आज तो चुद गयी तेरी चूत

Aaj to chud gayi teri chut:
desi chudai ki kahnai

हैलो भाइयों और दोस्तों मैं आकाश चौकसे आपके लिए अपनी हॉट और सैक्सी कहानी लेकर हाज़िर हूँ | मैं बहुत दिनों से सैक्स की कहानियां पढ़ रहा था लेकिन लिखने का समय मुझे आज मिला है और मैंने भी सोचा बहुत दिनों से दूसरों से ले रहा था अब देने का वक़्त है प्रेरणा | तो ये मेरी पहली कहानी है अगर कोई गलती हो जाए तो माफ़ करो न करो कोई फर्क नहीं पड़ता | तो पहले मैं अपने बारे में थोडा बहुत बता दूँ मैं उत्तराखंड का रहने वाला हूँ लेकिन अभी बैंगलोर में एक मॉल में काम करता हूँ | काम कुछ ज्यादा बड़ा नहीं है थोडा बहुत मैनेज करना पड़ता है लेकिन बहुत सारी लड़कियों से बात करने को जो मिलता है, मैं तो उसी में खुश रहता हूँ | चलिए बहुत हो गई बकवास सीधा कहानी पर चलते है |

तो जैसा की मैंने बताया कि मैं मैनेजर हूँ और बहुत सी लड़कियों से मेरा मिलना जुलना होता रहता है | कभी कभी मैं कैमरा रूम में भी जाके बैठ जाता हूँ | एक बार मैंने देखा कि एक लड़की ने एक काउंटर से कुछ उठा लिया और जाने लगी | मैं फ़ौरन मेन गेट की तरफ भगा और उस लड़की को पकड़ लिया लेकिन मैंने कुछ नाटक नहीं मचाया और उसको लेकर अपने केबिन में गया और उसको बैठा दिया | आपको लगा रहा होगा ऐसा तो बहुत सी ब्लू फिल्मों में भी होता है, तो ठीक है कुछ ब्लू फिल्में सत्य घटना पे भी आधारित होती है | तो मैंने उस लड़की को उसकी रिकॉर्डिंग दिखाई और कहा जो भी चुराया है वापस दो वरना केस कर दूंगा | उसने अपने पर्स से मोबाइल निकाल के टेबल पर रख दिया और कहा प्लीज़ ऐसा मत करना, तो मैंने सोचा इसका और फायदा उठा लेते है, तो मैंने कहा देखो मैं किसी को कुछ बताऊंगा लेकिन तुम्हें मेरे लिए कुछ करना होगा | वो बिलकुल शांत हो गई जैसे उसे सब कुछ समझ में आ गया हो और ये सोच रही हो क्या करना है ? वो वैसे भी शकल से रंडी की तरह लग रही थी लेकिन जैसी भी थी माल थी इसलिए तो मेरी नियत फिसल गई थी | फिर उसने कहा क्या करना है ? तो मैंने कहा वही जो तुम सोच रही थी, तो उसने कहा प्लीज़ मुझे जाने दो | तो मैंने कहा मैंने कब रोका है मेरा काम कर दो और जाओ |

