Archive for September, 2019

भाभी के हाथ की चाय का मजा

Antarvasna, sex stories in hindi: Bhabhi ke hath ki chay ka maja मैं मेरठ का रहने वाला हूं और मेरठ में मैं अपने पिताजी की दुकान को संभालता हूं। हमारी दुकान में हमारे काफी पुराने कस्टमर आया करते है लेकिन मैं चाहता था कि दुकान में मैं कुछ बदलाव करूं क्योंकि समय के साथ दुकान […]


चूत से तेल निकाल दिया

Antarvasna, hindi sex kahani: Chut se tel nikaal diya मेरा नाम शैफाली है मैं लखनऊ की रहने वाली हूँ मेरी शादी अभी कुछ समय पहले ही हुई है मेरी शादी लखनऊ में ही हुई है। मेरे पिताजी का बहुत बड़ा बिजनेस है उन्होंने हमारी सारी जरूरतों को पूरा किया है लेकिन जब से मेरी शादी […]


प्यार दोबारा शुरु हो गया

Antarvasna, sex stories in hindi: Pyar dobara shuru ho gaya मेरा नाम शिवम है मैं पुणे का रहने वाला हूं मेरी शादी को हुए अभी सिर्फ एक साल ही हुआ था। मेरी और पायल की लव मैरिज है पायल मुझे एक इवेंट के दौरान मिली थी तब से हमारी प्रेम कहानी शुरू हुई। पायल ने […]


मेरा मन चुदने का होने लगा

Antarvasna, hindi sex kahani: Mera man chudne ka hone laga मेरा नाम रुपाली है मैं इंदौर की रहने वाली हूँ शादी के बाद मैं अपने पति के साथ दिल्ली में रहने लगी। मेरे पति भी इंदौर के ही रहने वाले है परन्तु अपनी जॉब के चलते वह दिल्ली में ही रहते है इंदौर हमारा आना […]


चूत पर मोहर लगा दी

Antarvasna, desi kahani: Chut par mohar laga di मेरा नाम राजीव है मैं बिहार का रहने वाला हूं परन्तु मैं अपने बीवी बच्चो के साथ मुम्बई में रहता हूँ। मैं मुंम्बई में जॉब करता हूँ मेरी जॉब को लगे हुए सात साल हो चुके है तब से मैं मुम्बई में रह रहा हूँ। मेरा अपने […]


मै इंतजार करूंगी

Antarvasna, hindi sex kahani: Mai intjar karungi मैं और मेरे भैया मौसी के घर गए हुए थे मौसी घर पर अकेली रहती हैं उनके दोनों बच्चे विदेश में रहते हैं। उनकी देखभाल के लिए घर पर एक नौकरानी रहती है लेकिन कुछ दिनों से मौसी की तबीयत ठीक नहीं थी इसलिए हम दोनों भाइयों को […]


ऐसे पिचकारी मारी कि वह मेरी हो गई

Antarvasna, hindi sex stories: Aise pichkari maari ki wah meri ho gayi रमेश काफी महीनों बाद अपने घर लौटा था वह पुणे में नौकरी करता है और जब वह घर लौटा तो वह मेरे पास आया हुआ था रमेश मेरे कॉलेज का दोस्त है। हम दोनों साथ में बैठे हुए थे रमेश ने मुझे कहा […]


खुशी का ठिकाना ना रहा

Antarvasna, kamukta: Khushi ka thikana na raha रविवार का दिन था और सब लोग घर पर ही थे उस दिन जब दरवाजे की डोर बेल बजी तो मैंने दरवाजा खोला दरवाजे पर मामा जी खड़े थे मामा जी कहने लगे कि संजय बेटा क्या आज तुम घर पर ही हो तो मैंने मामा जी से […]


पेलकर रेल बना दिया

Antarvasna, hindi sex story: मैं रेलवे स्टेशन पर ट्रेन का इंतजार कर रहा था लेकिन ट्रेन अभी आई नहीं थी ठंड का मौसम था इसलिए मैं वहीं पास में एक चाय के स्टॉल में चला गया। मैंने दुकानदार से कहा भैया मेरे लिए कड़क चाय बना देना तो वह कहने लगा ठीक है साहब अभी […]


स्तन पूरे आकार मे थे

Antarvasna, hindi sex story: Stan pure aakar me the सुबह के वक्त मैं मॉर्निंग वॉक पर अपने घर से निकला मैं जब अपने घर से निकला तो मुझे सामने से आती हुई एक लड़की दिखाई दी उसके सुनहरे बाल देख मैं उस पर फिदा हो गया और मैं उसे ही देखता रहा लेकिन मैं उसके […]