कर कभी अपने दूध के पास खुजलाती तो कभी अपनी गांड मटका मटका कर चलती | मैं भी कभी कभी मजाक में बोल देता की भाभी आप को तो मोडल बनना चाहिए था क्यूंकि आप बहुत ही सेक्सी चाल चलती हो | भाभी भी मेरे मजाक को सीरियस ले लेती |

ऐसे ही हमारे बीच मस्ती मजाक चलता रहता था | लेकिन एक दिन भाभी मेरे कमरे में रात को आई और कहने लगी की मुझे तुमसे चुदाई चाहिए है | तो मैंने भी कहा हाँ भाभी चोदना तो मैं भी आपको कबसे चाहता हूँ लेकिन बिना आपकी इजाजत के नहीं | मैं कई बार आपके नाम की मुट्ठ मारता था और जब आपकी ब्रा और पेंटी बाथरूम में सुखाने के लिए डालती तो मैं उसके सूंघ कर भी मुट्ठ मार लेता था | फिर एक दिन जब हमारा घर खाली था तब मैंने उसे पीछे से जा कर पकड़ लिया और उसकी गाड में अपना लंड फंसाते हुए उसको बांहों में भर लिया | मैं अपने दोनों हाँथ को आगे कर के मम्मो को मसलने लगा और उसकी गरदन को चाटने लगा तो वो कहने लगी जान इतनी भी क्या जल्दी है आराम से करो न | तो मैंने उसके मम्मों को मसलते हुए कहा कि जान अब तो बस तुझे चोद कर ही आराम करूँगा | फिर मैंने उसे अपनी तरफ किया और उसके होंठ पर अपने होंठ रख दिए और उसके होंठ को चूसने लगा तो वो भी मेरा साथ देते हुए मेरे होंठ को चूसने लगी | मैं उसके होंठ को चूसते हुए उसके चूतड़ भी सहला रहा था और वो भी मेरे होंठ को चूसते हुए मेरी गांड दबा रही थी |

हम दोनों ने 15 मिनट तक चूसा एक दूसरे के होंठ को | उसके बाद मैंने अपनी टी-शर्ट को उतार दी और बनियान भी | अब मैं ऊपर से पूरा नंगा था | फिर वो मेरे छाती के बालो को सहलाने लगी और मेरे निप्पलस को चूसने लगी तो मैं मजे लेने लगा | उसके बाद वो पलंग पर बैठ गई और मेरे जीन्स के बटन को खोल कर उसे उतार दिया और उसके बाद मेरे अंडरवियर को भी उतार कर मुझे पूरा नंगा कर दिया | फिर वो मेरे लंड को अपने हाँथ में ले कर हिलाने लगी और जब मेरा लंड तन गया तो वो मेरे लंड के टोपे को पीछे खिसका कर जीभ से सहलाने लगी तो मेरे मुंह से आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह की सिस्कारियां निकलने लगी | वो मेरे लंड को बहुत ही प्यार से चाट कर तर कर रही थी और मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्करिया भर रहा था | उसके बाद वो मेरे दोनों गोटों को अपने मुंह में ले कर चूसने लगी तो मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मुट्ठ मारने लगा | उसके बाद उसने मेरे लंड को अपने मुंह में डाल कर चूसने लगी तो मैं आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए उसके बालो को संवारने लगा | वो मेरे लंड को जोर जोर से आगे पीछे करते हुए चूसे लगी तो मैं भी आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए अपना लंड उसके मुंह से अन्दर बाहर करने लगा | उसने मेरे लंड को करीब 10 मिनट तक चूसा | उसके बाद मैंने उसकी साड़ी का पल्लू नीचे किया और ब्लाउज के हुक को खोल कर उतार दिया |

अब वो मेरे सामने ब्रा में थी और मैं ब्रा के ऊपर से ही उसके बड़े मम्मों को मसलने लगा और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां लेने लगी | कुछ मिनट बाद मैंने उसके ब्रा को भी उतार दिया और ऊपर से नंगी कर दिया | फिर मैंने उसके मम्मों को अपने मुंह में ले कर बारी बारी से चूसने लगा तो वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मेरे सिर पर हाँथ फेरने लगी | उसके बाद मैंने उसकी साड़ी को उतार कर अलग कर दिया और पेटीकोट भी उतार दिया | फिर मैंने उसे लेटाया और वो उसके दोनों हाँथ और दोनों पैर को चूमने लगा तो वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए आन्हे लेने लगी | फिर मैंने उसकी पेंटी कोट को भी उतार दिया और उसे भी पूरा नंगी कर दिया | मैंने उसके दोनों पैरो को फैला दिया और अपनी जीभ से उसकी मादक चूत को चाटने लगा तो वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए जोर जोर से सिस्कारियां लेने लगी |

मैं उसकी चूत चाटते हुए उसके मम्मों को भी मसल रहा था और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां लिए जा रही थी | फिर मैंने अपने लंड को उसकी चूत पर टिकाया और लंड से उसकी चूत को सहलाने लगा | फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत में घुसेड दिया और चोदने लगा तो वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए चुदाई के मजे लेने लगी | मैं जोर जोर से उसकी चूत को चोद रहा था और साथ में दोनों मम्मों को मसल रहा था और वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए सिस्कारियां ले रही थी | उसके बाद मैंने उसके घुटनों को मोड़ दिया और फिर से अपने लंड उसकी चूत में डाल कर चोदने लगा तो वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए मदहोश होने लगी | उसके बाद मैंने उसे कुतिया बना दिया और पीछे से लंड डाल कर चोदने लगा तो वो आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह आहा ऊंह ऊम्ह करते हुए नीचे हाँथ कर के मेरे दोनों गोटों को सहलाने लगी | फिर कुछ ही मिनट के बाद मैंने उसकी चूत में ही झड़ गया |

तो दोस्तों ये थी मेरी कहानी | मैं उम्मीद करता हूँ कि आप सब को मेरी कहानी पसंद आई होगी |


Comments are closed.