तो वो खड़ी हुए और उसने अपना स्कार्फ उतार के टेबल पर रखा और अपने कपडे उतारने लगी | उसने अपने पूरे कपडे उतारे और अपने दूध पर हाँथ रखके खड़ी हो गई और मुझे देखने लगी | मैंने दरवाज़े पे चेक किया कि लॉक लगा है की नहीं और जाके उसकी चूत पर हाँथ फिराने लगा | वो कोई रिएक्शन नहीं दे रही थी तो मैंने उसकी चूत में दो ऊँगली डाली और उसके बाद उसकी सिसकियाँ निकलना शुरू हो गई | फिर मैंने ज़िप खोलके लंड बाहर निकाला और उससे कहा चूसो और वो नीचे बैठके चूसने लगी | थोड़ी देर बाद मैंने उसको उठाया और कहा टेबल पे बैठा दिया और उसकी चूत पे लंड घिसने लगा और वो चुपचाप बैठी रही | फिर मैंने लंड उसकी चूत में डाल दिया और उसको चोदने लगा और वो बहुत धीरे धीरे सिसकियाँ लेने लगी आह्ह्ह अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह आआअ ह्ह्ह्ह | फिर मैंने थोड़ी देर बाद अपनी रफ़्तार बढ़ाई और पूरा लंड डालकर उसको चोदना शुरू किया और अब उसकी सिसकियों की आवाज़ बढ़ गई आह्ह्हह्ह अह्ह्ह्हह अह्ह्ह्हह अह्ह्ह्हह आआआ ह्ह्ह्हह अह्हह्ह्हः अह्ह्ह्हह्ह | थोड़ी देर उसको चोदने के बाद मैंने उसको उतारा और नीचे बैठा के उसके मुंह में लंड दे दिया और वो चूसने लगी | जैसे ही मेरा मुट्ठ निकलने को हुआ तो मैंने उसका मुंह पकड़ लिया और पूरा माल उनके मुंह में ही गिरा दिया | फिर मैंने उससे कहा पी जाओ वरना केस कर दूंगा और बेचारी को मजबूरी में उसे पीना पड़ा | उसके बाद वो चली गई और कभी माल में नहीं आई |

खैर ये तो हो गई एक बात ऐसी ही एक और कहानी है | एक बार की बात है मैं अपने केबिन में बैठा था तभी मुझे कॉल आया कि नीचे सिस्टम में कुछ प्रॉब्लम है चेक कर लो और मैं देखने चला गया | उस सिस्टम पे लड़की बैठती थी और सिस्टम कुछ नहीं हुआ था बस उसकी पिन ढीली हो गई थी | उस वक़्त वहाँ कोई नहीं था और वो लड़की जिसका नाम पायल था वो मुझे पसंद करती थी लेकिन मैं ज्यादा भाव नहीं देता था | मैं वहां थोड़ी देर रुका और उसको कुछ बातें समझाई और वापस आ गया | मैंने ऐसे ही उसके रूम का कैमरा चेक किया तो मैंने देखा कि वो मोबाइल कुछ देखकर अपनी चूत रगड़ रही थी | मैंने उसके मोबाइल पे ज़ूम किया तो मैंने देखा कि ये मेरी फोटो थी जो शायद उसने कुछ देर पहले ही ली थी जब मैं वहां बैठा था | मेरे दिमाग की घंटी बजी मैंने सोचा मौका क्यों हाँथ से जाने दिया जाए, तो मैं लपक के उसके पास पहुँच गया और मैंने कहा पायल एक मिनिट फ़ोन देना कॉल करना है मेरा फ़ोन बंद हो गया है | उसने फ़ोन दिया और मैं बाहर आ गया और उसकी गैलरी चेक करने लगा और उसमें मैंने अपनी बहुत सारी फोटोस देखी | मैं वापस गया और उसको मोबाइल दिखाते हुए पूछा ये क्या है पायल ? तो वो शांत हो गई |

तो मैंने कहा देखो मैंने अभी अभी देखा तुम्हें जो तुम कर रही थी कैमरे में, ऐसा क्यों करती हो ? तो उसने कहा सॉरी सर आगे से ऐसा नहीं होगा | मुझे लगा ये तो कहीं और ही जा रही है, मुझे इसको वापस लाइन पे लाना होगा | तो मैंने कहा देखो गलत मत समझो और अगर कुछ है तो बता दो मुझे, वैसे मैं भी तुम्हें काफी पसंद करता हूँ | उसने मेरी तरफ प्यार से देखा और झट से आके मेरे गले लग गई और आई लव यू आई लव यू बोलने लगी | फिर मैंने उसकी गर्दन पे किस किया और वो मुझे और जोर से लिपट गई | फिर मैंने उससे कहा अरे रुको और उसको हटाया और जाके दरवाज़ा बंद कर दिया | फिर मैंने कैमरा बंद किया और जाके उसको किस करना शुरू कर दिया | वो भी किस करने मेरा साथ दे रही थी और किस करते करते मेरे लंड के ऊपर भी हाँथ फिरा रही थी | हम दोनों बहुत देर तक किस करते रहे और एक दूसरे के बदन को सहलाते रहे | फिर हम रुके और पहले उसने मेरे कपडे उतारे और उसके बाद मैंने उसके | जब दोनों ने एक दूसरे को पूरी तरह से नंगा कर दिया, तो हम दोनों फिर से चिपक गए लेकिन इस बार मैंने उसको पीछे से पकड़ा था और अपना लंड उसकी गांड में दबाते हुए उसकी गर्दन पर किस कर रहा था |

फिर मैंने उसके दूध पकड़े और दबाने लगा और वो उम्म्म्म उम्म्म्म उम्म्म्म म्मम्मम उम्म्म्म उम्म्मम्म करने लगी | फिर वो घूम गई और मैंने उसको टेबल पर बैठा दिया और उसके पेट को चूमने लगा और नीचे जाते जाते उसकी चूत चाटने लगा | वो अपने दूध दबाते हुए सिस्कारियां ले रही थी अह्ह्ह अह्ह्ह्हह अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह अह्ह्ह्ह आआअ ह्ह्ह्ह अह्हह्ह्हः | फिर मैंने उसकी चूत में लंड डाल कर उसको चोदना शुरू कर दिया और वो अह्ह्ह अह्ह्ह्हह अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह अह्ह्ह्ह आआअ ह्ह्ह्ह आआअ करने लगी | वो बहुत मज़े ले रही थी और इसको देख के मुझे वो पहले की याद आ गई जो बिलकुल ही ठंडी पड़ी हुई थी चुदाई के वक़्त | मैंने उसको थोड़ी देर तक उसी तरह चोदा और फिर मैंने उसको घुमाके खड़ा कर दिया और पीछे से उसकी चूत में लंड डालके उसकी चूत मारना शुरू कर दिया और वो मज़े से अह्ह्ह अह्ह्ह्हह अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह अह्ह्ह्ह आआअ ह्ह्ह्ह कर रही थी | मैं अब जोर जोर के झटके मारने लगा और वो जोर जोर की सिस्कारियां लेने लगी और इसी तरह मैं उसको चोदता रहा | थोड़ी देर बाद मेरा माल निकलने को हुआ तो मैंने लंड बाहर निकाला और उसकी गांड के ऊपर गिरा दिया और वहीँ रखी कुर्सी पर बैठ गया |

उसने अपनी पैंटी से अपनी गांड साफ की और मेरे सामने बैठके मेरा लंड चूसने लगी और हलके से हिलाते हुए चूसती रही | थोड़ी देर बाद मेरा फिर से लंड खड़ा हो गया और वो मेरे ऊपर बैठ गई और मेरा लंड अपनी चूत में डालके उचकने लगी | वो थोड़ी देर तक उचकती रही और अह्ह्ह अह्ह्ह्हह अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्हह अह्ह्ह्ह आआअ ह्ह्ह्ह अह्ह्ह अह्ह्ह्ह अह्ह्ह्ह अआआआ करती रही | फिर मैंने उसको फिर से टेबल पे बैठाया और फिर से उसकी चूत में लंड डालके जोर जोर के झटके मारना शुरू कर दिए लेकिन इस बार पहले से ज्यादा तेज़ थे और इस बार उसकी सिसकियों की आवाज़ और बढ़ गई | थोड़ी देर बाद मेरा झड़ गया और मैंने उसके पेट के ही ऊपर माल झड़ा दिया | उसके बाद बहुत बार हमने चुदाई की और उसके बाद उसने काम छोड़ दिया |


Comments are closed.